Bure Graho Ke Karan Hone Wali Bimariyan

बुरे ग्रहों के कारण होने वाले कुछ बीमारियाँ, कौन से ग्रह जिम्मेदार हैं बीमारियों के लिए.

ज्योतिष के अनुसार हर समस्या के पीछे किसी न किसी ग्रह का हाथ होता है इसी कारण ज्योतिष हमेशा कुंडली को पढ़ते हैं किसी भी समस्या का समाधान निकालने के लिए. अगर कोई किसी प्रकार के बिमारी से ग्रस्त हो और बाहर आने का रास्ता नहीं मिल रहा हो तो ये संभव है की किसी बुरे गृह का प्रभाव पड़ रहा हो.
बुरे ग्रहों के कारण होने वाले कुछ बीमारियाँ, कौन से ग्रह जिम्मेदार हैं बीमारियों के लिए.
Bure Graho Ke Karan Hone Wali Bimariyan

आइये जानते हैं कुछ बिमारियों और सम्बंधित ग्रह के बारे में :

  1. अगर कुंडली में सूर्य ग्रह ख़राब हो जाए तो जातक को हृदय सम्बंधित समस्या हो सकती है, आँखों में समस्या हो सकती है, पेट ख़राब हो सकता है, धन हानि हो सकती है, अपमान हो सकता है, तनाव बढ़ सकता है.
  2. अगर कुंडली में चन्द्रमा खराब हो तो जातक को दिमागी बिमारी हो सकती है, अनावश्यक विचार परेशान कर सकते हैं, फेफड़ो की बीमारी घेर सकती है, धन सम्बंधित समस्या हो सकती है, खून से सम्बंधित बीमारी हो सकती है.
  3. अगर कुंडली में मंगल ग्रह ख़राब हो जाए तो जातक का आत्मविश्वास कम हो सकता है, दुर्घटनाएं हो सकती है, बुखार हो सकता है, फुंसी हो सकती है, गुस्सा और झगड़ा हो सकता है.
  4. अगर कुंडली में बुध ग्रह ख़राब हो जाए तो जातक को त्वचा सम्बन्धी रोग हो सकता है, बोलने में समस्या हो सकती है, व्यापार में समस्या आ सकती बुद्धि में कमी आ सकती है.
  5. अगर कुंडली में गुरु ख़राब हो जाए तो संतान को हानि हो सकती है, गले में समस्या हो सकती है, शादी में देरी हो सकती है, बुद्धि और ज्ञान में कमी हो सकती है.
  6. जब शुक्र ग्रह कुंडली में ख़राब होता है तो जातक के जीवन में ख़ुशी कम हो जाती है, गुप्तांगो में समस्या हो सकती है, कफ की समस्या हो सकती है, वैवाहिक और प्रेम जीवन में समस्या हो सकती है.
  7. जब शनि ग्रह कुंडली में ख़राब हो जाए तो दुर्घटना हो सकता है, संतान कमजोर हो सकती है, शारीर के नीचे के हिस्सों में रोग हो सकता है, अनचाहा समस्या परेशान कर सकती है, पैर के तलवों में, जोड़ो में दर्द हो सकता है.
  8. कुंडली में राहू के ख़राब होने पर जातक गैस या एसिडिटी से परेशान हो सकता है, दिमाग अस्थिर हो सकता है, ह्रदय रोग हो सकता है, लम्बे समय तक बिमारी घेरे रह सकती है, काले जादू के कारण भी बिमारी आ सकती है.
  9. अगर कुंडली में केतु ख़राब हो जाए तो धोखा हो सकता है, मूत्र विकार हो सकता है, संतान समस्या हो सकता है, अचानक से स्वास्थ्य हानि हो सकती है, धन हानि हो सकती है आदि.
अतः अगर कोई ग्रह नकारात्मक हो कुंडली में और जीवन को प्रभावित कर रहा हो तो जल्द से जल्द ज्योतिष से सलाह लेना चाहिए.



और सम्बंधित लेख पढ़े :
पेट के रोग दूर करने के आसान उपाय
फेफड़ो के रोग और समाधान
दिमाग के रोग और उपचार

बुरे ग्रहों के कारण होने वाले कुछ बीमारियाँ, कौन से ग्रह जिम्मेदार हैं बीमारियों के लिए.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें