Skip to main content

Posts

Showing posts with the label gayatri mantra ke fayde in jyotish

Hindi Jyotish Website

Hindi astrology services || jyotish website in hindi|| Kundli reading || Birth Chart Calculation || Pitru Dosha Remedies || Love Life Reading || Solution of Health Issues in jyotish || Career Reading || Kalsarp Dosha Analysis and remedies || Grahan Dosha solutions || black magic analysis and solutions || Best Gems Stone Suggestions || Kala Jadu|| Rashifal || Predictions || Best astrologer || vedic jyotish || Online jyotish || Phone jyotish ||Janm Kundli || Dainik Rashifal || Saptahik Rashifal || love rashifal

Shukra Gayatri Mantra Ke Fayde in jyotish

Shukra gayatri mantra ke bol, क्या फायदे हैं शुक्र गायत्री मन्त्र के, कैसे जपे इस मन्त्र को?,  हिंदू ज्योतिष के अनुसार शुक्र ग्रह का सम्बन्ध जीवनसाथी, सुख, यौन विज्ञान, रोमांस, सौंदर्य, कामुकता, जुनून, आराम, कविता, फूल, यौवन, काम, वासना, आभूषण, गहने, धन, कला, संगीत, नृत्य, वसंत ऋतु, बारिश, चांदी, विलासिता आदि से होता है | शुक्र का सम्बन्ध हर सुन्दर और मोहक वस्तुओ से होता है | शुक्र जननांगो प्रजनन प्रणाली, आंखों, गले, ठोड़ी, गाल और गुर्दे पर अपने प्रभाव रखते हैं | वैदिक ज्योतिष के हिसाब से शुक्र ग्रह वृषभ और तुला राशि के स्वामी है | शुक्र की उच्च राशि मीन है और नीच राशि कन्या है। शुक्र महान ऋषि भृगु और ख्याति के पुत्र हैं। शुक्र ग्रह को राक्षसों का गुरु माना जाता है। Shukra Gayatri Mantra Ke Fayde शुक्र गायत्री मंत्र आकर्षण और कलात्मक क्षमता प्रदान करता है। शुक्र मंत्र का नियमित अभ्यास करने से व्यक्तित्त्व में जबरदस्त आकर्षण शक्ति का विकास होता है और जातक जीवन को सुख पूर्वक जीने में सक्षम होता है | प्रेम सुख और वैवाहिक सुख के लिए इस ग्रह की पूजा करनी चाहिए।  वैदिक ज्योतिष के अन्सुआर

Shiv Gayatri Mantra Ke Chamatkari Fayde

शिव गायत्री मंत्र के लाभ: आध्यात्मिक ज्ञान और आंतरिक शक्ति को पाने का अद्भुत मन्त्र  भगवान शिव इस ब्रह्मांड का सार हैं और कण-कण में शिव विद्यमान हैं। भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए भक्त तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं लेकिन इस लेख में हम जानेंगे शिव गायत्री मंत्र के जाप के जादुई फायदे। हम इस प्राचीन मंत्र के आध्यात्मिक महत्व, उपचार गुणों और परिवर्तनकारी शक्ति को जान पायेंगे | इस प्राचीन एवं दिव्य मंत्र में अपने भीतर की असाधारण शक्ति को प्रकट करने की शक्ति है। नियमित अभ्यास से हमारे शरीर में मौजूद सुप्त शक्तियों को सक्रिय किया जा सकता है। हिंदू धर्म में मंत्रों को किसी भी पूजा का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है और इसलिए किसी भी प्रकार के अनुष्ठानों में हम भक्तों को दैवीय ऊर्जाओं का आशीर्वाद आकर्षित करने के लिए विभिन्न प्रकार के मंत्रों का जाप करते हुए देख सकते हैं। "शिव गायत्री मंत्र" एक पवित्र मंत्र है और सर्वोच्च देवता भगवान शिव को समर्पित है। यह सदियों से साधकों और अभ्यासियों द्वारा पूजनीय रहा है और माना जाता है कि यह उन अभ्यासकर्ताओं को कई लाभ प्रदान करता है जो इसे ईम

Hanuman Gayatri Mantra Ke Fayde in Hindi Jyotish

 Hanuman Gayatri Mantra | हनुमान गायत्री मन्त्र – जाप विधि, कैसे करें जाप पूर्ण लाभ के लिए | हनुमान जी की कृपा प्राप्त करने के लिए अनेक साधन हैं जैसे हनुमान चालीसा, अष्टक, बीज मन्त्र,बाहुक आदि | Hanuman Gayatri भी एक शक्तिशाली मंत्र है जिसके जाप से साधक हनुमानजी की कृपा प्राप्त कर सकता है |  हनुमान गायत्री मंत्र एक शक्तिशाली मंत्र है जिसके बारे में कहा जाता है कि यह भक्ति, साहस और विनम्रता के दिव्य प्रतीक भगवान हनुमानजी  का आशीर्वाद प्राप्त करवाता है।  अगर आपको लगता है की आपके अन्दर डर है या कोई नकारात्मक उर्जा परेशां कर रही है तो आप तुरंत Hanuman Gayatri मन्त्र का जप शुरू कर सकते हैं |  Hanuman Gayatri Mantra Ke Fayde in Hindi Jyotish आइये जानते हैं hanuman gayatri Mantra के क्या लाभ है ?: हनुमान गायत्री मन्त्र के जाप से अत्यंत शीघ्र और शुभ फल की प्राप्ति होती है. यह मन्त्र अत्यंत शक्तिशाली है. हनुमान गायत्री मंत्र एक शक्तिशाली मंत्र है जो अभ्यासकर्ता को कई लाभ प्रदान कर सकता है। हालाँकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि मंत्र केवल तभी प्रभावी होगा जब इसका जाप ईमानदारी और भक्त

Om Damodaraay Vidmahe Mantra Ke Fayde

ॐ दामोदराय विद्महे मंत्र के लाभ, कृष्ण-रुक्मणि गायत्री मंत्र अर्थ, जीवन में प्यार और शांति वापस पाने का तरीका, Om Damodaray vidmahe Mantra Ke Fayde । ओम दामोदराय विद्महे मंत्र एक शक्तिशाली मंत्र है जिसका उपयोग देवी रुक्मणी के साथ भगवान कृष्ण की पूजा के लिए किया जाता है। Om Damodaraay Vidmahe Mantra Ke Fayde Read in English about Benefits of Om Damodaray Vidmahe इस दामोदर विद्महे मंत्र के कई लाभ हैं, जिनमें शामिल हैं: ओम दामोदराय विद्महे मंत्र में अपार शक्ति है और इसमें असीम आध्यात्मिक ऊर्जा है जो सर्वशक्तिमान में ध्यान केंद्रित करने में मदद करती है। अगर इसे संतुलित तरीके से जप जाए तो इससे दिव्य तरंगें उत्पन्न होती हैं जो मानसिक शांति और जीवन में खुशी लाने में मदद करती हैं।  भय और चिंता को दूर करना | आंतरिक शक्ति और शक्ति प्रदान करना: इन मंत्रों का जाप हमारी आंतरिक शक्ति को बेहतर बनाने के लिए भी किया जा सकता है। प्रतिदिन ओम दामोदराय मंत्र का जाप करने से हमारे शरीर से सभी प्रकार की नकारात्मकता दूर हो जाती है। इन मंत्रों का उपयोग करके भगवान कृष्ण का ध्यान करके हम अवसाद, असफलता और त

Narasimha Gayatri Mantra Ke Fayde aur lyrics

Narsingh Jayanti Mantra, नरसिंह गायत्री मंत्र क्या है, नरसिंह गायत्री मंत्र के लाभ, रक्षा और साहस के लिए शक्तिशाली narsimha मंत्र । Narasimha Gayatri एक अत्यंत ही शक्तिशाली मंत्र है जिसका प्रयोग करके हम अपने जीवन में शत्रुओ से बच सकते हैं, नकारात्मक शक्तियों से बच सकते हैं, जादू-टोने से बच सकते हैं | नृसिंह गायत्री मंत्र की साधना से जपकर्ता में साहस उत्पन्न होता है, पराक्रम उतपन्न होता है | जातक किसी भी प्रकार की बाधा का सामना आसानी से कर सकत है |  Narasimha Gayatri Mantra Ke Fayde aur lyrics मंत्र ॐ उग्र नृसिंहाय विद्महे वज्रनखाय धीमहि | तन्नो नृसिंह प्रचोदयात् || Mantra Om Ugra Narasimhaya Vidmahe Vajranakhaya Dhimahi | Tanno Narasimha Prachodayat || Read in english about Powerful Narsimha Gayatri Mantra अगर कोई सुबह इस मंत्र का जप करता है तो दिन भर बुरी शक्तियों से बचाव होता है , जो रात में जप करके सोता है उसे बुरे सपने नहीं आते, गुप्त शत्रुओ से रक्षा होती है, नकारात्मक शक्तियां उसका कुछ बिगाड़ नहीं सकती है |  Narasimha Gayatri Mantra का जप करने से किसी भी प्रकार की चिंता, रोग , श

Ketu Gayatri Mantra ke fayde in jyotish

ketu Gayatri Mantra kon sa hai?, केतु गायत्री मंत्र क्या है ?, जानिए क्या फायदे है केतु मंत्र का जप के, कब और कैसे जपे ज्यादा फायदे के लिए ज्योतिष अनुसार ? वैदिक ज्योतिष अनुसार केतु एक छाया ग्रह है परन्तु इसकी शक्ति अपरम्पार है | केतु ग्रह का सम्बन्ध असाधारण शक्तियों, परिस्थितियों, वैराग्य, नासमझी, मोक्ष और आध्यात्मिकता आदि से है | केतु बहुत ही रहस्यमय ग्रह है, इंसानों पर उसका अत्यधिक प्रभाव है।  Ketu Gayatri Mantra ke fayde in jyotish अगर कुंडली में केतु शुभ और शक्तिशाली हो तो जातक को जादूगर, ओझा, सैन्य कमांडर, उग्रवादी, मरहम लगाने वाले, सफल तांत्रिक,  जासूस, तपस्वी, साधु, आध्यात्मिक ग्रंथों के लेखक, दानकर्ता, परोपकारी आदि बना सकता है |  जब केतु जन्म कुंडली में अशुभ हो जाए तो जातक को विभिन्न प्रकार की शारीरिक और मानसिक परेशानिया देता है, गलत सांगत के कारण जातक का पतन भी हो सकता है | ऐसे में केतु गायत्री मंत्र का जप बहुत शुभ होता है |  Ketu gayatri mantra का जप अज्ञात परेशानियों से छुटकारा दिलाता है, शत्रुओ को पराजित करने में मदद करता है,  Read in english about Benefits of ketu gay

Rahu gayatri mantra Ke Fayde

Rahu Gayatri Mantra kon sa hai?, राहु गायत्री मंत्र क्या है ?, जानिए क्या फायदे है राहू मंत्र का जप के, कब और कैसे जपे ज्यादा फायदे के लिए ज्योतिष अनुसार ? ज्योतिष के अनुसार raahu ग्रह का सम्बन्ध भाग्य, नकारात्मक शक्तियों, रहस्य, गुप्त विद्याओं,  भ्रम, पिछले जन्म आदि से है | राहु  छाया ग्रहों में से एक है और जीवन को बदलने की अद्भुत शक्ति रखता है | कुंडली में कालसर्प दोष, ग्रहण दोष के लिए राहू ग्रह जिम्मेदार होता है |  Rahu gayatri mantra Ke Fayde कुंडली में अगर राहू शुभ हो तो जातक को राजा के सामान बना देता है, उसका प्रभाव समाज में काफी अच्छा होता है, हर तरफ से सफलता जीवन में आती है | ख़राब राहू के कारण गर्भपात बार बार हो सकता है, नजर दोष के कारण कार्यो में बाधा उत्पन्न होती है, अवसाद बना रहता है, शत्रुओ से पीड़ा होती है, विवाह में बाधा आ सकती है, संतान समस्या से जातक गुजर सकता है, अचानक से धन हानि और स्वास्थ्य हानि हो सकती है आदि | ऐसे में राहू गायत्री मंत्र का जप बहुत फायदेमंद सिद्ध होता है | Read in english what are the benefits of rahu gayatri mantra as per astrology? आइये जानते

Guru gayatri Mantra ke fayde

 Guru gayatri mantra ke bol, क्या फायदे हैं गुरु गायत्री मन्त्र के, कैसे जपे इस मन्त्र को? हिंदू ज्योतिष के अनुसार गुरु ग्रह का सम्बन्ध बौद्धिक क्षमता, भाग्य, धन, प्रसिद्धि, भाग्य, भक्ति, ज्ञान, करुणा, आध्यात्मिकता, धर्म और नैतिकता आदि से होता है | बृहस्पति पेट और यकृत से भी सम्बन्ध रखता है |  वैदिक ज्योतिष के हिसाब से गुरु ग्रह धनु और मीन राशि के स्वामी है | बृहस्पति की उच्च राशि कर्क है और नीच राशि मकर है। बृहस्पति को देव-गुरु (देवताओं के गुरु) के रूप में भी जाना जाता है। बृहस्पति जन्म से ब्राह्मण हैं और ऋषि अंगिरसा और सुरूपा के पुत्र हैं। Guru gayatri Mantra ke fayde जब भी गुरु ग्रह कुंडली में कमजोर हो तो व्यक्ति को जीवन में संघर्ष बढ़ जाता है ऐसे में गुरु गायत्री मंत्र का जप बहुत ही फलदायक होता है |  Guru gayatri mantra के जाप से जातक का बौद्धिक विकास होता है, उसकी व्यक्तित्त्व में प्रभाव उत्पन्न होता है जिससे समाज में नाम और यश की प्राप्ति होती है | इस शक्तिशाली मंत्र को श्रद्धा और विश्वास से जपे और जीवन में बदलाव को महसूस करें | गुरु ग्रह या वृहस्पति देव की आराधना और स्तुति के

Budh Gayatri Mantra Ke Fayde

Budh gayatri mantra ke bol, क्या फायदे हैं बुध गायत्री मन्त्र के, कैसे जपे इस मन्त्र को?| हिंदू ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह का सम्बन्ध बुद्धि, व्यवसाय, शिक्षा, विज्ञान, गणित तर्क, गणना, व्यापार वाणिज्य, खेल, सिनेमा और अन्य कलात्मक गतिविधियों आदि से है | व्यक्ति के बात करने का तरीका , संचार शैली, हास्य की भावना, विचार की गति आदि कुंडली में बुध की स्थिति पर निर्भर करता है। ये ग्रह मिथुन और कन्या राशि के स्वामी हैं। बुध की उच्च राशि कन्या है और नीच राशि मीन है। पौराणिक मान्यता के अनुसार बुध चन्द्रमा और माँ तारा के पुत्र है |  Budh Gayatri Mantra Ke Fayde जब भी बुध ग्रह कुंडली में कमजोर हो तो व्यक्ति को जीवन में बहुत परेशानी आती है ऐसे में ज्योतिष के अंतर्गत बुध गायत्री मन्त्र का जप करना शुभ माना जाता है | Budh gayatri mantra के जाप से जातक को बुद्धि मिलती है, निर्णय लेने की क्षमता मिलती है और जीवन सफल होता है | इस शक्तिशाली मंत्र को श्रद्धा और विश्वास से जपे और जीवन में बदलाव को महसूस करें | बुध ग्रह या बुध देव की आराधना और स्तुति के लिए आप श्री बुध गायत्री मंत्र का पाठ करें. जिनके जन्

Mangal Gayatri Mantra Ke fayde jyotish mai

क्या है मंगल गायत्री मंत्र/ magnal gayatri mantra | नवग्रह मंत्र | कैसे करें जाप, मंगल गायत्री मंत्र जाप के फायदे। वैदिक ज्योतिष के अनुसार मंगल ग्रह शक्ति, संपत्ति, जुनून, रक्त, सहनशक्ति आदि से संबंधित है और इसलिए एक सफल जीवन जीने के लिए हमारी जन्म कुंडली में मंगल की शक्ति को संतुलित करना आवश्यक है। मंगल गायत्री मंत्र के बोल: || ॐ अंगारकाय विदमहे शक्ति-हस्ताय धीमहि तन्नो भौमः प्रचोदयात् || || Om Angarkay Vidhmahe Shakti Hastay Dheemahi Tanno Bhauma: Prachodyat || Mangal Gayatri Mantra Ke fayde jyotish mai जब मंगल कुंडली में ख़राब हो जाता है, तो व्यक्ति का स्वभाव गुस्सेल हो सकता है,  क्रूर हो सकता है, रक्त से संबंधित समस्याओं से पीड़ित हो जाता है, रिश्तों को बनाने में समस्याओं का सामना करता है, भूमि से संबंधित मामलों में समस्याओं का सामना करता है आदि | Mangal gayatri mantr का जप जन्म चार्ट में ख़राब मंगल के दुष्प्रभावो को कम करने में बहुत फायदेमंद है। इस मंत्र के जप से जातक को साहस और शक्ति की प्राप्ति होती है मंगल देवता की कृपा से | Read in english about Benefits of Mangal Gayatri Ma

Chandra Gayatri Mantra ke fayde in jyotish

चंद्र गायत्री/ Chandra gayatri mantra मंत्र क्या है, चंद्र गायत्री मंत्र का जाप करने के लाभ, जप कैसे करें, इस दिव्य मंत्र का पाठ करने का सर्वोत्तम समय। चंद्र गायत्री मंत्र भगवान चंद्रमा के आशीर्वाद को आकर्षित करने के लिए शक्तिशाली मंत्रों में से एक है। यह सबसे अच्छे और शक्तिशाली नवग्रह मंत्रों में से एक है। || ॐ क्षीरपुत्राय विद्महे अमृततत्त्वाय धीमहि तन्नो चन्द्र: प्रचोदयात् || || Om Kshir putraay vidmahe amruttatvaay dheemahi tanno chandrah prachodyat || जो कोई भी चंद्रमा के इस मंत्र का जाप करता है उसे चंद्रमा की कृपा से जीवन में धन, नाम, प्रसिद्धि, प्रेम की प्राप्ति होती है। Chandra Gayatri Mantra ke fayde in jyotish Read in english about Benefits of Chandra Gayatri mantra as per astrology चंद्र गायत्री मंत्र/ Chandra gayatri mantra जाप के लाभ : यदि जन्म कुण्डली में नीच का चन्द्रमा हो तो इस दिव्य मंत्र का जाप करना शुभ होता है। अगर कोई मानसिक परेशानी से गुजर रहा है तो चंद्र गायत्री मंत्र का जाप करना अच्छा होता है। इस मंत्र के जाप से मानसिक शांति मिलती है। जीवन में प्रेम बढ़ाने