vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे 
free jyotish, hindi jyotish, vedic jyotish online, google jyotish
hindi jyotish sewa online
समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है. 
विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है. 
ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है. 
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है. 
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है. 

आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :

  • जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आपके वैवाहिक जीवन के बारे मे ?, कब होगा विवाह, कैसा रहेगा वैवाहिक जीवन, क्यों परेशानी आ रही है वैवाहिक जीवन मे, ज्योतिष के हिसाब से क्या करें सुखी वैवाहिक जीवन के लिए.
  • अगर प्रेम जीवन मे परेशानी आ रही है तो भी आप ज्योतिष के हिसाब से कुंडली मिलवा के जान सकते हैं की क्यों आ रही है प्रेम मे खटास, कैसे बनाए प्रेम को बेहतर, कैसे मजबूत करे संबंधो को. कौन सी पूजा या रत्न शुभ रहेगा प्रेम जीवन के  लिए. 
  • जानिए क्या कहती है कुंडली आपके कामकाजी जीवन के बारे मे, क्यों बॉस खुश नहीं है , क्यों व्यापार नहीं चल रहा है, कब होगा भाग्योदय. 
  • जानिए अपने स्वास्थ्य समस्याओं के ज्योतिषीय कारणों को , जानिए कैसे ग्रह बिगाड़ते हैं जीवन को, जानिए कैसे ठीक कर सकते हैं स्वास्थय को ज्योतिष के उपायों के द्वारा.
  • अगर आप काले जादू से परेशान है तो भी आप ज्योतिष द्वारा मार्ग दर्शन प्राप्त कर सकते हैं. अगर आप नजर दोष से परेशान है , बार बार की कोशिशे भी काम नहीं कर रही है तो जरुर परामर्श ले और दूर करे समस्याओं को ज्योतिष के माध्यम से. 

Kya Khoya Prem Wapas Paa Sakte Hain Jyotish Se

क्या खोया प्रेम वापस पाया जा सकता है, क्या खोया प्यार पाने में ज्योतिष सहायता कर सकता है, जानिए कैसे परा विद्याओं का प्रयोग होता है खोया प्रेम पाने के लिए. 
क्या खोया प्रेम वापस पाया जा सकता है, क्या खोया प्यार पाने में ज्योतिष सहायता कर सकता है, जानिए कैसे परा विद्याओं का प्रयोग होता है खोया प्रेम पाने के लिए.
jyotish se khoya prem kaise paayen

प्रेम तो जीवन का आधार है, इस दुनिया में सभी सच्चे प्रेम को पाने के लिए कोशिश करते हैं. कुछ लोगो को सच्चा प्रेम मिल चूका है, कुछ लोग अभी भी संघर्ष कर रहे है और कुछ लोग प्रेम पाने के बाद उसे खो चुके है विभिन्न कारणों से.

आइये जानते हैं कुछ कारण प्रेम को खो बैठने के ;

  1. कुछ लोग अपने खुद के गलतियों के कारण, झूठे अहंकार के कारण, विचलित दिमाग के कारण अपना प्रेम खो चुके है.
  2. कुछ लोग अपने साथी को समझ नहीं पाए जिससे साथ खो दिया.
  3. कुछ लोग २ संबंधो को बनाने के चक्कर में अपने असली प्रेमी से बिछड़ गए.
  4. कुछ प्रेमियों के बीच में तीसरा आ गया या गई जिससे सम्बन्ध ख़त्म हो गए.
  5. कुछ लोगो को अपने सही साथी से ज्यादा अपेक्षा थी जिससे सम्बन्ध ख़राब हो गए.
  6. कुछ लोगो काले जादू के प्रभाव के कारण भी अपने साथी से बिछड़ गए.
अतः प्रेम के ख़त्म होने या प्रेमी से बिछड़ने के कोई भी कारण हो सकते हैं. अब प्रश्न ये उठता है की क्या ज्योतिष खोये प्रेम को वापस पाने में सहायता कर सकता है, क्या ज्योतिष के द्वारा अपने प्रेमी से फिर सम्बन्ध बनाया जा सकता है, प्रेम ज्योतिष कितना सहायक है?.
ज्योतिष ये विश्वास करता है की अगर कोई घटना घट रही है तो उसके पीछे कहीं न कहीं ग्रहों का प्रभाव है क्यूंकि जन्म से ही ग्रहों का असर हमारे ऊपर रहता है. अतः ज्योतिष को हम नजर अंदाज नहीं कर सकते हैं.

आइये अब जानते है की लोग किन परा विद्याओं का स्तेमाल करते हैं प्रेम को वापस पाने के लिए ?

  • कुछ जानकार लोग वशीकरण विद्या का प्रयोग करते हैं प्रेमी को वापस पाने के लिए.
  • कुछ लोग काले जादू का प्रयोग करते हैं अपने खोये प्रेम को वापस पाने के लिए.
  • कुछ लोग यन्त्र पूजा का सहारा लेते हैं प्रेम को पाने के लिए.
  • कुछ लोग योग मार्ग के सम्मोहन विद्या का प्रयोग करते हैं.
अतः ऐसे बहुत से तरीके है जिससे की आकर्षण प्रयोग किया जा सकता है.

आइये अब जानते हैं की ज्योतिष कैसे प्रेम को वापस पाने में मदद कर सकता है?

Shani Jayanti Ka Mahattw In Hindi

शनि जयंती का महत्त्व हिंदी मे, क्या करे शनि जयंती को सफलता के लिए, शनि पूजा का आसान तरीका. 

kya kare shani jayanti ko, shani aur jyotish, shani ke upaay
शनि जयंती का महत्त्व
शनि देव का सम्बन्ध न्याय से है इसी कारण लोग साधारणतः शनि से डरते हैं. शनि जयंती एक विशेष दिन है जब लोग शनि की विशेष पूजा पाठ करते हैं ताकि शनि की कृपा प्राप्त किया जा सके. ये दिन विशेष महत्त्व रखता है इसिलिये भक्त शनि स्त्रोत, शनि मंत्र, शनि का अभिषेक करते हैं, हवन करते हैं , जरूरतों की मदद करते हैं. 

अंग्रेजी मे शनि को Saturn कहा जाता है, ज्योतिष के हिसाब से ये एक कठोर ग्रह है और इसका सम्बन्ध भूमि, लोहा, आन्तरिक शारीरिक अंग, काला रंग आदि से होता है. ये पश्चिम दिशा का स्वामी है.

ऐसी मान्यता है की शनि देव भागवाद सूर्य और माता छाया के पुत्र है.
ऐसी भी मान्यता है की शनि देव का जन्म ज्येष्ठ महीने की अमावस्या को हुआ था इसी कारण हर साल लोग बड़े हर्षोल्लास से इसी दिन शनि जयंती मनाते हैं. 

२०१७ मे शनि जयंती का महत्त्व :

२०१७ मे शनि जयंती २५ मई को आ रहा है , इस दिन शनिवार है और दोपहर बाद रोहिणी नक्षत्र भी लग जाएगा. अतः ये दिन बहुत ख़ास हो जाता है उन लोगो के लिए जो शनि को खुश करना चाहते हैं.
  • अगर कुंडली मे शनि खराब हो तो शनि की पूजा इस दिन करे.
  • अगर कोई नकारात्मक उर्जा , काला जादू, नजर दोष से ग्रस्त हो तो भी शनि जयंती का दिन पूजा के लिए बहुत अच्छा है.
  • अगर कोई सिर्फ शनी देव से आशीर्वाद चाहते हो तो भी ये दिन बहुत ख़ास है.
  • अगर किन्ही की कुंडली मे पितृ दोष हो तो भी इस दिन पूजा कर सकते हैं क्यूंकि अमावस्या पड़ रही है.
अतः किसी भी हालत मे इस दिन को छोड़िये मत.
अच्छे योग बन रहे है शनि जयंती को.

आइये जानते है आसान तरीके शनि को खुश करने के :

Kale Jadu Se Rokthaam Sambandhit Upaay

काले जादू को रोकने हेतु उपाय, कैसे बचाव करे काले जादू से, कैसे दूर करे नकारात्मक उर्जाओं को.
काले जादू को रोकने हेतु उपाय, कैसे बचाव करे काले जादू से, कैसे दूर करे नकारात्मक उर्जाओं को.
kale jadu se roktham ke upaay hindi me

जो लोग किसी भी हालत में अपने कार्यो को करना चाहते है और जो लोग नकारात्मक दिमाग से जुड़े होते हैं, जिनका दिमाग शैतानी होता है वे लोग काले जादू का सहारा लेते हैं अपने कार्यो को पूरा करने हेतु. बहुत कम लोग जानते हैं की काले जादू का स्तेमाल प्रयोगकर्ता के जीवन को भी बर्बाद कर सकता है.
काले जादू से जो नुक्सान होता है उसकी भरपाई करना नामुमकिन हो जाता है. अतः इससे बचाव करना जरुरी होता है.
ऐसा कहा जाता है की “इलाज से अच्छा है बचाव करना ”. अतः अगर हम कुछ बातो का ध्यान रखे तो हम काले जादू से अपना बचाव कर सकते हैं. इस लेख में हम यही देखेंगे की कैसे काले जादू के प्रभाव से अपने आपको बचाएं.
कुछ लोग इस आधुनिक में काले जादू के अस्तित्व को नकारते हैं परन्तु जो इस मुसीबत में फंसता है उनको इसके प्रभाव के बारे में पता है.

क्या आप जानते हैं की काले जादू को करने के लिए कौन से वस्तुओं का स्तेमाल किया जाता है :

  1. मोम की गुडिया, घास की गुड़िया, या अन्य किसी चीज से बनाई हुई गुड़िया का प्रयोग किया जाता है और इनका स्तेमाल पुतला तंत्र को अंजाम देने के लिए किया जाता है.
  2. पैरो की धुल का स्तेमाल वशीकरण को अंजाम देने के लिए लोग करते हैं.
  3. किसी के कपड़ो का स्तेमाल करके भी काला जादू किया जा सकता है.
  4. निम्बू का स्तेमाल भी काले जादू में किया जाता है.
  5. नाखुनो का स्तेमाल से भी नुक्सान किया जाता है.
  6. मदिरा, पान, सुपारी का स्तेमाल भी किया जाता है.
  7. किसी के फोटो का स्तेमाल करके भी काला जादू किया जा सकता है.
  8. किसी के बाल, श्रीफल, हल्दी, लोहे की कीलें, सुइयां, हड्डियाँ, राख, कोयला आदि का स्तेमाल भी गलत तांत्रिक करते हैं काले जादू के लिए.
  9. काली मिर्च और लाल मिर्ची का स्तेमाल भी कुछ पूजाओ में किया जाता है.
ऊपर मैंने ये बताया की किन वस्तुओ का स्तेमाल किया जा सकता है अतः अगर आपको किसी पे शक हो की कोई आपको नुक्सान पहुंचा सकता है तो ऐसी चीजे उसको अपने पास से नहीं देना चाहिए.
शोध में ये भी पता चला है की कला जादू कोई अपरिचित नहीं करता है, ये अक्सर जान पहचान के लोगो द्वारा ही किया जाता है,

आइये अब जानते हैं की काले जादू से बचाव के कुछ उपाय क्या हो सकते हैं:

  • अपने गुप्त जानकारियों को कभी भी अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से साझा न करे.
  • अमावस्या को किसी के साथ मांसाहार न खाए
  • अगर आपको कभी अपने ऊपर नकारात्मकता का असर जान पड़े तो निम्बू ले के उतारा करे और साथ ही हनुमानजी का सिन्दूर का तिलक भी लगाएं.
  • अगर ग्रह कुंडली में कमजोर हो तो वैश्यालयो में भी न जाएँ.
  • अगर व्यापारिक स्थल पर कोई गलत चीज दिखाई दे तो उसे तुरंत उठा के फेंक दे या आग लगा दे और किसी अच्छे ज्योतिष से सलाह ले.

कैसे ज्योतिष आपकी मदद कर सकते हैं:

ज्योतिष आपकी समस्याओं को जानकार कुंडली को देखके आपको कवच या पूजा पाठ करने की सलाह दे सकते हैं जिससे काले जादू का असर न हो.

और सम्बंधित लेख पढ़े:
Black magic preventive measures from astrologer

काले जादू को रोकने हेतु उपाय, कैसे बचाव करे काले जादू से, कैसे दूर करे नकारात्मक उर्जाओं को.

Vivah Ke Baad Anaitik Sambandh Aur Jyotish

विवाह के बाद अनैतिक सम्बन्ध क्यों बनते हैं, जानिए क्या ज्योतिषीय कारण हो सकते हैं अनैतिक संबंधो के.
विवाह के बाद अनैतिक सम्बन्ध क्यों बनते हैं, जानिए क्या ज्योतिषीय कारण हो सकते हैं अनैतिक संबंधो के.
vivah baad aved sambandh

आज के इस युग में असंतोष होने के कारण या फिर ज्यादा चाह की इच्छा के कारण अनैतिक सम्बन्ध बहुत बन रहे है जिनके कारण तलक के मुद्दे भी बढ़ते जा रहे हैं.
शादी के बाद यदि कोई दूसरा सम्बन्ध बना रहा है तो इसका मतलब है की उसके किसी इच्छा की पूर्ति नहीं हो रही है और उस इच्छा को पूरा करने के लिए वो दुसरे की तलाश करता है और सम्बन्ध बनाता है या बनाती है.
आज अवैध संबंधो के कारण बहुत से क्राइम भी हो रहा है.
आज अनैतिक संबंधो के कारण बहुत से तलाक भी हो रहे है.
आज इसके कारण कई परिवार रोज अलग हो रहे है.

आइये जानते हैं कुछ आम कारण अनैतिक संबंधो के लिए:

  1. विवाह के बाद सम्बन्ध का एक कारण विवाह से पहले का प्रेम भी हो सकता है जिसे लड़का या लड़की भुला नहीं पा रहे हो.
  2. कुछ लोग विवाह के बाद भी किसी और से प्रेम कर बैठते हैं और सम्बन्ध बन जाते हैं.
  3. कुछ लोग अपने रोजाना की जिन्दगी से ऊब जाते हैं और इससे बाहर आने के लिए दूसरा सम्बन्ध बनाते हैं.
  4. कुछ दंपत्ति शादी के बाद भी एक दुसरे से भावनापूर्ण सम्बन्ध नहीं बना पाते हैं और दुसरे सम्बन्ध बना लेते हैं.
  5. कुछ दंपत्ति में आपसी समझ की कमी होती है जिससे वे दुसरे सम्बन्ध बना बैठते हैं.
  6. कुछ लोग अपने साथी के साथ सेक्स में संतुष्ट नहीं हो पाते हैं और दुसरे से सम्बन्ध बनाते हैं.
  7. कुछ लोग तो अपने माता पिता की मर्जी से मज़बूरी में शादी करते हैं और बाद में भी किसी और से सम्बन्ध बना लेते हैं.
  8. कुछ लोग अपने अकेलेपन से छुटकारे के लिए अनैतिक सम्बन्ध बना लेते हैं.
  9. आज कल तो कुछ लोग अपने जॉब में उन्नति के लिए भी उच्च अधिकारियों से सम्बन्ध बनाने लगे हैं पर ऐसा सिर्फ कामकाजी लोगो के साथ होता है.
अतः विवाह बाद संबंधो के लिए कोई भी कारण हो सकता है परन्तु सच ये है की इससे पारिवारिक जीवन खतरे में पड़ जाता है अतः इससे निकलना जरुरी है.

आइये अब जानते हैं Extra Marital Affairs के कुछ ज्योतिषीय कारण :