vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे 
free jyotish, hindi jyotish, vedic jyotish online, google jyotish
hindi jyotish sewa online
समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है. 
विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है. 
ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है. 
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है. 
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है. 

आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :

  • जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आपके वैवाहिक जीवन के बारे मे ?, कब होगा विवाह, कैसा रहेगा वैवाहिक जीवन, क्यों परेशानी आ रही है वैवाहिक जीवन मे, ज्योतिष के हिसाब से क्या करें सुखी वैवाहिक जीवन के लिए.
  • अगर प्रेम जीवन मे परेशानी आ रही है तो भी आप ज्योतिष के हिसाब से कुंडली मिलवा के जान सकते हैं की क्यों आ रही है प्रेम मे खटास, कैसे बनाए प्रेम को बेहतर, कैसे मजबूत करे संबंधो को. कौन सी पूजा या रत्न शुभ रहेगा प्रेम जीवन के  लिए. 
  • जानिए क्या कहती है कुंडली आपके कामकाजी जीवन के बारे मे, क्यों बॉस खुश नहीं है , क्यों व्यापार नहीं चल रहा है, कब होगा भाग्योदय. 
  • जानिए अपने स्वास्थ्य समस्याओं के ज्योतिषीय कारणों को , जानिए कैसे ग्रह बिगाड़ते हैं जीवन को, जानिए कैसे ठीक कर सकते हैं स्वास्थय को ज्योतिष के उपायों के द्वारा.
  • अगर आप काले जादू से परेशान है तो भी आप ज्योतिष द्वारा मार्ग दर्शन प्राप्त कर सकते हैं. अगर आप नजर दोष से परेशान है , बार बार की कोशिशे भी काम नहीं कर रही है तो जरुर परामर्श ले और दूर करे समस्याओं को ज्योतिष के माध्यम से. 

Contact Jyotish || ज्योतिष परामर्श

ज्योतिष समाधान केंद्र, ऑनलाइन ज्योतिष सेवा, ज्योतिष परामर्श केंद्र हिंदी में, वैदिक ज्योतिष परामर्श केंद्र.
ज्योतिष समाधान केंद्र, ऑनलाइन ज्योतिष सेवा, ज्योतिष परामर्श केंद्र हिंदी में, वैदिक ज्योतिष परामर्श केंद्र.
jyotish paramarsh kendr online

अगर आप विश्वसनीय ज्योतिषीय सेवा चाहते हैं अपने जीवन को सफल बनाने के लिए तो jyotishsansar.com के माध्यम से आप ज्योतिष से संपर्क करके सलाह ले सकते हैं.

अगर आप जानना चाहते हैं अपने कुंडली में मौजूद शक्तिशाली ग्रहों के बारे में , अगर आप जानना चाहते हैं अपने कुंडली में मौजूद कमजोर ग्रहों के बारे में, अगर आप जानना चाहते हैं ग्रहों के जीवन पर प्रभाव के बारे में तो अभी सलाह ले सकते हैं ऑनलाइन ज्योतिष से.

आप पा सकते है सटीक भविष्यवाणी ज्योतिष के नियमो के अनुसार, इस ब्लॉग में आप फ्री ज्योतिष के लेखो को भी पढ़ सकते हैं और अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं रोज, किसी भी समय.

ये ज्योतिषीय ब्लॉग रोज अपडेट किया जाता है ज्योतिष द्वारा ताकि सभी को सही और वर्त्तमान में ग्रह दशाओं की जानकारी भी मिला करे. अतः जानिए ग्रहों में होने वाले बदलाव और उनके जीवन में प्रभाव को हिंदी ज्योतिष द्वारा.

यहाँ आपके द्वारा भेजी गई जानकारी को पूर्णतः गुप्त रखा जाता है.
ज्योतिष स्वयं ही हर कुंडली को देखते हैं और भविष्यवाणी करते हैं. ज्योतिष एक विज्ञान है जीवन के रहस्यों को समझने का. ज्योतिष कुंडली को देख के जीवन में होने वाले घटनाओं को समहते हैं. इससे जीवन में आने वाले ख़राब समय, अच्छे समय के बारे में पता लगाया जा सकता है.
  • पाइए समाधान कुंडली दिखवा के कालसर्प योग का
  • जानिए क्या कारण है प्रेम संबंधो में खटास का वैदिक ज्योतिष के हिसाब से.
  • जानिए काले जादू का असरतो कही जीवन को ख़राब नहीं कर रहा है.
  • जानिए भविष्य वक्ता से भविष्यवाणियो को कुंडली के आधार पर
  • जानिए क्या समाधान हो सकता है वास्तु दोषों का . ;
  • आप सलाह ले सकते हैं बिमारिओ से छुटकारे के लिए भी
  • आप संपर्क कर सकते हैं कुंडली मिलान के लिए सुखी वैवाहिक जीवन के लिए.
  • जानिए समाधान मंगल दोष का वैदिक ज्योतिष में
  • पाइये समाधान ग्रहण योग का कुंडली में
  • जानिए कैसे ग्रह प्रभावित करते हैं काम काजी जीवन को, व्यक्तिगत जीवन को
  • जानिए कैसे महादशा और अन्तर्दशा में जीवन में फर्क पड़ता है.
  • आप संपर्क कर सकते हैं हस्त रेखा के लिए, अंक गणित द्वारा भविष्यवाणी के लिए, कुंडली दिखवाने के लिए, भाग्यशाली रत्नों के लिए.

जानिए ज्योतिषीय परामर्श शुल्क के बारे में











कृपया consulting Fees निम्न खाते में जमा करे :

खाता धारक का नाम : ओम प्रकाश भटनागर
बैंक का नाम : ICICI BANK
खाता संख्या : 030001002297
NEFT/RTGS हेतु : ICIC0000300
IFSC CODE
Branch : Ujjain

कुंडली दिखवाने के लिए निम्न जानकारियों को भेजे -

email to –askjyotishsansar@gmail.com


काला जादू से का पता लगाने के लिए निम्न जानकारी भेजे-


अंक गणित द्वारा भविष्यवाणी के लिए निम्न जानकारी भेजे


हस्त रेखा के लिए निम्न जानकारी भेजे -


वास्तु समाधान के लिए निम्न जानकारी भेजे -


email to -askjyotishsansar@gmail.com

ज्योतिष समाधान केंद्र, ऑनलाइन ज्योतिष सेवा, ज्योतिष परामर्श केंद्र हिंदी में, वैदिक ज्योतिष परामर्श केंद्र.

Navratri Mai kala Jadu Se Suraksha

Navratri mai kala jadu se suraksha in hindi

,  नवरात्री में काला जादू से बचाव के उपाय, वस्तुएं जिनका प्रयोग किया जाता है काला जादू में, कैसे बचाए खुद को , व्यापार को , परिवार को काले जादू से. 
Free mai janiye kala jadu se kaise bachaye navratri main
kala jadu se bachaaw kare navratri mai
ऐसा कहा जाता है की सिक्के के दो पहलु होते है एक सकारात्मक और दूसरा नकारात्मक. नवरात्री नौ दिन जो की अत्यंत शक्तिशाली माने जाते हैं साधना के लिए में भी दोनों प्रकार की साधनाए की जाती है. 
सात्विक लोग जहा देवी और देवता की सात्विक साधना करते हैं वहीँ नकारात्मक विचारधारा से ग्रस्त लोग काले जादू और काले इल्म की साधना करते हैं. 
ये काले जादू की साधनाए बहुत खतरनाक भी साबित होती है , ये सिर्फ जिसपे किया जाए उसका ही नुक्सान नहीं करती अपितु ये करनेवाले का भी सब कुछ बर्बाद करने की क्षमता रखती है. और देखा भी गया है की जिन्होंने अदृश्य शक्तियों का गलत इस्तेमाल किया है उनका हाल बहुत ख़राब हुआ है.
ऐसा इसीलिए होता है क्यूंकि हम बुरे से अच्छाई की उम्मीद नहीं रख सकते. शुरुआत में साधक को बहुत फायदे होते हैं परन्तु धीरे धीरे वो खुद ही इसमे फंस जाता है. 
ऐसे बहुत से लोग है जो मेरे संपर्क में आये है जिन्होंने अपने शुरूआती समय में जल्दी पाने की उम्मीद में इस काली विद्या का प्रयोग किया परन्तु बाद में अनेक परकार की पारिवारिक, शारीरिक और सामाजिक समस्याओं में फंश गए जिनका कारण आज तक अज्ञात है.
इसीलिए यही सलाह दी जाती है की कृपया इस प्रकार के प्रयोग से बचे और दूसरो को भी बचाए. 

आइये देखते हैं कुछ चीजो को जिनका प्रयोग काली विद्या में किया जाता है:

जैसा की नाम बताता है की ये काला जादू है अतः इसमे इस्तेमाल होनेवाले समान भी ठीक नहीं होते हैं. इस विद्या में हालांकि अनेक चीजो का प्रयोग किया जाता है परन्तु साधारणतः पिन, काले कपडे, मांस, गुडिया, लोहे की कीले, गंदे कपडे, पैरो की मिटटी, राइ, राख, हड्डी, जानवरों के शारीर के अंग, सिन्दूर, अंडा, निम्बू आदि का इस्तेमाल बहुतायत में देखा गया है. 
जब नकारात्मक मंत्रो के साथ इन सामग्रियों का इस्तेमाल किया जाता है तो भयानक परिणाम सामने आते है जिससे शिकार हुए व्यक्ति को अनेक प्रकार के नुक्सान उठाना होता है. 

नवरात्री में काला जादू :

नवरात्री के 9 दिन बहुत शक्तिशाली दिन होते है जब कुछ लोग नकारात्मक शक्तियों की अराधना भी करते हैं जिससे दुसरो को नुक्सान हो और कुछ लोग काला जादू से बचाओ के लिए उतारे करके भी चौराहे, तिराहे और अन्य स्थान में रखते हैं अतः ये जरुरी हो जाता है की नवरात्री में हम सावधान रहे और यात्रा के दौरान ऐसे चीजो से बाख के रहे. 

कैसे बचाए अपने आपको काले जादू से नवरात्री में ?

Chaitra Navratri || चैत्र नवरात्री

जैसा की हम सब जानते है की नवरात्री के 9 दिन बहुत महत्त्वपूर्ण होते हैं, साधना के लिए, मनोकामना पूर्ण करने के लिए, पूजा पाठ करने के लिए. हालांकि साल के सभी नवरात्री महत्त्वपूर्ण और शक्तिशाली होते है परन्तु २०१७ की नवरात्री ख़ास है क्यूंकि ये सिंहस्थ के पहले आ रहा है साथ ही कुछ महत्त्वपूर्ण योग भी ला रहा है. अगर कोई अपनी मनोकामना पूर्ण करना चाहते है तो उन्हें जरुर माताजी की साधना करना चाहिए इन 9 दिनों मे.
Chaitra Navratri 2017 चैत्र नवरात्री, chaitra navratri ka mahattwa in hindi, kya kare
चैत्र नवरात्री 
चैत्र महिना हिन्दू पंचांग के हिसाब से पहला महिना होता है इसिलिये भी बहुत महत्त्वपूर्ण है. चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को नवरात्री का पहला दिन होता है. ये दिन गुडी पडवा और चेटी चंड के रूप मे भी मनाया जाता है. चैत्र नवरात्री का नौवा दिन राम नवमी के रूप मे भी मनाया जाता है. 
ये गर्मियों के दिन की शुरुआत का संकेत भी है अतः हमे साधना द्वारा शक्ति हासिल करना चाहिए जिससे की हम बदलते हुए वातावरण को पचा सके और स्वस्थ रह सके. 
नवरात्री के 9 दिन भक्त देवी के अलग अलग रूपों की पूजा करते है. 

आइये अब जानते है की इस चैत्र नवरात्री के दौरान कौन कौन से मुख्य दिन आ रहे है :

  1. घट स्थापना २९ मार्च  को होगी, कुछ लोग २८ को भी करेंगे.  
  2. सौभाग्य सुंदरी व्रत ३० मार्च को है.
  3. गणेश चतुर्थी ३१ मार्च को है. 
  4.  श्री राम नवमी और पुष्य योग ५ अप्रैल को होगा 
  5. गुरु अनंग देव पुण्य तिथि भी ३१ मार्च को है. 
  6. महा अष्टमी/दुर्गा अष्टमी ४ अप्रैल को है. 
नवरात्री मे साधक गण मुख्यतः दुर्गा शप्तशती का पाठ करते है और माता के मंत्रो का जप करते है अलग अलग कामनाओं की पूर्ति हेतु. 
इन 9 दिनों मे वातावरण दिव्य हो जाता है, हर तरफ माता की शक्ति का प्रभाव महसूस किया जा सकता है. 

आइये अब देखते है कौन कौन से मुख्य योग आ रहे है चैत्र नवरात्री २०१७ मे:

Navratri Vashikaran नवरात्री वशीकरण

Navratri Vashikaran नवरात्री वशीकरण

, कैसे करे नवरात्री में वशीकरण साधना, कैसे बढाए अपनी सम्मोहन शक्ति वशीकरण मंत्रो द्वारा नवरात्री में.
free vashikaran advice in hindi
vashikaran sadhna navratri mai
नवरात्री अर्थात साधना के लिए उपयुक्त 9 रातें जिनका इन्तेजार हर साधक पुरे वर्ष भर करते हैं. इन रात्रियों में सकरात्मक शक्तियां भक्तो का कल्याण करने के लिए तत्पर रहती हैं. देखा जाए तो पितृ पक्ष से लेके दिवाली तक का पूरा समय ही साधना के लिए उपयुक्त होता है और ऐसे में हमे कोई भी क्षण व्यर्थ नहीं गवाना चाहिए. 
ये लेख उन लोगो के लिए है जो की अपनी सम्मोहन शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं जो वशीकरण की शक्ति को देखना चाहते हैं और एक स्वस्थ और संपन्न जीवन व्यतीत करना चाहते हैं.

नवरात्री में हालांकि किसी भी प्रकार की साधना सफल हो सकती है परन्तु वशीकरण साधना का अपना एक अलग ही महत्तव है. इसके अंतर्गत किसी विशेष शक्ति को अपनी और आकर्षित करने के लिए साधना की जाती है, अपने अन्दर की शक्तियों को जगाने के लिए साधना की जाती है, अपना सकारात्मक प्रभाव और सकारात्मक और को बढ़ाने के लिए साधना की जाती है.

आकर्षण शक्ति का होना अपने आप में अलग ही महत्तव रखता है और जीवन में सफलता के लिए आकर्षण शक्ति का अपना अलग ही महत्तव है.

दुर्गाशप्तशती में भी ये साफ़ साफ़ लिखा है की जो महा शक्ति की आराधना करता है उसके लिए वशीकरण, मोहन आसान हो जाता है. नवरात्री तो माता रानी की पूजा आराधना का विशेष समय होता है जब वातावरण में महाशक्ति की कृपा साफ़ नजर आती है , हर तरफ लोग पूजा आराधना में लगे रहते हैं. ऐसे में अगर कोई वशीकरण या आकर्षण साधना करना चाहता है तो उसे बहुत लाभ हो सकता है. 
नवरात्री में की गई साधना से भक्त नाम, पैसा, समृद्धता, स्वास्थ्य सभी कुछ प्राप्त कर सकता है.

आइये अब जानते हैं की वशीकरण क्या होता है ?

वशीकरण शक्ति से मतलब होता है साधना द्वारा अपनी मानसिक शक्ति को उस ऊँचाई तक पहुचना की जिसके बारे में आप सोचे वो आपके लिए सोचना शुरू कर दे और आपसे मिलना चाहे. इस साधना द्वारा किसी के मन में अपने लिए सकारात्मक छवि बनाने में मदद मिलती है.

नोट: कई लोग इस विद्या का अनावश्यक प्रयोग करना चाहते हैं जो की बहुत ही हानिकारक सिद्ध हो सकता है, इसका प्रयोग किसी को उसके इच्छा के विरुद्ध कार्य करने के लिए न करे और न ही उसका दुरूपयोग करे अन्यथा जीवन में इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं.

नवरात्री में वशीकरण साधना का महत्तव:

नवरात्री में सब तारफ एक विशेष वातावरण का निर्माण हो जाता है जो की साधना के लिए उपयुक्त होता है अतः इस समय में कोई भी व्यक्ति बहुत अच्छा प्रयोग कर सकता है जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए. ऐसे में खुद की शक्ति को बढ़ाने के लिए पूर्ण रूप से प्रयास करना चाहिए.
सावधान रहिये :
उन भ्रामक विज्ञापनों से जिसमे आपको कुछ ही घंटो में आपकी इच्छाओं को पूरी करने के लिए विश्वास दिलाया जाता है. 
याद रखे की साधना ही सफलता का मूल है और उसे करना पड़ता है, साधना ख़रीदा नहीं जा सकता .

कोई भी आपकी जिन्दगी नहीं बदल सकता जब तक की आप खुद न चाहे.

कैसे करे वशीकरण साधना नवरात्री में: