सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

vivah aur jyotish samadhaan लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Hindi Jyotish Website

Hindi astrology services || jyotish website in hindi|| Kundli reading || Birth Chart Calculation || Pitru Dosha Remedies || Love Life Reading || Solution of Health Issues in jyotish || Career Reading || Kalsarp Dosha Analysis and remedies || Grahan Dosha solutions || black magic analysis and solutions || Best Gems Stone Suggestions || Kala Jadu|| Rashifal || Predictions || Best astrologer || vedic jyotish || Online jyotish || Phone jyotish ||Janm Kundli || Dainik Rashifal || Saptahik Rashifal || love rashifal

Shaadi Se Lagta Hai Dar Janiye Karan

शादी के डर के कारण जानिए ज्योतिष में , गेमोफोबिया, Shaadi se dar ka karan aur samadhan, महिला को शादी से डर लगता है, पुरुष को शादी से डर लगता है, प्रतिबद्धता से डर लगता है, शादी के डर को कैसे दूर करें। Shaadi Se Lagta Hai Dar Janiye Karan: कई लड़के-लड़कियां मैसेज करते हैं कि मैं किसी से प्यार करता हूं/करती हूँ लेकिन शादी से डरते हैं, मेरा बॉय फ्रेंड कमिटमेंट क्यों नहीं ले पाता, शादी से डर के क्या कारण हैं। ये एक प्रकार का डर है और इसको "गैमोफोबिया" भी कहा जाता है। इसमें व्यक्ति खुद को सार्थक रिश्तों का आनंद लेने से दूर रखता है। परिवार या व्यक्तिगत जीवन में कुछ दर्दनाक घटनाएं व्यक्ति को जीवन भर प्रिय के साथ संबंध बनाने से डरने पर मजबूर कर सकती हैं। Shaadi Se Lagta Hai Dar Janiye Karan Read in English - Fear Of Marriage Reasons in Astrology इसलिए इस लेख का उद्देश्य विवाह के डर के बारे में व्यापक जानकारी प्रदान करना, इस चुनौती से उबरने के लिए मार्गदर्शन और रणनीतियाँ प्रदान करना है। प्रतिबद्धता के डर के कारणों को समझना और फिर इसे दूर करने के लिए कुछ व्यावहारिक कदम अपनाना आ

Vivah Kab Hoga Janiye विवाह योग

vivah kab hoga, vivah bhavishyawani in hindi, shaadi samasya samadhaan विवाह जीवन का एक महत्त्वपूर्ण पड़ाव है, ये वो समय होता है जब व्यक्ति गृहस्थ आश्रम मे प्रवेश करता है और किसी और की जिम्मेदारियों को भी उठाने के लिए कदम आगे बढ़ाता है. इस लेख मे हम जानेंगे कुंडली मे विवाह योग के बारे मे, हम जानेंगे कब होगा विवाह, हम जानेंगे विवाह समय के बारे मे.  vivah jyotish in hindi अगर कोई ये जानने का इच्छुक हो की कब होगा विवाह, अगर कोई दुबारा शादी करना चाहते हो, अगर कोई जीवन साथी को पाने के लिए इच्छुक हो तो इस लेख मे बहुत कुछ मिलेगा. हालांकि अपनी कुंडली को खुद ही देख लेना इतना भी आसान नहीं होता है अतः किसी अच्छे ज्योतिष से भी परामर्श जरुर लेना चाहिए. अगर शादी मे देर हो रही हो, अगर कोई साथी जीवन मे नहीं आ रहा है, अगर तलाक के बाद कोई फिर से विवाह करना चाहते हो, तो चिंता न करे, “हर चीज का एक समय होता है”. और ये भी हो सकता हो की कुंडली मे कोई ख़राब योग हो जिससे की समस्या उत्पन्न हो रही हो ऐसे मे ज्योतिष से सहायता लेनी चाहिए. ये लेख मे ये कोशिश रहेगी की विवाह से सम्बंधित विषयों को समझाया

Kundli Milan Ka Satya Vivah Se Pehle

Kundli Milan Ka Satya Vivah Se Pehle, अष्टकूट मिलान का सत्य विवाह से पहले, क्या कुंडली न मिलने पर भी विवाह संभव है, क्या अपने प्रेमी से विवाह संभव है कुंडली न मिलने पर भी. विवाह जीवन का एक महत्वपूर्ण निर्णय होता है, विवाह का निर्णय हमे अपने साथी के साथ जीवन भर रहने के मौका देता है और इसी सन्दर्भ में कुंडली मिलान होता है, वैदिक ज्योतिष के हिसाब से अष्टकूट मिलान का अंक अगर संतोषजनक नहीं है तो विवाह उपयुक्त नहीं जाता है.  kundli milan kyu jaruri hai परन्तु एक कड़वा सच ये है की अधूरे ज्ञान के कारण भी हम अपने प्रिये से अलगाव सहन करते रहते हैं, ऐसे कई रिश्ते हैं जो की कुंडली मिलान में संतोषजनक अंक न मिलने के कारण टूट गए. कई प्रेमी जोड़ो को रिश्तो को तोड़ना पड़ा क्यूंकि विवाह के समय कुंडली नहीं मिले. ये एक दुर्भाग्य की बात है की आज के दौर में हम सिर्फ सॉफ्टवेयर में मिलान करके जीवन का एक महत्वपूर्ण निर्णय ले लेते हैं.  शादी से लगता है डर !जानिए कारण  धयान रखने योग्य बात ये है की – ज्योतिष के ऐसे बहुत से रहस्य है जो साधारणतः मालूम नहीं होते , सिर्फ अनुभवी ज्योतिष ही इस सम्बन

Dusra Vivah Aur Jyotish

Dusra Vivah Aur Jyotish, दूसरा विवाह और ज्योतिष, दुसरे विवाह की जरुरत, कुंडली के हिसाब से दुसरे विवाह के योग, दुसरे विवाह के रूकावटो को कैसे हटाये ज्योतिष उपायों द्वारा. Dusra Vivah Aur Jyotish दूसरा विवाह और ज्योतिष: दूसरा विवाह  इतना आसान नहीं होता जितना की सुनने में लगता है. दुसरे विवाह के समय जातक को बहुत से समझौते करने होते हैं. परन्तु मनुष्य जीवन की कुछ जरूरतों को पूरा करने के लिए दूसरा विवाह जरुरी होता है. आइये जानते हैं कब जरुरी होता है दूसरा विवाह: दूसरा विवाह का अगर कोई फैसला करता है तो वो कतई गलत नहीं है, इससे जीवन को फिर से सुगम बनाया जा सकता है बस शर्त है की जातक कुछ बातो का ख्याल रखे. कुछ बाते जो की जातक को दुसरे विवाह के लिए मजबूर करते हैं: लम्बे जीवन को जीने के लिए किसी साथी की जरुरत – जीवन में साथी होना बहुत ख़ास होता है, इससे जीवन जीने में आसानी हो जाती है. एकांगी जीवन बहुत मुश्किल होता है इसीलिए सभी को एक अच्छे जीवन साथी की तलाश होती है जिसके साथ वो बैठ के बात कर सके, अपने विचार बाँट सके, सुख दुःख बाँट सके. बेमल शादी – ऐसे अक्सर देखा गया है की

Kanya Vivaah Ke Liye Jyotish Samadhan

कन्या विवाह के लिए ज्योतिष समाधान, लडकियों के शादी में कौन सी बाधाएं आती है, किन कारणों से कन्या के विवाह में देरी हो सकती है, पति कैसा होगा, कब होगी शादी, जानिए शीघ विवाह के लिए कुछ उपाय | Kanya Vivaah Ke Liye Jyotish Samadhan कन्या का विवाह परिवार के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण आयोजन होता है. लड़की की शादी हिन्दू परिवारों में पुण्य का कार्य माना जाता है. ये वो आयोजन है जब माता पिता अपने ह्रदय के टुकड़े को किसी और परिवार को सौंपते हैं. ये जीवन का सबसे महत्त्वपूर्ण अवसर होता है इसीलिए परिवार वाले अपने लाडली की शादी में कोई कसार नहीं छोड़ते हैं | हर माता पिता इस पुण्यशाली अवसर की प्रतीक्षा करते है. परन्तु कभी कभी कुंडली में ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं होने के कारण लड़की की शादी में देरी होती है. सभी गुण होने के बावजूद भी कन्या के विवाह में देरी होती है, सही लड़का नहीं मिलता है. कभी कभी तो लड़की का विवाह परिवार में बहुत गंभीर विषय बन जाता है. इस लेख के माध्यम से लोग जान पाएंगे की कौन से कारण विवाह में देरी करते हैं, क्या करे शीघ्र विवाह के लिए, ससुराल कैसा मिलेगा, पति कैसा मिलेगा आदि | कन्या क

Pati patni ke rishto ko sudharne ke jyotish upaay

पति-पत्नी के रिश्ते को सुधारने के ज्योतिषीय उपाय, पति-पत्नी के बीच के विवाद को दूर करने के उपाय, ज्योतिष के माध्यम से वैवाहिक जीवन को कैसे सुधारें, Astrological Remedies To Improve Husband Wife Relationship, पति-पत्नी के रिश्ते के लिए कौन से ग्रह जिम्मेदार हैं? | विवाह पति-पत्नी के बीच जीवन भर के लिए एक दिव्य बंधन है और इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है। शादी से जुड़े हर किसी के कुछ न कुछ सपने होते हैं लेकिन यह एक बहुत ही आम सोच है कि शादी के बाद सभी को बहुत कुछ भुगतना पड़ता है जो कि सभी के लिए बिल्कुल भी सच नहीं होता है। लेकिन कुछ जोड़े समय के साथ संबंधों में समस्याओं का सामना करते हैं, कुछ पति-पत्नी को विभिन्न कारणों से जीवन में एक साथ सुचारू रूप से चलने के लिए बहुत सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। Pati patni ke rishto ko sudharne ke jyotish upaay रिश्ते में बॉन्डिंग बनाए रखने के लिए दोनों तरफ से प्रयास की जरूरत होती है और कभी-कभी कोई कमजोर हो जाता है और रिश्ता टूटने लगता है। रिश्ते को फिर से जीवंत करने के लिए विभिन्न बिंदुओं का ध्यान रखना आवश्यक है ताकि जीवन भर एक साथ हर पल का आ

Vivah Bandhan Dosh ka Samadhan

Vivah Bandhan Dosh ka Samadhan, विवाह बंधन दोष के उपाय , शादी में देरी के कारण और शीघ्र शादी के उपाय | कुछ लोग ऐसे है जिनके पास हर तरह की खूबियाँ हैं, लायक है, धन की कमी नहीं है, शरीर भी अच्छा है परन्तु एक अच्छा जीवन साथी नहीं मिल रहा है |  ऐसे लोगो के माता पिता और रिश्तेदार भी योग्य जीवन साथी की तलाश में घूमते रहते हैं परन्तु सफलता नहीं मिल पाती है | इसके कारण चिंता बनी रहती है | कभी कुंडली मिलान नहीं होता है तो कभी परिवार नहीं जमता है तो कहीं वैचारिक मतभेद के कारण रिश्ते नहीं हो पाते हैं |  सबकुछ होते हुए भी सही जीवन साथी नहीं मिलने के बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे : जन्म कुंडली में विवाह स्थान का दूषित होना | सप्तम भाव पर किसी अशुभ ग्रह की दृष्टि होना | कुंडली के सुख स्थान में अशुभ ग्रहों का बैठना | विवाह स्थान के स्वामी का अत्यंत कमजोर होना | किसी का श्राप होना | विवाह स्थान पर पितृ दोष बनना | विवाह स्थान में ग्रहण दोष बनना | इसके अलावा नवमांश कुंडली में सुख भाव और विवाह भाव का दूषित होना भी शादी में अड़चने पैदा करता है | Read in english about obstacles in marriage so

Vivah Bhavishyawani

विवाह ज्योतिष भविष्यवाणियां, लव या अरेंज मैरिज, विवाह का समय, जन्म कुंडली के अनुसार जीवन साथी कैसा होगा। विवाह गणना उन लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है जो अपने जीवन के अगले चरण यानी व्यक्तिगत पारिवारिक जीवन के बारे में उत्सुक हैं। जब किसी को समय पर जीवनसाथी न मिल रहा हो, जब किसी को लगातार ब्रेकअप का सामना करना पड़ रहा हो, जब किसी को तलाक की समस्या का सामना करना पड़ रहा हो तो विवाह के लिए जन्म कुंडली का विश्लेषण आवश्यक है। इसलिए अगर शादी में देरी हो रही है. अगर शादी के लिए कॉल न आए तो यदि जीवनसाथी के बारे में बात करते समय बाधाएं आ रही हों। यदि किसी जोड़े को वैवाहिक जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, तो जन्म कुंडली का विश्लेषण कराना आवश्यक है ताकि जीवन में नाखुशी के कारण, विवाह में देरी के कारण, जीवन को सकारात्मक बनाने के उपाय जान सकें। Vivah Bhavishyawani  Marriage Astrology Predictions विवाह गणना किसी की कैसे मदद करती है? विवाह की गणना करते समय, ज्योतिषी जीवनसाथी पाने की सर्वोत्तम संभावित तिथियों, जीवनसाथी की प्रकृति, वैवाहिक जीवन को प्रभावित करने वाले विभिन्न ग्रहों के प्

Prem Vivah Mai Safalta ke liye Krishn Mantra

Prem Vivah Mai Safalta ke liye Krishn Mantra, Krishna Mantra for love marriage, सफल प्रेम विवाह के लिए कृष्ण मंत्र. भगवान कृष्ण हिंदू देवताओं में एक महत्वपूर्ण देवता हैं। भगवान कृष्ण सार्वभौमिक रूप से लोकप्रिय हैं और न केवल हिंदू धर्म में बल्कि अन्य धर्मों के कई लोगों द्वारा भी व्यापक रूप से पूजे जाते हैं। भगवान कृष्ण भगवान विष्णु के ही अवतार हैं। कृष्ण सभी हिंदू देवताओं में सबसे तेजस्वी और गतिशील हैं। वेदों के अनुसार, बृज में जन्मे और पले-बढ़े कृष्ण एक बेहद शरारती बच्चे थे, जो गाँव में महिलाओं के बर्तन से मक्खन चुराते हुए घूमते थे।अपने बाल्यकाल में ही उन्होंने कई शैतानी शक्तियों का नाश कर दिया था | Table of Content: परिचय भगवान कृष्ण मंत्र के लाभ कृष्ण मंत्र: आनंदमय प्रेम विवाह का प्रवेश द्वार कृष्ण मंत्र का जाप करेने के लिए कुछ निर्देश   Mantra of Lord Krishna अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ) Prem Vivah Mai Safalta ke liye Krishn Mantra कृष्ण शांति, समृद्धि, प्रेम और बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतिनिधित्व करते हैं। कृष्ण के भक्त अहंकार, अभिमान और समाज की बुराइयों से मुक्त महस

Follow on Facebook For Regular Updates