Skip to main content

Posts

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…
Recent posts

Kaise Kare Shukra Ko Majboot | Shukra astrology in Hindi

क्या है शुक्र ग्रह, शुक्र ग्रह का मानव जीवन में प्रभाव, क्या करे की शुक्र मजबूत हो, how to increase the power of Venus or shukra, benefits of shukra or Venus.
शुक्र को अंग्रेजी में Venus कहते हैं. ये सौर्य मंडल में सबसे चमकीला ग्रह है.शुक्र एक ऐसा ग्रह है जो की भौतिक जीवन को सुख संपत्ति से भर देता है. शुक्र ग्रह के अच्छा होने पर व्यक्ति को प्रेम संबंधो में भी सफलता मिलती है, वैवाहिक जीवन भी आनंद से गुजरता है और इसी के साथ समाज में भी उसे बहुत सम्मान मिलता है अतः शुक्र का कुंडली में मजबूत और अच्छा होना जरुरी है.दूसरी तरफ अगर शुक्र ग्रह खराब हो या कमजोर हो तो व्यक्ति को अपने व्यक्तिगत जीवन को सुखी करने के लिए बहुत सघर्ष करना होता है. प्रेम संबंधों में भी उसे सफलता नहीं मिलती है, सम्मोहन शक्ति के अभाव में हर कार्य में उसे कुछ ज्यादा मेहनत करना होता है. इसके अलावा शुक्र वीर्य का करक भी है, गुप्तांगो पर भी इसका प्रभाव रहता है. अगर किसी का शुक्र पीड़ित हो तो ऐसा व्यक्ति किसी न किसी कारण से गुप्त रोगों का शिकार हो जाता है. अतः सावधानी बरतनी चाहिए. अच्छा शुक्र व्यक्ति को खूब ठाट बाट देता है वही…

World Of Numerology In Hindi | अंको की दुनिया

अंको की दुनिया, अंक विज्ञान, ग्रह और सम्बंधित अंक, वार और सम्बंधित अंक, अंक ज्योतिष का महत्त्व, world of numerology, planets and numbers, days and related numbers, numerology in Hindi. 

अंक हमारे जीवन को हर जगह प्रभावित करते हैं, बिना अंको के हम जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं. कोई भी नाम हो, वास्तु, व्यक्ति, शहर, सामान आदि का उसे अंको में बदला जा सकता है और उससे सम्बंधित रहस्य को पता लगाया जा सकता है. अतः अंक विज्ञान बहुत महत्त्वपूर्ण है, इसके द्वारा हम अपने जीवन के लिए भाग्यशाली दिन, तारीख का चुनाव कर सकते हैं, हम अपने नाम में सही बदलाव कर सकते है, हम अपने ऑफिस, फैक्ट्री या फर्म का नाम सही रख सकते हैं जिससे सही मुनाफा हो.

अंक विज्ञान अपने आप में एक समग्र विज्ञान है जिसका इस्तेमाल दशकों से होता आया है. कोई भी इसका उपयोग कर सकता है बस जरुरत है थोडा अध्ययन और अभ्यास की.  किसी अच्छे ज्योतिष से सलाह लेके भी आप आने जीवन को सार्थक कर सकते हैं . ग्रह और उससे सम्बंधित अंक को जानिये:अंक 1 से सम्बंधित ग्रह है सूर्य.अंक 2 से सम्बंधित ग्रह है चन्द्रमा.अंक 3 से सम्बंधित ग्रह है गुरु.अंक 4 से स…

Number 9 Astrology In Hindi

अंक 9 का रहस्य, अंक नौ वाले व्यक्तियों के गुण, अंक 9 के रत्न और धातु, ज्योतिष द्वारा समाधान, number    9 astrology in Hindi,  characteristics of Number 9.

अंक 9 का सम्बन्ध मंगल ग्रह से है अतः ये इसका स्वामी ग्रह है. अगर आपका जन्म महीने की 9, 18 या 27 को हुआ है तो आपका शुभ अंक है 9. 
मंगल भी एक कठोर ग्रह है परन्तु ऊर्जा और रचनात्मकता का भी प्रतिक है. जिसका मंगल शक्तिशाली होता है ऐसे जातक बहुत क्रोधी, ताकतवर और साहसी भी होते हैं. परन्तु ये सब होते हुए भी ऐसे लोगो का जीवन भी संघर्षमय देखा गया है.
9 अंक वाले लोगो को अधीन करना बहुत टेढ़ी खीर होती है. ये स्वतंत्र होक काम करना पसंद करते हैं. ऐसे लोग अगर फ़ौज में हो या अन्य किसी रक्षात्मक सेवा में हो तो बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हैं.अगर इनकी ऊर्जा का सही स्तेमाल नहीं किया गया तो ये अपने खुद के लिए हानिकारक सिद्ध हो जाते हैं अर्थात गलत रास्ते पर चल पड़ते हैं.क्रोध के कारण ऐसे लोग रक्त सम्बन्धी विकार से ग्रस्त हो जाते हैं, पित्त दोष भी प्रकट होता है. ये लोग जिद्दी भी होते हैं जिसके कारण समाज में अनेक लोग इनके शत्रु हो जाते हैं और बहार क्या घर वालो स…

Totkay For Successful Saturday

टोटके शनिवार के लिए, कैसे करे शनिवार को सफल, क्या करे शनिवार को , how to make  Saturday successful, FREE best totkay for Saturday , tips for success, शनिवार के लिए टोटके।

शनिवार 1 कठोर दिन है क्यूंकि इस दिन का स्वामी है शनि. शनि ग्रह के कारण लोग इस दिन से डरते हैं . परन्तु ये उन लोगो के लिए अच्छा दिन है जिनके कुंडली में शनि अच्छा प्रभाव उत्पन्न कर रहा है. 
परन्तु जिनके कुंडली में शनि ख़राब है उन लोगो को इस दिन नुकसान उठाना पड़ता है. अतः इस दिन से लोग तोडा भयभीत रहते हैं. शनि देव को न्याय प्रिय है और ये व्यक्ति को उसके किये का फल प्रदान करते हैं. जो लोग सात्विक हैं और सही आचरण करते हैं उनको शनि से बिलकुल भी भयभीत होने की जरुरत नहीं है.  शनि को सावधानी: शनि को पश्चिम दिशा की यात्रा नहीं करना चाहिए अन्यथा हानि की संभावना बनती है और व्यक्ति परेशान होता है. व्यापार या व्यक्तिगत कार्यो में बाधा उत्पन्न होती है. शनिवार को करने योग्य टोटके:टोटके शनिवार के लिए, कैसे करे शनिवार को सफल, क्या करे शनिवार को , how to make  Saturday successful, FREE best totkay for Saturday , tips for success, शनिवार …

AshubhRahu ketu Ke Upaay Jyotish Me

अशुभ राहू और केतु के उपाय, जानिए कुछ आसान उपाय राहू और केतु के दुष्प्रभाव को कम करने के, कैसे पायें राहू और केतु की कृपा. राहू और केतु के उपाय जानने से पहले आइये जानते हैं की ख़राब राहू और केतु और कमजोर राहू और केतु में क्या अंतर है. अशुभ राहू और केतु मतलब है की राहू और केतु शत्रु राशि में बैठा है परन्तु कमजोर राहू और केतु शुभ और अशुभ दोनों हो सकता है.इस लेख में हम सिर्फ अशुभ राहू और केतु के उपाय ही देखने वाले है. कमजोर और दूषित राहू और केतु के उपाय अलग अलग होते हैं अतः भ्रमित नहीं होना चाहिए.राहू और केतु हमारे जीवन में बहुत महत्त्व रखता है और वैदिक ज्योतिष के हिसाब से राहू और केतु का सम्बन्ध भावना, अचानक फायदा या नुकसान, नकारात्मकता, नजर दोष, चोरी, कानूनी अड़चन, सांस की समस्या, मोक्ष, घाव आदि से है. अगर कुंडली में राहू और केतु शुभ है तो जातक को सफल और आनंदायक जीवन की प्राप्ति बहुत ही आसानी से हो जाती है. वही दूषित राहू और केतु अनेको समस्याएं उत्पन्न करता है जीवन में.
आइये जानते हैं की किस प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो सकती है ख़राब राहू और केतु के कारण:कांच पर धुल जमना या कांच का फीका…

Ashubh Shukra Ke Upaay Jyotish Me

अशुभ शुक्र के उपाय, जानिए कुछ आसान उपाय शुक्र के दुष्प्रभाव को कम करने के, कैसे पायें शुक्र की कृपा.


शुक्र के उपाय जानने से पहले आइये जानते हैं की ख़राब शुक्र और कमजोर शुक्र में क्या अंतर है. अशुभ शुक्र मतलब है की शुक्र शत्रु राशि में बैठा है परन्तु कमजोर शुक्र शुभ और अशुभ दोनों हो सकता है.इस लेख में हम सिर्फ अशुभ शुक्र के उपाय ही देखने वाले है. कमजोर और दूषित शुक्र के उपाय अलग अलग होते हैं अतः भ्रमित नहीं होना चाहिए.शुक्र हमारे जीवन में बहुत महत्त्व रखता है और वैदिक ज्योतिष के हिसाब से शुक्र प्रेम, ऐशो आराम, सेक्स जीवन, विपरीत लिंग से सम्बन्ध, उर्जा, सुखी वैवाहिक जीवन, ग्लैमर की दुनिया आदि से सम्बन्ध रखता है.अगर कुंडली में शुक्र शुभ है तो जातक को सफल और आनंदायक जीवन की प्राप्ति बहुत ही आसानी से हो जाती है. वही दूषित शुक्र अनेको समस्याएं उत्पन्न करता है जीवन में.

आइये जानते हैं की किस प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो सकती है ख़राब शुक्र के कारण:अशुभ शुक्र के कारण जातक को पढ़ाई में परेशानी आ सकती है.अशुभ शुक्र के कारण जातक को वैवाहिक जीवन में समस्या आ सकती है.ये सेक्स करने की ताकत को कम कर …