Skip to main content

Posts

Recent posts

mantrit jal banaane ka asaan tarika

घर और दुकान से अनिष्ट शक्तियों को दूर करने के लिए मंत्र का पानी, वास्तु से अनिष्ट शक्तियों को दूर करने के लिए पवित्र जल कैसे बनाएं ?, बचाव के उपाय। दशकों से मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए मंत्रो का उपयोग किया जाता रहा है इसलिए इस लेख में हम देखेंगे कि पवित्र जल का उपयोग करके अपने घर या कार्यालय को बुरी ऊर्जाओं, बुरी आत्माओं, काले जादू के प्रभाव, श्राप आदि से कैसे बचाया जा सकता है । पवित्र जल या अभिमंत्रित जल में नकारात्मक ऊर्जाओं को दूर करने की शक्ति होती है और इसलिए दशकों से भक्त इसका उपयोग कर रहे हैं। धार्मिक स्थलों में भी हमने देखा है कि पंडित भक्तों पर पूजा के बाद पवित्र जल छिड़कते हैं। mantrit jal banaane ka asaan tarika Read in English about how to make holy water to protect vastu from negative energies? अगर आपको लगता है कि आपका घर भूतों से प्रभावित है तो आप अपने घर को बचाने के लिए इस तकनीक का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आपको लगता है कि किसी भी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा आपके परिवार के जीवन को अस्त-व्यस्त कर रही है तो आप अपने परिवार को बचाने के लिए इस पवित्र जल का उपयोग कर सकते हैं

Shukra ka rashi parivartan kab hoga

Shukra ka rashi parivartan kab hoga 2022, शुक्र का राशी परिवर्तन का 12 राशियों पर क्या असर होगा | (Shukra Rashi Parivartan): शुक्र का गोचर मेष राशि में होगा 23 मई 2022, सोमवार को | अभी तक शुक्र अपने उच्च राशि मीन में थे परन्तु अब अपने सम राशि में प्रवेश करेंगे |  वैदिक ज्योतिष के अनुसार शुक्र ग्रह का सम्बन्ध प्रेम, रोमांस, भौतिक सुख सुविधा, विलासिता ग्लेमर, आकर्षण शक्ति आदि से है इसीलिए शुक्र का गोचर हमेशा ही बहुत महत्त्व रखता है | Shukra ka rashi parivartan kab hoga Read in english about venus transit predictions 23 मई 2022 को रात्रि को लगभग 8:16  बजे शुक्र अपने उच्च राशि से निकल के अपने सम राशि मेष में प्रवेश करेंगे जहा पहले से ही राहू विराजित हैं अतः काफी बदलाव हमे लोगो के व्यक्तिगत जीवन में देखने को मिलेंगे | मेष राशि में शुक्र करीब 26 दिन रहेंगे और फिर 18 जून को सुबह 8:05 बजे अपने स्व राशि वृषभ में प्रवेश करेंगे | पढ़िए मंगल के राशि परिवर्तन का क्या असर होगा लोगो पर  सूर्य के राशि परिवर्तन का राशिफल  आइये जानते हैं की 2022 में शुक्र के मेष राशि में गोचर का असर 12 राशियों पर क

Mangal ka rashi parivartan aur rashifal in hindi jyotish

मंगल का राशि परिवर्तन कब होगा, मंगल का गोचर मीन राशि मे, mars transit in pisces rashifal in hindi jyotish, राशिफल जानिए हिंदी ज्योतिष मे | 17 मई, मंगलवार 2022 को सुबह लगभग 8:58 पे मंगल ग्रह का प्रवेश अपने मित्र राशि मीन में होगा और यहाँ ये 27 जून २०२२तक रहेंगे | मंगल का ये राशि परिवर्तन बहुत शुभ है क्यूंकि मीन राशि में गुरु पहले से ही विराजित हैं और अब जब मंगल मीन राशि में आयेंगे तो दोनों की युति बड़े बदलाव लेके आयेगे | magnal ka rashi parivartan kab hoga Read in english about Mars transit in Pisces predictions पढ़िए शुक्र कब राशि परिवर्तन करेगा 2022 में ? आइये जानते हैं 12 राशि वालो के जीवन में क्या बदलाव हो सकता है : Watch video here: मेष राशिफल : 17 मई को मंगल के मीन राशी में गोचर से मेष राशि वालो को भूमि में निवेश करने के योग बनेंगे | बिमारी या फिर वाहन और भूमि के रख रखाव में काफी धन खर्च हो सकता है | जो लोग काफी समय से विदेश जाना चाहते हैं उनके रास्ते खुलेंगे | अपने खान पान का ध्यान रखे अन्यथा पेट और आँखों से सम्बंधित समस्याओं से ग्रस्त हो सकते हैं | वृषभ राशिफल : 17

Vrishabh Sankranti Ka Jyotish Mahattw

Vrishabh sankranti ka jyotish mahttwa, ज्योतिष के अनुसार वृष संक्रांति का महत्व, ज्योतिषी द्वारा वृषभ संक्रांति की भविष्यवाणी, सूर्य के वृषभ राशि में प्रवेश करने पर क्या होता है। Vrishabh Sankranti Ka Jyotish Mahattw हर संक्रांति हिंदू ज्योतिष परंपरा के अनुसार पुण्य संचय करने के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह दिन दान और प्रार्थना करने के लिए एक पवित्र दिन के रूप में लिया जाता है। पढ़िए  शुक्र कब राशि परिवर्तन करेगा 2022 में ? वृषभ संक्रांति क्या है? जब ग्रह सूर्य वृषभ राशि में प्रवेश करते हैं तो इस अवधि को वृष संक्रांति कहते हैं। ज्योतिष और हिन्दू धर्म के अनुसार 12 संक्रांति हैं और ये सभी दान करने, जरूरतमंदों की मदद करने, प्रार्थना, आध्यात्मिक अभ्यास आदि करने के लिए बहुत अच्छे माने जाते हैं । हिंदू पंचांग के अनुसार वृषभ संक्रांति ज्येष्ठ महीने में पड़ता है। वृषभ संक्रांति भी मौसम के बदलाव का भी प्रतिनिधित्व करती है। वृषभ का अर्थ है बैल और इसलिए यह माना जाता है कि इस दिन भगवान शिव की पूजा करना अच्छा होता है और कुछ लोग पुण्य लाभ पाने के लिए इस दिन गाय दान

Chandra Grahan Ka Mahattwa In Hindi

Chandra Grahan Ka Mahattwa In Hindi, क्या करे चन्द्र ग्रहण के समय, क्या न करे ग्रहण के समय, जानिए कैसे बनाए जीवन को सुखी ग्रहण काल में. Chandra Grahan Ka Mahattwa In Hindi ग्रहण देखा जाए तो ठीक नहीं माना जाता है विज्ञान के हिसाब से क्यूंकि इस समय हानिकारक किरणे निकलती है जिससे की वातावरण दूषित होता है और जो लोग इसके संपर्क में ज्यादा आते हैं उनको कई प्रकार के समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. अतः ये सलाह दी जाती है की ग्रहण काल में बहार ना निकला करे. परन्तु इसका एक दूसरा बहुत ही अच्छा पक्ष है और वो ये की ग्रहण काल में की गई साधना शीघ्र फल प्रदान करती है, मंत्र सिद्धी, यन्त्र सिद्धी, तंत्र सिद्धी के लिए इससे ज्यादा अच्छा समय नहीं होता है. यही कारण है की विद्वान् लोग, तांत्रिक, मान्त्रिक और अन्य साधक ग्रहण का इन्तेजार लम्बे समय तक करते हैं. Read in english about when is 2022 chandra grahan ? वैदिक ज्योतिष के हिसाब से चन्द्र का सम्बन्ध माता से होता है, मन से होता है, ठंडक से होता है, स्वप्न से होता है आदि. कर्क राशि का स्वामी है चन्द्र और चांदी इससे सम्बंधित धातु है. द

Kala dhaga pahanne ke kya fayde hai

काला धागा पहनने के असरदार फायदे, पैर में काला धागा पहनने के फायदे, कुछ लोग काला धागा क्यों पहनते हैं, काला धागा के प्रयोग । दशकों से माताएँ बच्चे के पैर में काला धागा बाँधती आ रही हैं, यहाँ तक कि बड़े भी काले धागे का उपयोग करते हैं। इस लेख में हम काला धागा का उपयोग करने के कारणों और लाभों के बारे में जानेंगे। काला धागा धारण करने से कई ज्योतिषीय लाभ होते हैं जो इसके प्रयोग से ही महसूस किए जा सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार काला रंग शनि ग्रह से संबंधित है और इसलिए इसे पहनने से व्यक्ति को शनि के हानिकारक प्रभावों से बचता है। यह बुरी नजर, अदृश्य अनिष्ट शक्तियों आदि से बचाने के लिए भी बहुत फायदेमंद है। विभिन्न तरीकों से केवल काले धागे का उपयोग करके कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं को दूर किया जा सकता है। Kala dhaga pahanne ke kya fayde hai Read in english about Benefits of wearing BLACK THREAD आइए जानते हैं काला धागा पहनने के फायदे: यदि कोई काला जादू से पीड़ित है तो अभिमंत्रित काला धागा पहनने से व्यक्ति की रक्षा होती है। यह भी देखा गया है कि यदि किसी को नियमित रूप से पैर में दर्द र

Bandhan Dosh Kya Hota Hai Tantra Mai

बंधन दोष प्रभाव और निवारण, तंत्र बंधन से मुक्ति कैसे पायें, बंधन मुक्ति के चमत्कारी उपाय पढ़िए, काला जादू क्या है? , बंधन दोष के प्रकार. बंधन एक तामसिक क्रिया होती है, काले जादू के अंतर्गत जिसके अंतर्गत मंत्र शक्ति से किसी भी व्यक्ति की सफलता को रोकने के लिए उसके व्यापार को बाँध दिया जा सकता है, व्यक्ति को बाँध दिया जा सकता है, किसी की कोख को बाँध दिया जा सकता है, किसी के घर को भी बाँधा जा सकता है. बंधन दोष क्या है? ये एक विशेष प्रकार का तंत्र प्रयोग होता है जिसके द्वारा किसी व्यक्ति को किसी कार्य करने से रोक दिया जाता है, या फिर उसे किसी चीज को प्राप्त करने से रोक दिया जाता है, ताकि व्यक्ति नष्ट हो जाए, उसका परिवार नष्ट हो जाये. ये प्रयोग शत्रु द्वारा किया जाता है तंत्र का स्तेमाल करके. इसके परिणाम बहुत ही भयंकर होते हैं अतः ये जरुरी है की अच्छे ज्योतिष से सलाह लेके उपाय किये जाएँ अगर कोई जीवन में गंभीर समस्याओं का सामना कर रहा है लम्बे समय से. अगर स्वास्थ्य समस्याएं बहुत गंभीर हो गई है, अगर दवाई काम नहीं कर रही है, अगर परिवार में अचानक से मृत्यु होने लगी है, अगर बार बार

Akshay Tritiya Ka Mahatw In Hindi

Akshay tritiya ka mahatw in hindi, क्या है अक्षय तृतीय, धार्मिक महत्तव , क्या करे अक्षय तृतीय को, क्या न करे इस पुण्यशाली दिन को, टोटके अक्षय तृतीय के लिए, 2022 मे अक्षय तृतीय क्यों ख़ास है. अगर आप कोई महत्त्वपूर्ण कार्य का आरंभ करना चाहते हैं, अगर आप पुण्य प्राप्त करने के लिए कोई क्रिया करना चाहते हैं, अगर आप निर्विघ्नता से किसी कार्य को पूर्ण करना चाहते हैं, और अगर आपको मुहुर्त का ज्ञान नहीं है तो कोई बात नहीं है, अक्षय तृतीय का दिन वो शुभ दिन होता है जब कोई भी अच्छा कार्य हम शुरू कर सकते हैं, ये एक स्वयं सिद्ध मुहुर्त है. Akshay Tritiya Ka Mahatw In Hindi क्या है अक्षय तृतीय? इस दिन को “आखा तीज” के रूप में भी जानते हैं. ये दिन भगवान् परशुराम के जन्मदिन के रूप में भी मनाया जाता है जो की विष्णुजी के छठे अवतार थे. ये वो दिन है जब भगवान् गणेश जी के महाभारत लिखना प्रारंभ किया था. ये दिन है भाग्य को जगाने का , ये दिन है सफलता के लिए क्रियाओं को करने का, ये दिन है देवी शक्तियों के आशीर्वाद लेने का. Read in english about what to do on AKSHAY TRITYA for prosperity? अक्षय तृतीय

Hanumanji ke hawan se kya fayde hote hain

हनुमान होम के क्या लाभ हैं, हनुमान पूजा करने के लिए सबसे अच्छे दिन, What are the benefits of Hanuman homam , भगवान बजरंगबली का आह्वान और प्रसन्न करने के तरीके। भगवान हनुमानजी अमर हैं और इसलिए शक्तिशाली देवताओं में से एक हैं जो भक्तों की इच्छाओं को पूरा करने में सक्षम हैं। वह भगवान श्री राम के बहुत बड़े भक्त हैं और सर्वशक्तिमान, सर्वज्ञ और सर्वव्यापी हैं। हनुमानजी की पूजा करने से न केवल शक्ति मिलती है, बल्कि भूत, प्रेत, बुरी नजर आदि जैसी नकारात्मक ऊर्जाओं से भी बचाव होता है। भगवान हनुमान का होम शक्तिशाली भगवान का आह्वान करता है और सफलता का मार्ग खोलता है। Hanumanji ke hawan se kya fayde hote hain Read in english about Benefits of Hanuman pooja and homam आइए देखें विस्तार से कि हनुमानजी के हवन से क्या लाभ हैं मिलता है: यदि कोई शनि की साढ़े साती या शनि ढैया से गुजर रहा हो तो भगवान बजरंगबली की पूजा बहुत अच्छी होती है और व्यक्ति को अशुभ शनि के हानिकारक प्रभावों से बचाता है। यदि किसी को भय, आत्मविश्वास की कमी, कमजोर मन के कारण जीवन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है तो हनुमानजी

Prem Jivan mai asafalta ke jyotish karan

प्रेम जीवन में असफलता के ज्योतिष कारण, वैदिक ज्योतिष के अनुसार प्रेम और आकर्षण, जन्म कुंडली में दिल टूटना, Astrology reasons of failure in love life , प्रेम विफलता के लिए कौन सा ग्रह जिम्मेदार है? हर कोई कभी न खत्म होने वाला प्यार चाहता है लेकिन अपरिहार्य परिस्थितियों के कारण कुछ जोड़े ब्रेकअप, प्रेम जीवन में असफलता से गुजरते हैं। यहां इस लेख में हम प्रेम जीवन विफलता के ज्योतिष कारणों के बारे में जानेंगे। आमतौर पर लोग अज्ञानता, अपमानजनक व्यवहार, पैसे की कमी, सोच में अंतर आदि के कारण रोमांस में असफल हो जाते हैं, लेकिन जब हम ज्योतिष में अध्ययन करते हैं तो प्रेम जीवन में सफलता या असफलता के लिए ग्रह बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। जब ग्रह साथ देते हैं तो प्रेमियों को दाम्पत्य सुख मिलता है और पाप ग्रहों के कारण प्रेमी अलग हो जाते हैं। Read in english about reasons of failure in LOVE LIFE . Prem Jivan mai asafalta ke jyotish karan अनुक्रमणिका: प्रेम संबंध कब पनपते हैं? प्रेम जीवन में असफलता के ज्योतिष कारण लव लाइफ में लग्न का महत्व प्रेम जीवन में शुक्र की भूमिका क्या ज्योतिष प्रेम समस

Featured Post

Best Jyotish Services in Hindi

Trusted Astrology Services Vastu Services, Spiritual Healing Services ज्योतिष संसार के माध्यम से आप पा सकते हैं अपने कुंडली का विश्लेषण, अपने कुंडली में मौजूद ख़राब ग्रहों के बारे में, अपने ताकतवर ग्रहों के बारे में, भाग्यशाली रत्नों के बारे में, ग्रहों के अनुसार सही कैरियर, सरकारी नौकरी, प्रेम विवाह, संतान योग, काले जादू का निवारण, ज्योतिषीय समाधान आदि के बारे में. Services For You By astrologer astroshree पाइये कुंडली विश्लेषण कुंडली का सटीक विश्लेषण प्राप्त करने के लिए अपना जन्म तारीख, जन्म समय और जन्म स्थान सही –सही भेजे साथ ही अपने प्रश्न भेजे. जानिए अपने कुंडली में मौजूद शक्तिशाली ग्रहो के बारे में. जानिए कौन से ग्रह जीवन में समस्या उत्पन्न कर रहे हैं. किन ज्योतिष कारणों से जीवन में असफलता प्राप्त हो रही है? जानिए कौन से रत्न भाग्योदय में सहायक होंगे? कौन सी पूजा आपके लिए सही है. आपके प्रश्नों का उत्तर, कुंडली अनुसार. Get The Indepth Analysis of your horoscope संपर्क करे ज्योतिष से मार्गदर्शन के लिए >> पाइये कुंडली मिलान व