Skip to main content

About Us

About jyotishsansar.com

JYOTISH SANSAR | Hindi Jyotish | Astrology in Hindi | Live Jyotish| Hindi Website | हिंदी वेबसाइट

"jyotishsansar.com" एक hindi ब्लॉग है ज्योतिष से सम्बंधित और इसका निर्माण ज्योतिष और उसे सम्बंधित विषयो को ध्यान में रखके किया गया है. इस hindi ज्योतिष ब्लॉग में रोज अलग अलग विषयो से सम्बंधित लेख पब्लिश किये जाते हैं जिससे की लोगो को भारतीय ज्योतिष के विषय में ज्ञान हो.

best astrologer in ujjain, jyotish website in hindi, jyotish kendra, jyotish hindi, best astrologer in india, best jyotish site, jyotish astrologer
hindi jyotish contact number 9893695155


वैदिक ज्योतिष के अनुसार हम अपने जीवन में ग्रहों के प्रभाव को नकार नहीं सकते इसी प्रकार हम ज्योतिष को भी नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं | ज्योतिष संसार एक hindi वेबसाइट हैं जो की लोगो को अवगत कराती है समस्याओं के कारणों से और साथ ही देती है समाधान जो की सरल हो.

“Jyotishsansar.com” में सभी वर्गों के लिए कुछ न कुछ मौजूद है भले ही वो विधार्थी हो, व्यस्क हो, कामकाजी हो, शादी शुदा हो, व्यापारी हो, गृहणी हो | यहाँ पर अलग अलग विषयो को उजागर किया जाता है जिससे पता चले के कैसे ज्योतिष हमारे जीवन में महत्तव रखता है |

इस hindi ज्योतिष ब्लॉग में आप जान पायेंगे विभिन्न योगों के बारे में, विभिन्न दोषों के बारे में, काले जादू के बारे में, कुंडली के बारे में | 

अगर आपको ज्योतिष, वास्तु, हस्त रेखा, यन्त्र विद्या आदि में रूचि है तो ये ब्लॉग आप को देगा मौका इनके बारे में और अधिक जान्ने का.

Jyotishsansar.com” में मनोरंजन के लिए भी लेख लिखे जाते हैं परन्तु ऐसे जिससे की ज्ञान भी प्राप्त हो विषयो से सम्बंधित, साथ ही स्वस्थ्य और व्यक्तित्व को सुधारने के लिए भी नुस्खे दिए जाते हैं | 

हर माह आने वाले तीज त्यौहार की जान्कर्री साथ ही पंचांग की जानकारी भी इस hindi ज्योतिष ब्लॉग में दी जाती है |

इस वेबसाइट के द्वारा आप जान सकते हैं free में बहुत से विषयो के बारे में और बढ़ा सकते हैं अपने ज्ञान को. साथ ही आप पा सकते हैं परामर्श अपने सुखी जीवन के लिए |

ज्योतिष से सलाह ले के आप जान सकते हैं भाग्य रत्न के बारे में, अपने लिए सिद्ध यन्त्र के बारे में, शादी के बारे में, कारोबार और नौकरी के बारे में, प्रेम विवाह के बारे में, स्वास्थय के बारे में, काले जादू का समाधान, भाग्योदय के बारे में आदि |

आप jyotishsansar को फॉलो भी कर सकते हैं फेसबुक में linked in आदि सोशल मिडिया में |

jyotishsansar एक प्रयास है वास्तविक ज्योतिष ज्ञान को सामान्य लोगो तक पहुचाने का, इसका लाभ सभी ले सकते हैं इन्टरनेट के माध्यम से अपने स्मार्ट फ़ोन पर, लैपटॉप पर, कंप्यूटर पर, कही भी कभी भी |

  • जानिये कैसे ग्रह प्रभावित करते हैं व्यक्तिगत जीवन को.
  • जानिये कैसे ग्रह प्रभावित करते हैं कामकाजी जीवन को.
  • जानिये कैसे ग्रह प्रभावित करते हैं स्वास्थय को.
  • जानिये कैसे ग्रह प्रभावित करते हैं व्यापारिक जीवन को.

“Jyotishsansar.com” is a hindi blog related to astrology, vastu, palmistry and other occult sciences. Here blog readers can get free knowledge about different occult sciences subjects; This blog is updated daily with different articles and information to give the reader best knowledge and updated knowledge on related subjects.

One can join us in linkedin, pinterest, twitter, facebook to get regular update.

Know about how planets affect our personal life, how mahadasha, antardasha etc affects our professional life, health, business life etc.

In this hindi jyotish blog visitors can know about the important subjects in hindi.

Blogs Directory
blog
submit a blog
JYOTISH SANSAR | Hindi Jyotish | Astrology in Hindi | Live Jyotish| Hindi Website | हिंदी वेबसाइटAbout jyotishsansar.com.

Comments

Popular posts from this blog

Suar Ke Daant Ke Totke

Jyotish Me Suar Ke Daant Ka Prayog , pig teeth locket benefits, Kaise banate hai suar ke daant ka tabij, क्या सूअर के दांत का प्रयोग अंधविश्वास है. सूअर को साधारणतः हीन दृष्टि से देखा जाता है परन्तु यही सूअर पूजनीय भी है क्यूंकि भगवान् विष्णु ने वराह रूप में सूअर के रूप में अवतार लिया था और धरती को पाताल लोक से निकाला था. और वैसे भी किसी जीव से घृणा करना इश्वर का अपमान है , हर कृति इस विश्व में भगवान् की रचना है. Suar Ke Daant Ke Totke सूअर दांत के प्रयोग के बारे में आगे बताने से पहले कुछ महत्त्वपूर्ण बाते जानना चाहिए : इस प्रयोग में सिर्फ जंगली सूअर के दांत का प्रयोग होता है. किसी सूअर को जबरदस्त मार के प्रयोग में लाया गया दांत काम नहीं आता है अतः किसी भी प्रकार के हिंसा से बचे और दुसरो को भी सचेत करे. वैदिक ज्योतिष में सूअर के दांत के प्रयोग के बारे में उल्लेख नहीं मिलता है. इसका सूअर के दांत के प्रयोग को महुरत देख के ही करना चाहिए. कई लोगो का मनना है की सुकर दन्त का प्रयोग अंधविश्वास है परन्तु प्रयोग करके इसे जांचा जा सकता है , ऐसे अनेको लोग है जो अपने बच्चो

om kleem krishnaay namah mantra ka mahattw

om kleem krishnaya namah benefits in hindi, ॐ क्लीं कृष्णाय नमः मंत्र के लाभ और अर्थ, ॐ क्लीं नमः का जाप कैसे करे, क्लीं बीज का रहस्य वशीकरण मंत्र ॐ क्लीं कृष्णाय नमः का रहस्य.  क्लीं बीज मंत्र काली देवी से संबंधित है और बहुत शक्तिशाली है। इस मंत्र के जाप से एक दिव्य आभा और आकर्षण शक्ति विकसित होती है जो दैवीय ऊर्जाओं के साथ-साथ भौतिक सुखों को आकर्षित करने में मदद करती है।  श्री कृष्ण भगवान विष्णु के अवतार हैं और महान व्यक्तित्व, प्रेम, ज्ञान और बुद्धि के प्रतीक हैं। om kleem krishnaay namah mantra ka mahattw " ॐ क्लीं कृष्णाय नमः " एक अद्भुत मंत्र है जो जप करने वाले को सब कुछ प्रदान करने में सक्षम है और इसलिए भक्तों द्वारा दशकों से इसका उपयोग किया जाता रहा है। यह मंत्र देवी दुर्गा के साथ-साथ कृष्ण की भी शक्ति रखता है और इसलिए यह उन सभी के लिए एक दिव्य मंत्र है जो जीवन में जल्द ही सफलता चाहते हैं। "ॐ क्लीं कृष्णाय नमः" एक शक्तिशाली मंत्र है जो आंतरिक आध्यात्मिक ऊर्जा का आह्वान करता है जिसका लगातार जप किया जाता है इसलिए जो लोग आध्यात्मिक विकास चाहते हैं उनके लिए

Gola Khisakna Kya Hota Hai Aur Iska Ilaaj Kya Hai

Kya Hota hai gola khisakna, nabhi hatne ka matlab kya hai, kaise thik kar sakte hain dharan ko, janiye kuch asaan tarike nabhi ko thik karne ke. nabhi khisakna aur asaan ilaaj साधारण शब्दों में नाभि खिसकना : जब हम बात करते हैं शारीर के मध्य इस्थान का तब नाभि का ध्यान आता है, जब हम योग के सन्दर्भ में मनिपुरक चक्र की बात करते हैं तब हमे ध्यान आता है नाभि का, जब भी पेट में दर्द होता है तो ध्यान आता है नाभि का. अतः नाभि हमारे शारीर का एक महात्वपूर्ण अंग है, इसी नाभि को गोला या धारण भी कहते हैं. अंग्रेजी में नाभि को Navel कहते हैं. ये वास्तव में एक संगम है जहाँ से नाड़ियाँ गुजरती हैं हर प्रकार की , अतः यहाँ पर जाल बना हुआ है नाड़ियों का, इन नाड़ियो को सहारा देने के लिए मांसपेशियां भी होती है और जब ये अपनी जगह से कभी खिसकती हैकिसी कारण से तो उसे कहते हैं “नाड़ी का खिसकना या गोला खिसकना या धरण ”. कभी ये बाएं खिसकता है, कभी ये दायें खिसकता है, कभी ऊपर और कभी निचे खिसकता है. गोला खिसकने के ज्योतिषीय कारण: मैंने अपने शोध में पाया है की जिन लोगो का गोला ज्यादा खिसकता है उनके