Skip to main content

Posts

Recent posts

Kartik Mahine Ka Mahattwa

Kartik mahina importance in hindi, kya kare safal jeene ke liye kartik mahine main, jivan ko sukhi banaane ke liye salaah, kartik poornima ka mahatwa, kiski puja kare kartik mai, dhan prapti upaay. अगर आप वित्तीय समस्या से ग्रस्त है, अगर आप महालक्ष्मीजी  प्रसन्न करना चाहते है, अगर आप धन प्राप्ति साधना करना चाहते है तो कार्तिक महीने से ज्यादा शक्तिशाली कोई और महिना नहीं है. 2021 में 21 अक्टूबर से 19 नवम्बर तक कार्तिक महिना रहेगा  kartik mahina kyu khaas hai वैदिक ज्योतिष के हिसाब से कार्तिक महिना धन प्राप्ति साधना हेतु उत्तम है और जो भी साधक पूर्ण श्रद्धा और विश्वास से इस महीने में पूजा करता है उसे निश्चित ही सफलता प्राप्त होती है. जिन लोगो को कार्तिक महीने की महत्ता मालूम है वो एक दिन भी व्यर्थ नहीं गवाते हैं. कार्तिक महीने का महत्तव इसीलिए भी बढ़ जाता है की इसी महीने में धन तेरस, करवा चौथ,  दिवाली और अन्य मुख्य त्यौहार आते हैं. अतः हमे उचित माहोल और समय मिलता है जब हम विशेष साधनाओ द्वारा अपने जीवन को धन और धान्य से पूर्ण कर सकते हैं.  Watch video here: आइये जानत

Kartik Mahine Mai Kya kare Safalta Ke liye

Kartik Mahine Mai Kya kare Safalta Ke liye, laxmi prapti ke liye totke in hindi, dhan prapti ke liye prayog, kartik mahine ke liye pujaaye jo dilayengi safaltaa. जैसा की आपको पहले के लेख में बताया की धन प्राप्ति और लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्त करने के लिए कार्तिक महिना सर्वोत्तम है. साधकगण विशेष पूजाओ द्वारा अपनी इच्छाओं की पूर्ति करते हैं. इस लेख में आप जान पायेंगे कुछ ऐसे टोटके जिनके द्वारा आप जीवन को सफल बना सकते हैं. 2021 में 21 अक्टूबर से 19 नवम्बर तक कार्तिक महिना रहेगा  kartik mahine ke liye totke Watch video here: ? कार्तिक महीने में सफलता के लिए टोटके: अगर आप महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त करना चाहते है तो श्रीं बीज का जप सुबह और शाम को करना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है. रोज प्रातः और शाम को दीपक में लौंग डालके जालाये और फिर श्री सूक्त का पाठ करे, इससे भी धन प्राप्ति के रास्ते खुलते हैं. एक तुलसी का पौधा लगाए और भक्ति से उनकी सेवा करे, इससे सुख, समृद्धि आती है परिवार में. आप तुलसी का पौधा दूसरों को उपहार में भी दे सकते हैं. एक विशेष मंत्र है “ॐ

Rashi anusar vivah mai deri ke karan aur samadhan

 Rashi anusar vivah mai deri ke karan aur samadhan, राशी अनुसार विवाह में देरी के कारण और समाधान वैदिक ज्योतिष मे, शादी में रुकावट क्यों आती है, जानिए ज्योतिषीय उपाय | विवाह जीवन का अती महत्त्वपूर्ण भाग है और बिना शादी के जीवन अधुरा सा लगता है | कई जातक समय पर विवाह बंधन में बंध जाते हैं परन्तु ऐसे बहुत से लड़के और लडकियां है जिनके विवाह में बहुत ज्यादा समय लगता है, रिश्ता होने के बाद भी टूट जाता है, सही साथी नहीं मिल पाता है आदि |  आज के इस लेख में हम जानेंगे की राशि के अनुसार कैसे पता चल सकता है विवाह में देरी के कारण | Rashi anusar vivah mai deri ke karan aur samadhan हर व्यक्ति के शादी में देरी का कारण एक जैसा नहीं रहता है क्यूंकि सबकी राशि अलग अलग होती है और कुंडली में ग्रहों की स्थिति भी एक जैसी नहीं रहती है | यहाँ सिर्फ राशी अनुसार हम शादी में देरी के कारणों को देखने जा रहे हैं | मेष राशी वालो के विवाह में देरी के क्या कारण हो सकते हैं ? अगर आपकी राशी मेष है और आपकी शादी नहीं हो पा रही है तो ऐसे में चाहिए की कुंडली में मंगल ग्रह की स्थिति का विश्लेषण किया जाए साथ ही शुक

Sharad Poornima Jyotish In Hindi

Sharad poornima in hindi, sharad poornima ka mahattwa, kya kare safaltaa ke liye, kisi pooja kare sharad poornima ko as per jyotish, शरद पूर्णिमा पर hindi में जानिये महत्तव और क्या करे सफलता के लिए. साल की सबसे बड़ी और शक्तिशाली पूर्णिमा है शरद पूर्णिमा और ऐसी मान्यता है की अगर कोई आर्थिक और शारीरिक परेशानी से गुजर रहा हो तो इस रात्रि को पूजन जरुर करना चाहिए, इससे बहुत लाभ मिलता है | ये रात्रि माता लक्ष्मी से भी सम्बन्ध रखता है |  वैदिक ज्योतिष के हिसाब से अगर कुंडली में चंद्रमा ग्रह मजबूत हो तो जातक बहुत ही संपन्न जीवन जीता है और ऐशोआराम के साथ वहीँ कमजोर चंद्रमा असंतुष्ट जीवन का प्रतीक होता है |अतः चन्द्रमा अती महत्त्वपूर्ण है हमारे जीवन में | 2021 में शरद पूर्णिमा 19 अक्टूबर मंगलवार की रात्रि को रहेगी क्यूंकि पूर्णिमा तिथि 19 को रात्रि 7:05 मिनट पे शुरू होगी और 20 अक्टूबर कोरात्रि 8:27 मिनट तक रहेगी | अगर आपको चाह है एक शांति पूर्ण जीवन की, अगर आपको चाह है एक स्वस्थ जीवन की अगर आप चाहते हैं एक सुखी और संपन्न जीवन तो शरद पूर्णिमा की रात्री आपके लिए बहुत ही शुभ है, जब व्यक्ति

October 2021 Mai Kaun se grah badlenge rashi

अक्टूबर 2021 में ग्रहों का गोचर दिनांक और 12 राशियों पर प्रभाव,  October 2021 Planetary transits predictions,   कौन से ग्रह अक्टूबर 2021 में राशि परिवर्तन करेंगे, राशिफल । ज्योतिष प्रेमी जानते हैं कि ग्रह लगातार गतिमान हैं और समय-समय पर राशि बदलते रहते हैं। ग्रहों की चाल के अनुसार हम लोगों के जीवन, व्यापार, मौसम, राजनीति आदि में परिवर्तन का अनुभव कर सकते हैं। हमारे जीवन में ग्रहों के प्रभाव को कोई भी नजरअंदाज नहीं कर सकता है। अक्टूबर 2021 में कई बदलाव होने जा रहे हैं जो हम इस लेख में देखेंगे, हम यह भी जांचेंगे कि 12 राशियों (मेष, वृष, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर कुंभ, मीन) के जीवन में क्या बदलाव होगा । October 2021 Mai Kaun se grah badlenge rashi अक्टूबर 2021 में कौन से ग्रह बदल रहे हैं राशि? वैदिक ज्योतिष के अनुसार इस महीने में 4 ग्रह, राशि परिवर्तन कर रहे हैं। बुध, शुक्र, मंगल और सूर्य। वक्री बुध 2 अक्टूबर, शनिवार को सुबह 3:29 बजे कन्या राशि में गोचर करेंगे और 02 नवंबर 2021 तक इसी राशि में रहेंगे । शुक्र 2 अक्टूबर, शनिवार को सुबह 9:35 बजे वृश्चिक राशि

Shukra shanti pooja ke fayde in hindi jyotish

Shukra shanti pooja ke kya fayde hote hain, क्यों करवाना चाहिए शुक्र शांति पूजा ज्योतिष के हिसाब से, शुक्र ग्रह का क्या प्रभाव होता है जीवन पर, shukr grah shanty puja online, अशुभ शुक्र के दुष्प्रभाव को कैसे दूर करे? शुक्र सबसे चमकीला ग्रह है और सौंदर्य, प्रेम, रोमांस, विलासिता, धन, आकर्षण शक्ति, आनंद, सम्मोहन शक्ति, आभूषण, यौन अंगों आदि से संबंधित है। अंग्रेजी में इसे वीनस के नाम से जाना जाता है | शुक्र पूजा उन लोगों के लिए फायदेमंद होती है जिनका शुक्र कमजोर होता है | जिन लोगों को विपरीत लिंग के साथ संबंध बनाने में परेशानी आती है , जिनको समाज में प्रभाव बनाने, विलासितापूर्ण जीवन जीने में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे अपनी कुंडली किसी अनुभवी ज्योतिषी को दिखाएँ और फिर शुक्र शांति पूजा करवाएं । Shukra shanti pooja ke fayde in hindi jyotish आइये जानते हैं शुक्र ग्रह से सम्बंधित कुछ खास बाते वैदिक ज्योतिष के हिसाब से - शुक्र से सम्बंधित धातु है चांदी और प्लेटिनम । वीनस का रत्न हीरा होता है। वीनस से संबंधित अंक 6 है। शुक्र की दिशा दक्षिण-पूर्व है और

Featured Post

Best Jyotish Services in Hindi

Trusted Astrology Services Vastu Services, Spiritual Healing Services ज्योतिष संसार के माध्यम से आप पा सकते हैं अपने कुंडली का विश्लेषण, अपने कुंडली में मौजूद ख़राब ग्रहों के बारे में, अपने ताकतवर ग्रहों के बारे में, भाग्यशाली रत्नों के बारे में, ग्रहों के अनुसार सही कैरियर, सरकारी नौकरी, प्रेम विवाह, संतान योग, काले जादू का निवारण, ज्योतिषीय समाधान आदि के बारे में. Services For You By astrologer astroshree पाइये कुंडली विश्लेषण कुंडली का सटीक विश्लेषण प्राप्त करने के लिए अपना जन्म तारीख, जन्म समय और जन्म स्थान सही –सही भेजे साथ ही अपने प्रश्न भेजे. जानिए अपने कुंडली में मौजूद शक्तिशाली ग्रहो के बारे में. जानिए कौन से ग्रह जीवन में समस्या उत्पन्न कर रहे हैं. किन ज्योतिष कारणों से जीवन में असफलता प्राप्त हो रही है? जानिए कौन से रत्न भाग्योदय में सहायक होंगे? कौन सी पूजा आपके लिए सही है. आपके प्रश्नों का उत्तर, कुंडली अनुसार. Get The Indepth Analysis of your horoscope संपर्क करे ज्योतिष से मार्गदर्शन के लिए >> पाइये कुंडली मिलान व