Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2019

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Shukra Ke Rashi Badalne Ka Prabhav

Shukra Ka Dhani Rashi Mai Praves Hoga 29 Jan Ko, कैसे रहेगा शुक्र का धनु राशि में प्रवेश, जानिए वैदिक ज्योतिष से. 
शुक्र ग्रह को अंग्रेजी में वीनस कहते है, गोचर कुंडली में अभी तक शुक्र वृश्चिक राशि में चल रहा था परन्तु २९ जनवरी की रात्रि को ये धनु राशी में प्रवेश करेगा जिसके कारण जीवन में बहुत से बदलाव देखने को मिल सकते हैं, आइये देखते हैं की कैसे प्रभावित करेगा शुक्र का धनु राशी परिवर्तन. ज्योतिष के हिसाब से शुक्र ग्रह का सम्बन्ध व्यक्तिगत जीवन से ज्यादा है जैसे प्रेम, भौतिक सुख साधन, मनोरंजन आदि. अतः देखा जाए तो शुक्र का धनु राशि में आना बहुत ही सकारात्मक बदलाव लेके आ सकता है क्यूंकि धनु राशी का शुक्र मित्र का होता है जिससे लोगो में सुख प्राप्त करने की लालसा बढ़ेगी और उसके साधन भी प्राप्त होंगे.  हालांकि शुक्र राशी परिवर्तन करके शनि और चन्द्रमा के साथ बैठेगा जिससे त्रिग्रही योग का निर्माण भी होगा. परन्तु देखा जाए तो शुक्र और शनि भी मित्र ही है जिससे की कोई नुक्सान नहीं करेगा.

पढ़िए कमजोर शुक्र का जीवन पर प्रभाव और उपाय हिंदी ज्योतिष मे >> आइये देखते हैं शुक्र का वृश्चिक से धनु रा…

Sansarik Pralobhano Ka Jaal

सांसारिक प्रलोभनों का जाल, कैसे मनुष्य नश्वर वस्तुओं का आनंद लेते हुए आखरी में पछताता है?, कैसे छला जाता है मनुष्य इस दुनिया में.

||श्री गुरु देव शरणम् || संसार एक ऐसी मायावी दुनिया है जहाँ मनुष्य ने अपनी कल्पनाओं को साकार करते हुए अपने आपको उलझा रखा है और अपने आप से ही दूर हो गया है. इंसान इस दुनिया में आता तो अकेला ही है और खाली हाथ भी, परन्तु इस दुनिया में प्रवेश करते ही वो ना-ना प्रकार के प्रलोभनों में फंसता चला जाता है. बचपन में खिलौने और पढ़ाई, युवा अवस्था में ताकत हासिल करना, विवाह करना, काम क्रीड़ा का आनंद लेना, बच्चे पैदा करना, नौकरी करना, अपने स्टेटस को बढ़ाना, ऐशो आराम की चीजो को बढ़ाते  रहना आदि और इस प्रकार पूरा जीवन कब निकल जाता है पता ही नहीं चलता है. बुढ़ापे में या तो बिस्तर पकड़ के अपनी आखरी सांस की प्रतीक्षा करता है या फिर अपने बच्चो की सेवा चाकरी में लगा रहता है. समय निकलने के बाद पता चलता है की “माया मिली ना राम” भगवान् की सारी रचनाओं में से सिर्फ इंसान ही ऐसी रचना है जिसके पास अथाह शक्ति है, विवेक है. इंसान ने अपनी साधना, तपस्याओ द्वारा असंभव को भी संभव किया है परन्तु इ…

4 February 2019 Kyu Khaas Hai

अगर आप जानना चाहते हैं एक ऐसे दिन के बारे में जो आपके समस्याओं को दूर करने में आपकी पूरी मदद कर सकता है तो जानिए इस लेख में. ये दिन बहुत ख़ास है क्यूंकि इस दिन हम कर सकते हैं पूजा पाठ, टोटके, साधना जीवन को सफल बनाने के लिए.
फरवरी ४ क्यों ख़ास है समस्याओं को दूर करने के लिए ? जी हाँ ! ज्योतिष के हिसाब से आने वाली ४ फरवरी बहुत ख़ास रहेगी क्यूंकि इस दिन कुछ विशेष योग बन रहे हैं जो जीवन को सुखी बनाने में मदद करेंगे. इस दिन मौनी अमावस्या पड़ रही है जो की पितरों के शांति पूजा के लिए अति महत्त्वपूर्ण है.इस दिन सर्वार्थ सिद्धि का योग भी रहेगा दिन भर जिसके कारण इस दिन का महत्त्व बहुत ज्यादा बढ़ जाता है.इसी दिन कुम्भ का शाही स्नान भी होगा जो की इस दिन के महत्त्व को दर्शाता है. इसी के साथ एक और बात जो ध्यान में रखना चाहिए वो ये की ये अमावस्या सोमवार के दिन पड़ रही है जिसके बारे में कहा गया है की इस दिन किया गया पवित्र स्नान, पूजा पाठ और दान का करोड़ो गुना ज्यादा लाभ मिलता है. उज्जैन में सोमवती कुंड जो की सोमेश्वर महादेव मंदिर के पास में स्थित है में सोमवती अमावस को स्नान करने का विशेष महत्तव है. स्कन्द…

Graho Se Sambandhit Din Aur Bhojan

Graho Se Sambandhit Din Aur Bhojan, लाल किताब में ग्रहों से सम्बंधित दिन और भोज्य पदार्थ, कैसे कम करे बुरे ग्रहों के प्रभाव को और कैसे मजबूत करे शुभ ग्रहों को कुंडली में.

चन्द्रमा ग्रह – इससे सम्बंधित दिन है सोमवार और अगर ये कुंडली में कमजोर हो तो सोमवार को खीर का सेवन करे, चांदी के आभूषण धारण करे, सफ़ेद वस्त्र ज्यादा से ज्यादा धारण करे, माथे पर सफ़ेद चन्दन का तिलक लगाया करे, मोती की अंगूठी या पेंडेंट धारण करे.
परन्तु अगर चन्द्रमा कुंडली में ख़राब हो तो ऐसे में चन्द्रमा से सम्बंधित वस्तुओ का दान करे. मंगल ग्रह – इससे सम्बंधित दिन है मंगलवार और अगर मंगल कुंडली में कमजोर हो तो मंगलवार को लाल मसूर की दाल खाना चाहिए, लाल कपडे धारण करे, मीठी रोटी खाएं और लाल रुमाल पास में रखे.
परन्तु अगर मंगल कुंडली में ख़राब हो तो ऐसे में मसूर दाल का दान करे, लाल वस्त्र दान करे, मंगलवार को मिठाइयाँ बांटे और नियमित रूप से हनुमानजी के मंदिर में जाएँ. बुध ग्रह – इससे सम्बंधित दिन है बुधवार और अगर बुध कमजोर हो कुंडली में तो हरे कपड़े धारण करना हाहिये, पन्ना रत्न पहन सकते है, हरी सब्जियां खा सकते हैं.
परन्तु अगर बु…

Rashifal 2019

राशिफल 2019 vedic ज्योतिष के अनुसार, क्या कहते हैं नए साल के सितारे, कैसा रहेगा नया वर्ष, जानिए नौकरी, व्यवसाय, शिक्षा और पारिवारिक जीवन से जुड़ी भविष्यवाणी, पढ़िए ग्रहों की चाल के बारे में ।

नया साल का मालाब है नई ख्वाहिशे, नए सपने, नई उंचाइयो को छूने के लिए नए प्रयास. आने वाला वर्ष क्या ख़ास लाने वाला है ये जानने की उत्सुकता सभी ज्योतिष प्रेमियों को होती है. हर वर्ष कुछ बड़े बदलाव जीवन में लेके आता है, कुछ लोगो के जीवन में चुनौतियाँ बढ़ जाती है, कुछ लोगो को अपार सफलता मिलती है, कुछ राशी में शनि के प्रभाव् के कारण बहुत उथल पुथल भी होता है. ये सब हम जानेगे इस लेख में.

पढ़िए २०१९ में परिवारिक सुख के बारे में, प्रेम विवाह के बारे में, व्यवसाय के बारे में, विवाह आदि के बारे में. हमे ये भी जानेंगे की 2019 को खुशहाल बनाने के लिए मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुम्भ मीन राशी वालो को क्या करना चाहिए. आइये सबसे पहले वर्ष फल को जानते हैं:इस वर्ष के राजा शनि है.मंत्री सूर्य/रवि है. शनि न्याय के देवता है साथ ही एक क्रूर ग्रह भी है जिसके कारण बहुत ही विचित्र प्रभाव देश…

Laghu Nariyal ke Totkay in Jyotish

जानिए लघु नारियल के टोटके ज्योतिष द्वारा, कैसे प्रयोग करे तंत्रोक्त नारियल का, कैसे दूर करे दुर्भाग्य को?.

ऐसा प्रायः देखा जाता है की जो वस्तुएं बहुत साधारण दीखते हैं उनका प्रयोग तंत्र में और ज्योतिष में बहुत ही अच्छे तरीके से किया जाता है | कुछ वस्तुओ का प्रयोग दुर्भाग्य को हटाने के लिए किया जाता है और कुछ का प्रयोग भाग्योदय के लिए किया जाता है विभिन्न तरीको से.  इन्ही कुछ वस्तुओ में से एक है तंत्रोक्त नारियल जिसे हम लघु नारियल के नाम से भी जानते हैं. ये एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण वास्तु है, दिखने में जितना छोटा दीखता उतना ही तीव्र इसका प्रयोग होता है. व्यापारिक समस्या हो, घरेलु समस्या हो, काला जादू की समस्या हो, कोई बिमारी हो, सभी के इसके टोटके प्रचलित है और लाभ देते हैं. “लघु नारियल या फिर तंत्रोक्त नारियल दुर्भाग्य को दूर करके सफलता के रास्ते खोलता है
आइये देखते हैं लघु नारियल के कुछ आसान टोटके:अगर काला जादू या फिर बहुत खतरनाक बुरी नजर लगी हो तो एक लघु नारियल पर ७ फीट का काला धागा लपेट दे और फर उसे ७ बार सर से पाँव तक घुमाएं फिर उसे अग्नि में जला दे, इससे बहुत लाभ होता है.कुंडली में …

World Of Numerology In Hindi | अंको की दुनिया

अंको की दुनिया, अंक विज्ञान, ग्रह और सम्बंधित अंक, वार और सम्बंधित अंक, अंक ज्योतिष का महत्त्व, world of numerology, planets and numbers, days and related numbers, numerology in Hindi. 

अंक हमारे जीवन को हर जगह प्रभावित करते हैं, बिना अंको के हम जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं. कोई भी नाम हो, वास्तु, व्यक्ति, शहर, सामान आदि का उसे अंको में बदला जा सकता है और उससे सम्बंधित रहस्य को पता लगाया जा सकता है. अतः अंक विज्ञान बहुत महत्त्वपूर्ण है, इसके द्वारा हम अपने जीवन के लिए भाग्यशाली दिन, तारीख का चुनाव कर सकते हैं, हम अपने नाम में सही बदलाव कर सकते है, हम अपने ऑफिस, फैक्ट्री या फर्म का नाम सही रख सकते हैं जिससे सही मुनाफा हो.

अंक विज्ञान अपने आप में एक समग्र विज्ञान है जिसका इस्तेमाल दशकों से होता आया है. कोई भी इसका उपयोग कर सकता है बस जरुरत है थोडा अध्ययन और अभ्यास की.  किसी अच्छे ज्योतिष से सलाह लेके भी आप आने जीवन को सार्थक कर सकते हैं . ग्रह और उससे सम्बंधित अंक को जानिये:अंक 1 से सम्बंधित ग्रह है सूर्य.अंक 2 से सम्बंधित ग्रह है चन्द्रमा.अंक 3 से सम्बंधित ग्रह है गुरु.अंक 4 से स…

2019 Makar Sankranti is Baar 15 Ko Rahega

2019 मे कब रहेगी मकर संक्रांति, क्या करे सुख और सम्पन्नता के लिए, क्यों रहेगा मकर संक्रांति 15 जनवरी को?., क्या ख़ास होने वाला है इस दिन?.

मकर संक्रांति की पूजा, दान पुण्य वैसे तो हर साल १४ तारीख को ही रहता है परन्तु इस बार २०१९ में सूर्य धनु राशि से मकर राशि में शाम को प्रवेश करेगा जिसके कारण मकर संक्रांति का विशेष दान, पूजन आदि के लिए १५ तारीख मान्य होगा ज्योतिष के हिसाब से.  हालांकि पतंग बाजो को के लिए तो १४ तारीख ही मन में बसा हुआ है अतः देखा जाए तो मकर संक्रांति उल्लास इस बार नए साल में दो दिन देखने को मिलेगा.

इस बार १५ जनवरी को कुम्भ का शाही स्नान भी है और साथ ही सुबह सर्वार्थ सिद्धि का योग भी रहेगा जिसके कारण प्रातः काल दान और पूजन का विशेष महत्त्व रहेगा अतः इस बार मकर संक्रांति विशेष ऊर्जा लिए हुए होगी.
पढ़िए मकर संक्रांति के लिए विशेष टोटके यहाँ क्लिक कर.......  क्या करते हैं लोग मकर संक्रांति को पुण्य लाभ के लिए: इस दिन प्रातः काल पवित्र नदी जैसे गंगा, यमुना, नर्मदा, क्षिप्रा आदि में स्नान किया जाता है और फिर विशेष पूजन और दान किया जाता है, कई लोग गुप्त दान भी करते हैं.<>…

Makar Sankaranti Ka Mahattwa in Hindi

Makar Sankaranti Ka Mahattwa in Hindi, मकर संक्रांति का महत्त्व, क्या करे सफलता के लिए मकर संक्रांति को, सफलता के लिए ज्योतिषीय उपाय जानिए.
मकर संक्रांति का त्यौहार पुरे भारत में बहुत ही उत्साह से मनाया जाता है, भारत वर्ष में मनाये जानते वाले उत्सवों में ये भी एक बड़ा उत्सव है. इस दिन बच्चे, बूढ़े, जवान, महिलाए आदि सभी लोग पतंग उड़ाना पसंद करते हैं. पुरे दिन लोग अपने परिवार वालो के साथ छत पर बिताते हैं या फिर मैदान मे, लोग तिल के लड्डू भी बनाते हैं और एक दुसरे को बाटते हैं. 
ये महत्व्कपूर्ण त्यौहार अलग अलग रूप में भारत वर्ष में मनाया जाता है जैसे की तमिल नाडू मे इसे पोंगल के नाम से मनाते हैं, आसाम में इसे बिहू के नाम से मनाते हैं, पंजाब और हरयाणा में इसे लोहरी के रूप में मनाते हैं.

आइये जानते हैं मकरसंक्रांति से सम्बंधित कुछ तथ्य :इस दिन से सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं.सूर्य मकर राशि मैं इस दिन प्रवेश करते हैं.पौराणिक मान्यता के अनुसार इस दिन से देवताओं के दिन शुरू हो जाते हैं.भगवद्गीता में श्री कृष्ण कहते हैं की अगर कोई व्यक्ति उत्तरायण के समय शारीर छोड़ता है तो वो मुक्ति प्राप्त करता है.…

Laxmi Bandhan Ka Samadhan

लक्ष्मी बंधन क्या होता है, कैसे जाने की तंत्र द्वारा बाँधा गया है, कैसे मुक्ति पायें, जानिए ज्योतिष द्वारा हल लक्ष्मी बंध समस्या का.

ये सवाल अक्सर कई जगहों से हुआ है की हम पर लक्ष्मी बंधन किया गया है, कही से भी आय नहीं हो पा रही है, जबकि पहले सब ठीक चल रहा था. अचानक से व्यापार पूरा ख़त्म हो गया और अब जिस काम में भी हाथ डालते है, घाटा होता है.  जब ऐसा हो तो जरुरी नहीं की हमेशा किसी ने तंत्र द्वारा बाँधा हो, कई बार किसी ख़राब ग्रह के कारण भी ऐसा होता है अतः पूरी तरह जांच करवाने के बाद ही सही प्रयोग करना चाहिये. बहरहाल इस लेख में हम ये जानेनेगे की लक्ष्मी बंधन क्या होता है और कैसे जाने की ऐसा कुछ हुआ है.  आइये जानते हैं की laxmi bandhan क्या है? कई बार ऐसा होता है की किसी का व्यापार या नौकरी बहुत अच्छी चल रही होती है और अचानक से सब ख़त्म हो जाता है, इसका कारण ये हो सकता है की किसी जलने वाले या फिर किसी शत्रु ने जानबुझकर नुक्सान पहुचाने के लिए बंधन प्रयोग किया हो जिसके कारण सब ख़त्म होता जा रहा हो, दिमाग ने काम करना बंद कर दिया हो, जिस भी काम में हाथ डाला जाए, वही नुक्सान हो रहा हो. अगर ऐसा ह…

Shani Amavas Ka Mahatw In Hindi

Shani amavas ka mahatwa in hindi, कैसे छुटकारा पायें शनि के बुरे प्रभाव से, शनि अमवस्या को क्या करे सफलता के लिए?, शनि के टोटके, शनि पीड़ा से मुक्ति के उपाय.

हिन्दू परंपरा के अनुसार शनि अमवस्या का बहुत अधिक महत्तव है. इस दिन पवित्र नदियों के किनारे मैले जैसा वातावरण हो जाता है, लोग पवित्र नदियों में स्नान करते है और नदी तट पर ही पूजा पाठ आदि करते हैं कृपा प्राप्त करने के लिए. इस दिन पितृ शांति की पूजा होती है, काले जादू से मुक्ति हेतु भी ये दिन विशेष महत्तव रखता है, नजर दोष, उपरी हवा से बचाव के लिए भी इस दिन विशेष क्रियाये की जाती है. इस दिन शनि पूजा का भी बहुत लाभ मिलता है. इसी कारण शनिवार को पड़ने वाले अमावस्या का बहुत अधिक महत्तव होता है.  तंत्र के हिसाब से भी ये दिन ख़ास महत्तव रखता है. जानकार लोग इस दिन शक्ति प्राप्त करने हेतु विशेष साधना करते हैं. नकारात्मक विचारो से ग्रस्त लोग इस दिन लोगो को नुक्सान पहुचाने हेतु क्रियाएं करते हैं अतः ये जरुरी है की सावधानी बरती जाए. अगर किसी जातक के कुंडली में ग्रहण योग है या फिर शनि नीच का है तो ऐसे में उनको इस दिन बहार नहीं निकलना चाहिए और पूजा …

Vyaparik Samasyaao Ka Jyotish Samadhan

व्यवसाय को प्रभावित करने वाले कारक, व्यापार विफलता के कारण, ज्योतिष से कैसे करे समस्याओं का समाधान.

व्यापार की सफलता अनेको कारणों पर निर्भर करती है, इसके सिर्फ एक ही कारण नहीं होता है. जब सारी मेहनत के बावजूद सफलता हाथ ना लगे तो प्रश्न उपजता है की – क्यों व्यवसाय बढ़ नहीं रहा हैं?क्यों हमारी सारी मेहनत विफल हो रही हैं?क्यों कर्जा बढ़ता जा रहा है? आदि. क्या आपने ये महसूस किया है की –आपका व्यापार लगातार निचे की और जा रहा हैं?व्यवसाय स्थल पर पहुंचने पर चिंता शुरू हो जाती है।व्यपारिक जगह पर कर्मचारियों में बहुत मन-मुटाव रहता है.कर्मचारी ईमानदारी से काम नहीं करते और टिकते भी नहीं हैं.ग्राहक संतुष्ट नहीं होते हैं और ऐसे ही अन्य कारण भी परेशान करते हैं. आइये अब जानते हैं की व्यापारिक विफलता के कुछ ज्योतिषीय कारण :ऐसा हो सकता हो की आपके व्यापार को या फिर व्यवसाय चलाने वाले को बहुत बुरी नजर लगी हो.ये भी हो सकता है की आप कोई गलत पूजा कर रहे हो या की हो जिसके परिणाम स्वरुप आपके साथ बुरा हो रहा हो.कुंडली मे मौजूद पितृ दोष भी आपको परेशान कर सकता है.ये भी हो सकता है की आपके व्यापारिक स्थान में वास्तु …

Jewelry Vyapaar Aur Jyotish

ज्वेलरी व्यापार और ज्योतिष सलाह, कैसे बाधाएं अपने व्यापार को, ग्राहो का प्रभाव कैसा पड़ता है. 

गहनों का व्यापार प्राचीन समय से चला आ आ रहा है और हमेशा रहेगा भी. विभिन्न धर्म के लोगो में विभन्न प्रकार के ज्वेलरी पहनने का रिवाज है. लोग अपने घर के देवी देवता को भी आभुशनों से सजाते हैं.  ज्योतिषीय उपाय ज्वेलरी व्यापार के लिए: हालांकि ऐसा देखा जाता है की सुनार लोग बहुत धनी रहते हैं परन्तु ये बात सभी पर लागू नहीं होती है. ग्रहों का असर सभी पर पड़ता है और उसी आधार पर कुछ बहुत ज्यादा सफल होते हैं सुनारी में और कुछ असफल भी होते हैं. एक सफल ज्वेलर उसे कह सकते हैं जो की बाज़ार में बदलाव के हिसाब से लोगो को गहने बना के दे और जिनके पास नए नए ग्राहक आते रहे. सुनारी का व्यापार सट्टे से भी जुड़ा होता है क्यूंकि सोने का भाव रोज बदलता है कब क्या हो जाए इस बात की कोई जानकारी नहीं रहती है, कुछ को बहुत फायदा होता है और कुछ लोगो को बहुत घाटा हो जाता है. ऐसा भी देखा जाता है की बाजार के सही चलने पर भी कोई बहुत घाटा खाता रहता है , इसका कारण कुंडली में मौजूद खराब ग्रह होते हैं या फिर ख़राब ग्रह की दशा का असर भी हो …