Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2019

Shukra Ke Rashi Badalne Ka Prabhav

Shukra Ka Dhani Rashi Mai Praves Hoga 29 Jan Ko, कैसे रहेगा शुक्र का धनु राशि में प्रवेश, जानिए वैदिक ज्योतिष से. 
शुक्र ग्रह को अंग्रेजी में वीनस कहते है, गोचर कुंडली में अभी तक शुक्र वृश्चिक राशि में चल रहा था परन्तु २९ जनवरी की रात्रि को ये धनु राशी में प्रवेश करेगा जिसके कारण जीवन में बहुत से बदलाव देखने को मिल सकते हैं, आइये देखते हैं की कैसे प्रभावित करेगा शुक्र का धनु राशी परिवर्तन. ज्योतिष के हिसाब से शुक्र ग्रह का सम्बन्ध व्यक्तिगत जीवन से ज्यादा है जैसे प्रेम, भौतिक सुख साधन, मनोरंजन आदि. अतः देखा जाए तो शुक्र का धनु राशि में आना बहुत ही सकारात्मक बदलाव लेके आ सकता है क्यूंकि धनु राशी का शुक्र मित्र का होता है जिससे लोगो में सुख प्राप्त करने की लालसा बढ़ेगी और उसके साधन भी प्राप्त होंगे.  हालांकि शुक्र राशी परिवर्तन करके शनि और चन्द्रमा के साथ बैठेगा जिससे त्रिग्रही योग का निर्माण भी होगा. परन्तु देखा जाए तो शुक्र और शनि भी मित्र ही है जिससे की कोई नुक्सान नहीं करेगा.

पढ़िए कमजोर शुक्र का जीवन पर प्रभाव और उपाय हिंदी ज्योतिष मे >> आइये देखते हैं शुक्र का वृश्चिक से धनु रा…

Sansarik Pralobhano Ka Jaal

सांसारिक प्रलोभनों का जाल, कैसे मनुष्य नश्वर वस्तुओं का आनंद लेते हुए आखरी में पछताता है?, कैसे छला जाता है मनुष्य इस दुनिया में.

||श्री गुरु देव शरणम् || संसार एक ऐसी मायावी दुनिया है जहाँ मनुष्य ने अपनी कल्पनाओं को साकार करते हुए अपने आपको उलझा रखा है और अपने आप से ही दूर हो गया है. इंसान इस दुनिया में आता तो अकेला ही है और खाली हाथ भी, परन्तु इस दुनिया में प्रवेश करते ही वो ना-ना प्रकार के प्रलोभनों में फंसता चला जाता है. बचपन में खिलौने और पढ़ाई, युवा अवस्था में ताकत हासिल करना, विवाह करना, काम क्रीड़ा का आनंद लेना, बच्चे पैदा करना, नौकरी करना, अपने स्टेटस को बढ़ाना, ऐशो आराम की चीजो को बढ़ाते  रहना आदि और इस प्रकार पूरा जीवन कब निकल जाता है पता ही नहीं चलता है. बुढ़ापे में या तो बिस्तर पकड़ के अपनी आखरी सांस की प्रतीक्षा करता है या फिर अपने बच्चो की सेवा चाकरी में लगा रहता है. समय निकलने के बाद पता चलता है की “माया मिली ना राम” भगवान् की सारी रचनाओं में से सिर्फ इंसान ही ऐसी रचना है जिसके पास अथाह शक्ति है, विवेक है. इंसान ने अपनी साधना, तपस्याओ द्वारा असंभव को भी संभव किया है परन्तु इ…

Laxmi Saadhna Rahasya

लक्ष्मी साधना का रहस्य, किन बातो का ध्यान रखना चाहिए लक्ष्मी साधना के लिए.
धन, सम्पन्नता, प्रभावशाली जीवन जीना सभी का सपना होता है और इसके लिए सभी माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने की कोशिश करते रहते हैं. ऐसे बहुत से लोग है जो की लक्ष्मी साधना में सफलता नहीं मिलने की शिकायत करते हैं, कुछ लोग लम्बे समय से साधना कर रहे हैं पर परिणाम नहीं मिल रहा है. कुछ लोग लक्ष्मी साधना शुरू करना चाहते हैं परन्तु मूल बाते पता नहीं हैं.

इस लेख में मैं लक्ष्मी साधना से सम्बंधित रहस्यों को बताने जा रहा हूँ. जो लोग इस साधना को करना चाहते हैं, या कर रहे हैं उनके लिए इस साधना से सम्बंधित तिथियों, दिन, महूरत आदि का ज्ञान विशेष सफलता प्रदान कर सकता है. ऐसा कहा गया है की “भगवान् न तो लकड़ी में है और न ही पत्थर में हैं , भगवान् तो भाव में रहते हैं , सकारात्मक सोच में रहते हैं” और इसी कारण सकारात्मक सोच, अच्छा भाव किसी भी साधना की सफलता के लिए जरुरी होता है. अतः लक्ष्मी साधना का पहला रहस्य है “विश्वास”, माता लक्ष्मी पर भरोसा होना चाहिए जो की अपने भक्तो को धन, सम्पन्नता देने को हमेशा तैयार रहती है. भक्ति भाव के अभाव में…

4 February 2019 Kyu Khaas Hai

अगर आप जानना चाहते हैं एक ऐसे दिन के बारे में जो आपके समस्याओं को दूर करने में आपकी पूरी मदद कर सकता है तो जानिए इस लेख में. ये दिन बहुत ख़ास है क्यूंकि इस दिन हम कर सकते हैं पूजा पाठ, टोटके, साधना जीवन को सफल बनाने के लिए.
फरवरी ४ क्यों ख़ास है समस्याओं को दूर करने के लिए ? जी हाँ ! ज्योतिष के हिसाब से आने वाली ४ फरवरी बहुत ख़ास रहेगी क्यूंकि इस दिन कुछ विशेष योग बन रहे हैं जो जीवन को सुखी बनाने में मदद करेंगे. इस दिन मौनी अमावस्या पड़ रही है जो की पितरों के शांति पूजा के लिए अति महत्त्वपूर्ण है.इस दिन सर्वार्थ सिद्धि का योग भी रहेगा दिन भर जिसके कारण इस दिन का महत्त्व बहुत ज्यादा बढ़ जाता है.इसी दिन कुम्भ का शाही स्नान भी होगा जो की इस दिन के महत्त्व को दर्शाता है. इसी के साथ एक और बात जो ध्यान में रखना चाहिए वो ये की ये अमावस्या सोमवार के दिन पड़ रही है जिसके बारे में कहा गया है की इस दिन किया गया पवित्र स्नान, पूजा पाठ और दान का करोड़ो गुना ज्यादा लाभ मिलता है. उज्जैन में सोमवती कुंड जो की सोमेश्वर महादेव मंदिर के पास में स्थित है में सोमवती अमावस को स्नान करने का विशेष महत्तव है. स्कन्द…

Graho Se Sambandhit Din Aur Bhojan

Graho Se Sambandhit Din Aur Bhojan, लाल किताब में ग्रहों से सम्बंधित दिन और भोज्य पदार्थ, कैसे कम करे बुरे ग्रहों के प्रभाव को और कैसे मजबूत करे शुभ ग्रहों को कुंडली में.

चन्द्रमा ग्रह – इससे सम्बंधित दिन है सोमवार और अगर ये कुंडली में कमजोर हो तो सोमवार को खीर का सेवन करे, चांदी के आभूषण धारण करे, सफ़ेद वस्त्र ज्यादा से ज्यादा धारण करे, माथे पर सफ़ेद चन्दन का तिलक लगाया करे, मोती की अंगूठी या पेंडेंट धारण करे.
परन्तु अगर चन्द्रमा कुंडली में ख़राब हो तो ऐसे में चन्द्रमा से सम्बंधित वस्तुओ का दान करे. मंगल ग्रह – इससे सम्बंधित दिन है मंगलवार और अगर मंगल कुंडली में कमजोर हो तो मंगलवार को लाल मसूर की दाल खाना चाहिए, लाल कपडे धारण करे, मीठी रोटी खाएं और लाल रुमाल पास में रखे.
परन्तु अगर मंगल कुंडली में ख़राब हो तो ऐसे में मसूर दाल का दान करे, लाल वस्त्र दान करे, मंगलवार को मिठाइयाँ बांटे और नियमित रूप से हनुमानजी के मंदिर में जाएँ. बुध ग्रह – इससे सम्बंधित दिन है बुधवार और अगर बुध कमजोर हो कुंडली में तो हरे कपड़े धारण करना हाहिये, पन्ना रत्न पहन सकते है, हरी सब्जियां खा सकते हैं.
परन्तु अगर बु…

Bharat Me Kuch Prasiddh SHIVLING

भारत के कुछ प्रसिद्द शिवलिंग, जानिए पञ्च केदार के नाम, कुछ नामी मंदिर.
भगवान् शिव सवाव्यापी है, सर्वशक्तिमान है, सर्वज्ञ हैं और पूरी दुनिया में हम शिव मंदिर को देख सकते हैं. सभी शिव पर भरोसा करते हैं और उन्हें विभिन्न रूपों में पूजते हैं. शिव मंदिरों को बहुत पवित्र माना जाता है और पूजा, साधना के लिए शक्तिशाली स्थान माना जाता है. इसी कारण लोग यहाँ पूजा करते हैं, विभिन्न प्रकार की साधनायें करते हैं. दशकों से लोग शिवलिंग की पूजा करते आ रहे हैं जीवन को सुखी करने के लिए.
आइये जानते हैं भारत में मौजूद कुछ प्रसिद्द शिवलिंगों को :महाकालेश्वर शिवलिंग जो की उज्जैन में है क्षिप्रा नदी के पास.ओंकारेश्वर और ममलेश्वर शिवलिंग जो की ओंकारेश्वर में मजूद है, नर्मदा नदी के किनारे पर.सोमनाथ शिवलिंग अरेबियन समुद्र के पास भी बहुत प्रसिद्द है. मल्लिकार्जुन शिवलिंग जो की काठियावाड, गुजरात में है भी बहुत प्रसिद्द है. केदारनाथ शिवलिंग जो की हिमालय में स्थित है. भीमाशंकर शिवलिंग जो की भीमा नदी के किनारे है, पुणे के पास.विश्वेश्वर शिवलिंग जो की काशी में है. त्रयम्बकेश्वर शिवलिंग जो की नासिक में है, गोदावरी के तट…

23 Prasiddh Ganesh Mandir

२३ प्रसिद्द गणेश मंदिर, जानिए विश्व प्रसिद्द कुछ दिव्य गणेश मंदिरों के बारे में.
श्री गणेश हिन्दू मान्यता के अनुसार प्रथम पूज्य है और ऐसा माना जाता है की वे सर्व विघ्नों का नाश करने की क्षमता रखते हैं, इसीलिए उनका एक नाम “विघ्नहर्ता” भी हैं.
हालांकि गणेश मंदिर भारत में हर शहर में मौजूद है परन्तु यहाँ पर हम २३ विश्व प्रसिद्द गणेश मंदिरो में बारे में जानेंगे जिनका उल्लेख पुरानो में मिलता है. ये मंदिर देश के अलग अलग जगहों पर मौजूद हैं.
आइये जानते हैं इन गणेश मंदिरों के नाम और जगह जहाँ ये स्थित हैं -ओमकार गणपति की पूजा प्रयाग इलाहाबाद में होती है. धुंडीराज गणपति की पूजा काशी वाराणसी में होती है. चिंतामणि गणेश की पूजा होती है कलमब बरार जो की येवतमाल के पास है.चिंतामन गणेश की पूजा उज्जैन में भी होती है.खजराना गणेश का मंदिर जो की इंदौर में है भी बहुत प्रसिद्द हो गया है इन दिनों. मयूरेश्वर गणेश जी की पूजा मोरेश्वर में होती है जो की पुणे के पास है. शिव गणेश की पूजा राजन गाँव में होती है जो की पुणे में है. पार्वती गणेश की पूजा सह्याद्री , पुणे में होती है. लक्ष विनायक की पूजा होती है जो की बेल…

Rashifal 2019

राशिफल 2019 vedic ज्योतिष के अनुसार, क्या कहते हैं नए साल के सितारे, कैसा रहेगा नया वर्ष, जानिए नौकरी, व्यवसाय, शिक्षा और पारिवारिक जीवन से जुड़ी भविष्यवाणी, पढ़िए ग्रहों की चाल के बारे में ।

नया साल का मालाब है नई ख्वाहिशे, नए सपने, नई उंचाइयो को छूने के लिए नए प्रयास. आने वाला वर्ष क्या ख़ास लाने वाला है ये जानने की उत्सुकता सभी ज्योतिष प्रेमियों को होती है. हर वर्ष कुछ बड़े बदलाव जीवन में लेके आता है, कुछ लोगो के जीवन में चुनौतियाँ बढ़ जाती है, कुछ लोगो को अपार सफलता मिलती है, कुछ राशी में शनि के प्रभाव् के कारण बहुत उथल पुथल भी होता है. ये सब हम जानेगे इस लेख में.

पढ़िए २०१९ में परिवारिक सुख के बारे में, प्रेम विवाह के बारे में, व्यवसाय के बारे में, विवाह आदि के बारे में. हमे ये भी जानेंगे की 2019 को खुशहाल बनाने के लिए मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुम्भ मीन राशी वालो को क्या करना चाहिए. आइये सबसे पहले वर्ष फल को जानते हैं:इस वर्ष के राजा शनि है.मंत्री सूर्य/रवि है. शनि न्याय के देवता है साथ ही एक क्रूर ग्रह भी है जिसके कारण बहुत ही विचित्र प्रभाव देश…

Laghu Nariyal ke Totkay in Jyotish

जानिए लघु नारियल के टोटके ज्योतिष द्वारा, कैसे प्रयोग करे तंत्रोक्त नारियल का, कैसे दूर करे दुर्भाग्य को?.

ऐसा प्रायः देखा जाता है की जो वस्तुएं बहुत साधारण दीखते हैं उनका प्रयोग तंत्र में और ज्योतिष में बहुत ही अच्छे तरीके से किया जाता है | कुछ वस्तुओ का प्रयोग दुर्भाग्य को हटाने के लिए किया जाता है और कुछ का प्रयोग भाग्योदय के लिए किया जाता है विभिन्न तरीको से.  इन्ही कुछ वस्तुओ में से एक है तंत्रोक्त नारियल जिसे हम लघु नारियल के नाम से भी जानते हैं. ये एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण वास्तु है, दिखने में जितना छोटा दीखता उतना ही तीव्र इसका प्रयोग होता है. व्यापारिक समस्या हो, घरेलु समस्या हो, काला जादू की समस्या हो, कोई बिमारी हो, सभी के इसके टोटके प्रचलित है और लाभ देते हैं. “लघु नारियल या फिर तंत्रोक्त नारियल दुर्भाग्य को दूर करके सफलता के रास्ते खोलता है
आइये देखते हैं लघु नारियल के कुछ आसान टोटके:अगर काला जादू या फिर बहुत खतरनाक बुरी नजर लगी हो तो एक लघु नारियल पर ७ फीट का काला धागा लपेट दे और फर उसे ७ बार सर से पाँव तक घुमाएं फिर उसे अग्नि में जला दे, इससे बहुत लाभ होता है.कुंडली में …

Sachhe Sambandho Ka Sach

Sachhe sambanndho ka sach, jhuthe sambandho ke nuksaan, kaise jaane ki sambandh wakai mai sachha hai, sambandho ko sudharne ke upay, सच्चे संबंधो का सच जानिए.
प्रेम संबंधो के बारे में कुछ समय बाद अलग अलग बातें सुनने में आती है, अक्सर जब संबंधो में किसी एक के न चाहते हुए जब खटास आती है तब बहुत दुःख होता है और व्यक्ति कई प्रकार के सवाल पूछता है जिले की- “मैं उसके बिना रह नहीं सकता/सकती , क्या करू ”हमारे बीच कुछ साले से बहुत अच्छे सम्बन्ध थे , अचानक टूट गया , क्या करे.कोई तीसरा व्यक्ति हमारे बीच आ गया, क्या करे.उसने मुझे धोखा दिया, मुझे उसको सबक सिखाना है आदि अदि ऐसे अनेक प्रकार के प्रश्न चोट खाए हुए व्यक्ति के मन में उठते हैं और जो की वाजिब भी हैं परन्तु सवाल ये उठता है की ऐसा होता क्यों है की प्रेम संबंधो में अचानक परेशानी आती है.  इसके लिए ये जरुरी है की हम सबसे पहले अच्छे संबंधों के बारे जाने, हमे पता होना चाहिए की वास्तविक प्रेम का मतलब क्या होता है, हमे पता होना चाहिए की सच्चा प्रेम सम्बन्ध कैसे प्राप्त किया जाता है या कैसे किया जाता है. अपने आप से कुछ सवाल पूछ कर हम बहुत कुछ जान स…

Laxmi Bandhan Ka Samadhan

लक्ष्मी बंधन क्या होता है, कैसे जाने की तंत्र द्वारा बाँधा गया है, कैसे मुक्ति पायें, जानिए ज्योतिष द्वारा हल लक्ष्मी बंध समस्या का.

ये सवाल अक्सर कई जगहों से हुआ है की हम पर लक्ष्मी बंधन किया गया है, कही से भी आय नहीं हो पा रही है, जबकि पहले सब ठीक चल रहा था. अचानक से व्यापार पूरा ख़त्म हो गया और अब जिस काम में भी हाथ डालते है, घाटा होता है.  जब ऐसा हो तो जरुरी नहीं की हमेशा किसी ने तंत्र द्वारा बाँधा हो, कई बार किसी ख़राब ग्रह के कारण भी ऐसा होता है अतः पूरी तरह जांच करवाने के बाद ही सही प्रयोग करना चाहिये. बहरहाल इस लेख में हम ये जानेनेगे की लक्ष्मी बंधन क्या होता है और कैसे जाने की ऐसा कुछ हुआ है.  आइये जानते हैं की laxmi bandhan क्या है? कई बार ऐसा होता है की किसी का व्यापार या नौकरी बहुत अच्छी चल रही होती है और अचानक से सब ख़त्म हो जाता है, इसका कारण ये हो सकता है की किसी जलने वाले या फिर किसी शत्रु ने जानबुझकर नुक्सान पहुचाने के लिए बंधन प्रयोग किया हो जिसके कारण सब ख़त्म होता जा रहा हो, दिमाग ने काम करना बंद कर दिया हो, जिस भी काम में हाथ डाला जाए, वही नुक्सान हो रहा हो. अगर ऐसा ह…

Jewelry Vyapaar Aur Jyotish

ज्वेलरी व्यापार और ज्योतिष सलाह, कैसे बाधाएं अपने व्यापार को, ग्राहो का प्रभाव कैसा पड़ता है.
गहनों का व्यापार प्राचीन समय से चला आ आ रहा है और हमेशा रहेगा भी. विभिन्न धर्म के लोगो में विभन्न प्रकार के ज्वेलरी पहनने का रिवाज है. लोग अपने घर के देवी देवता को भी आभुशनों से सजाते हैं.  ज्योतिषीय उपाय ज्वेलरी व्यापार के लिए: हालांकि ऐसा देखा जाता है की सुनार लोग बहुत धनी रहते हैं परन्तु ये बात सभी पर लागू नहीं होती है. ग्रहों का असर सभी पर पड़ता है और उसी आधार पर कुछ बहुत ज्यादा सफल होते हैं सुनारी में और कुछ असफल भी होते हैं. एक सफल ज्वेलर उसे कह सकते हैं जो की बाज़ार में बदलाव के हिसाब से लोगो को गहने बना के दे और जिनके पास नए नए ग्राहक आते रहे. सुनारी का व्यापार सट्टे से भी जुड़ा होता है क्यूंकि सोने का भाव रोज बदलता है कब क्या हो जाए इस बात की कोई जानकारी नहीं रहती है, कुछ को बहुत फायदा होता है और कुछ लोगो को बहुत घाटा हो जाता है. ऐसा भी देखा जाता है की बाजार के सही चलने पर भी कोई बहुत घाटा खाता रहता है , इसका कारण कुंडली में मौजूद खराब ग्रह होते हैं या फिर ख़राब ग्रह की दशा का असर भी हो स…

Mangal Grah Se Yaun Shakti Par Kya Asar Hota Hai

यौन प्रवृत्ति को जानिए कुंडली में मंगल ग्रह की स्थिति के अनुसार, जानिए सेक्स की शक्ति को ज्योतिष के माध्यम से, कैसे जाने किसी की यौन शक्ति को, कैसे बढायें अपनी क्षमता ज्योतिष के द्वारा.

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए यौन शक्ति का होना और बना रहना अति आवश्यक होता है. ज्योतिष के माध्यम से भी हम अपने अन्दर और दुसरे के अन्दर की शक्तियों को पहचान सकते हैं. इस लेख में हम इसी विषय को और अधिक समझने का प्रयास करेंगे.

मंगल ग्रह शक्ति का प्रतिक है और किसी के कुंडली में मंगल ग्रह की स्थिति को देखके हम उसके शक्ति का अंदाजा लगा सकते हैं. यौन शक्ति को भी इसी ग्रह के अध्ययन से थोडा बहुत समझ सकते हैं.

आइये देखते हैं मंगल ग्रह के कुछ स्थितियों को:जब मंगल कुंडली के पहले भाव में बैठा हो: ये व्यक्ति को उर्जा और उत्साह से भर देता है. ऐसे व्यक्ति मजबूत सम्बन्ध बनाने की क्षमता रखते हैं. कभी कभी ऐसे लोगो को संतुष्ट करना मुश्किल हो जाता है. ऐसे जातको के जीवन साथी इनके साथ को काफी पसंद करते हैं. अगर मंगल कुंडली के दुसरे भाव में मौजूद हो : ऐसे लोगो को समझना थोड़ा मुश्किल हो जाता है, ऐसे लोग खुद ही नहीं समझ पाते हैं की …

Rashi Anusaar Janiye Yaun Shakti Ko

राशि अनुसार यौन प्रवृत्ति को जानिए ज्योतिष में, १२ राशी और उनके अन्दर मौजूद यौन शक्ति.
हम किसी के राशि का पता करके उनके बारे में बहुत कुछ जान सकते हैं. किसी के यौन शक्ति का अंदाजा भी राशी पता करके कर सकते हैं.

आइये जानते हैं राशी अनुसार शक्ति को : मेष राशी और यौन शक्ति:ऐसे लोग काफी आक्रामक हो सकते हैं सम्बन्ध बनाने के समय. ये काफी शक्तिशाली और निडर होते हैं.मेष राशि के लोग अगर प्रेम करे तो बहुत गहराई से करते हैं.इसका स्टैमिना भी बहुत अच्छा होता है और ये ऐसे ही साथी के खोज में रहते हैं जो शक्तिशाली हो और इनसे अच्छे सम्बन्ध बना सके.ये एक ईमानदार प्रेमी और एक अच्छे जीवन साथी हो सकते हैं.कभी कभी ज्यादा इछाओ के कारण इनको समस्या भी होती है.मेष राशि के लोग की शारीरिक क्षमता भी अच्छी होती है और अपने साथी को हमेशा ही खुश रखने की क्षमता रखते हैं. वृषभ राशि और यौन शक्ति:वृषभ राशि के लोग बहुत अच्छा मनोरंजन कर सकते हैं.सम्बन्ध बनाने के समय ऐसे लोग बहुत अच्छा माहोल बनाते हैं.जीवन साथी इनका साथ काफी पसंद करते हैं.ऐसे लोगो को साथी के साथ सम्बन्ध बनाने के लिए साफ़ और अच्छी जगह की तलाश रहती है.ये बड़े उत…