Skip to main content

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Rashi Anusaar Mantra Safalta Ke Liye

१२ राशियों से सम्बंधित मंत्र, ज्योतिष के अनुसार १२ राशियों के लिए बीज मंत्र, जानिए राशी मंत्र को जपने के फायदे. 
 
१२ राशियों से सम्बंधित मंत्र, ज्योतिष के अनुसार १२ राशियों के लिए बीज मंत्र, जानिए राशी मंत्र को जपने के फायदे.
rashiyo ke mantra

हम सभी जानते हैं की वैदिक ज्योतिष के हिसाब से १२ राशियाँ होती है और हर व्यक्ति की कोई न कोई राशि होती है जिसका प्रभाव उसके जीवन में पड़ता ही है. ये १२ राशियाँ हैं (मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला वृश्चिक, धनु, मकर, कुम्भ, मीन).
हर राशि का कोई न कोई मंत्र भी है और अगर अपने राशि के अनुसार मंत्र का जप करे तो बहुत फायदे होते हैं और सफलता के रास्ते खुलते हैं.
मंत्रो का जप सबसे अच्छा तरीका है किसी भी शक्ति की कृपा को पाने के लिए और जीवन को बेहतर बनाने के लिए.

आइये जानते हैं राशि मंत्रो का महत्त्व :

ज्योतिष के हिसाब से अगर कोई अपनी राशि से सम्बंधित मन्त्र का जप करता है तो उसके जीवन में सकारात्मक प्रभाव पड़ता है. राशी मंत्रो के जप से धन, ऐश्वर्या, स्वास्थ्य, सम्पन्नता को जीवन में लाया जा सकता है.
  • राशी मंत्र जप से धनागमन होता है.
  • राशी मंत्र जप से काम धंधा भी अच्छा चलता है.
  • राशी मन्त्र के जप से सामाजिक जीवन भी बेहतर हो सकता है.
  • राशी मंत्र जप से व्यक्तिगत जीवन भी सफल हो सकता है.
  • देखा जाय तो ये स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा होता है.
  • राशी मन्त्र का जप नव ग्रहों के बुरे प्रभाव को कम करके जीवन को सफल बनाता है.

राशी मंत्रो का जप कितना करना चाहिए ?

ये एक महत्त्वपूर्ण सवाल है , मै यहाँ ये कहना चाहूँगा की जितना ज्यादा से ज्यादा संभव हो जप करे परन्तु कम से कम १ माला और अगर १० माला जप करे तो बहुत अच्छा है.

आइये जानते हैं कुछ महत्त्वपूर्ण बाते मंत्र जप को लेके

  • मंत्र जप के दौरान ध्वनि और गति को एक जैसा बनाए रखे.
  • ज्यादा जल्दी न करे मंत्र जप करते समय
  • अपने तीसरी आँख के जगह पर पूरा ध्यान लगाके मंत्र जप करे और मंत्र को वहां पर देखने की कोशिश करे और मंत्र की दुनिया में खो जाए.
  • ऐसा महसूस करे की पूरा शारीर और मन दिव्य कृपा से भर रहा है और जीवन बेहतर हो गया है.
  • हमेशा ऊनि आसन पर बैठकर ही मन्त्र जप करे.
  • अगर संभव हो तो दीपक या मोमबत्ती जला के ही मंत्र जप शुरू करे और शक्तियों से सफलता के लिए प्रार्थना करे.

आइये अब जानते हैं १२ राशियों के मंत्रो को :

मेष राशी मंत्र :
ॐ ऎं कलीं सौः(Om Aim Kleem Sauh)
Or
ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीनारायणाय नम:(Om hreem shreem laxminaraynaay namah)
वृषभ राशि मंत्र:
ॐ ऎं क्लीं श्रीं (Om aim kleem shreem)
or
ॐ गौपालाय उत्तर ध्वजाय नम:(om gopalaay uttardhwajaay namah)
मिथुन राशि मंत्र:
ॐ क्लीं ऎं सौः  (om kleem aim sauh)
Or
ॐ क्लीं कृष्णाय नमः (om kleem krishnaay namah)
कर्क राशि मंत्र:
ॐ ऎं क्लीं श्रीं  (om aim kleem shreem)
or
ॐ हिरण्यगर्भाय अव्यक्तरुपिणे नमः(Om hiranaygarbhaay avyaktrupine namah)
सिंह राशि मंत्र:

ॐ ह्रीं श्रीं सौः(Om hreem shreem sauh)
or
ॐ क्लीं ब्रह्मणे जगदाधाराय नमः(Om kleem brahamane jagadadharaay namah)
कन्या राशि मंत्र:
तुला राशि मंत्र:
ॐ श्रीं ऎं सौः(Om shreem aim sauh)
or
ॐ नमः पीं पीताम्बराय नमः(Om namah peem pitambraay namah)
वृश्चिक राशि मंत्र:
ॐ ऎं क्लीं सौः(Om Aim Kleem Sauh)
or
ॐ नारायणाय सुरसिंघाय नमः (Om Naraynaay sursinghaay namah)
धनु राशि मंत्र:
ॐ ह्रीं क्लीं सौः(Om hreem Kleem Sauh)
or
ॐ श्रीं देवकृष्णाय उर्ध्वदन्ताय नमः(Om Shreem Devkrishnaay urdhvdantaay namah)
मकर राशि मंत्र:
ॐ ऎं क्लीं ह्रीं श्रीं सौः(Om Aim Kleem Hreem Shreem Sauh)
or
ॐ श्रीं वत्सलाय नमः(om Shreem vatsalaay namah)
कुम्भ राशि मंत्र:
ॐ ह्रीं ऎं क्लीं श्रीं (Om hreem aim kleem shreem)
or
ॐ श्रीं उपेन्द्राय अच्युताय नमः(Om Shreem Upendraay Achutaay Namah)
मीन राशि मंत्र:
ॐ ह्रीं क्लीं सौः (Om hreem kleem sauh)
or
ॐ आं क्लीं उध्दृताय नमः (Om Aanm kleem Udhdritay Namah )

ऊपर १२ राशियों के मंत्र दिए गए हैं, इनका जप अपने हिसाब से कभी भी कर सकते हैं.
  • हम राशी मंत्र का जप कोई भी नए कार्य की शुरुआत से पहले कर सकते हैं.
  • हम राशी मंत्रो का जप प्रातः काल दिन की शुरुआत के समय कर सकते हैं.
  • हम राशी मन्त्र का जप किसी भी परीक्षा या इंटरव्यू में जाने से पहले कर सकते हैं.
  • हम किसी भी यात्रा को शुरू करने से पहले राशी मन्त्र का जप कर सकते हैं 
ज्योतिषीय परामर्श और मार्गदर्शन के लिए ज्योतिष से संपर्क करे 
ज्योतिष, वैदिक ज्योतिष ऑनलाइन, राशी ज्योतिष, विश्वसनीय ज्योतिष
ज्योतिष
और सम्बंधित लेख पढ़े :
12 zodiacs spell for success

१२ राशियों से सम्बंधित मंत्र, ज्योतिष के अनुसार १२ राशियों के लिए बीज मंत्र, जानिए राशी मंत्र को जपने के फायदे.

Comments

Popular posts from this blog

Kala Jadu Kaise Khatm Kare

काला जादू क्या है , कैसे पता करे काला जादू के असर को, कैसे ख़त्म करे कला जादू के असर को, hindi में जाने काले जादू के बारे में. काला जादू अपने आप में एक खतरनाक विद्या है जो की करने वाले, करवाने वाले और जिस पर किया जा रहा है उन सब का नुक्सान करता है. यही कारण है की इस नाम से भी भय लगता है. अतः ये जरुरी है की इससे जितना हो सके बचा जाए और जितना हो सके उतने सुरक्षा के उपाय किया जाए. ज्योतिष संसार के इस लेख में आपको हम उसी विषय में अधिक जानकारी देंगे की कैसे हम काले जादू का पता कर सकते हैं और किस प्रकार इससे बचा जा सकता है. प्रतियोगिता अच्छी होती है परन्तु जब ये जूनून बन जाती है तब व्यक्ति गलत ढंग से जीतने के उपाय करने से भी नहीं चुकता है. आज के इस प्रतियोगिता के युग में लोग बस जीतना चाहते हैं और इसके लिए किसी भी हद तक जाने से नहीं चुकते हैं और यही पर काला जादू का प्रयोग करने की कोशिश करते है. आखिर में क्या है कला जादू? हर चीज के दो पहलु होते हैं एक अच्छा और एक बुरा. काला जादू तंत्र, मंत्र यन्त्र का गलत प्रयोग है जिसके अंतर्गत कुछ शक्तियों को पूज के अपना गलत स्वार्थ सिद्ध किया जाता है. करने व…

Santan Prapti Yoga Kundli Mai In Hindi

कुंडली में संतान प्राप्ति योग, कुंडली में कैसे जाने संतान सुख के बारे में, क्या करे स्वस्थ संतान प्राप्ति के लिए ज्योतिष के अनुसार, संतान प्राप्ति में बाधा और समाधान ज्योतिष द्वारा. Santan yoga in kundli, hindi jyotish to know about santan problems remedies. जीवन में विवाह उपरान्त संतान का होना एक महात्वपूर्ण घटना होती है, ये पति और पत्नी को एक नई दृष्टि प्रदान करती है और जीवन में महत्वपूर्ण बदलाव लाती है. ऐसे बहुत से लोग है जो संतान सुख से वंचित है और संतान प्राप्ति के लिए खूब जातन करते हैं परन्तु सफल नहीं हो पा रहे हैं.

इसका कारण ज्योतिष द्वारा पता लगाया जा सकता है. कुंडली हमारे जीवन का आइना है अतः इसके द्वारा हम बहुत कुछ जान सकते हैं. कुंडली में 12 भाव होते हैं और सभी अलग अलग विषय से जुड़े है जिनका अध्यन कई रहस्यों से पर्दा उठा देता है जो की उन्सुल्झे है. संतान नहीं होने के कारण भी ज्योतिष द्वारा जाना जा सकता है.  इस लेख में संतान समस्या के कारण और समाधान पर प्रकाश डाला जा रहा है. क्यों आती है है समस्याए संतान प्राप्ति में, क्यों होता है गर्भपात , कैसे प्राप्त करे स्वस्थ संतान.

जीवन…

Gomed Ratna Rahasya In Hindi

Gomed Gem Stone Secrets in hindi, गोमेद की शक्ति, कैसे ख़रीदे गोमेद, कैसे धारण करे गोमेद, सफलता के लिए गोमेद का प्रयोग.

क्या आप जानना चाहते हैं राहू के रत्न के बारे में, क्या आप एक ऐसे रत्न के बारे में जानना चाहते हैं जो की जीवन में जादुई बदलाव ला सकता है तो पढ़े इस लेख को.
गोमेद, जी हाँ एक ऐसा शक्तिशाली रत्न है जिसे अंग्रेजी में HESSONITE भी कहते हैं. ये रत्न राहू की शक्ति को जीवन में बढ़ा सकता है. इसका रंग लालिमा लिए होता है जिसमे थोडा पिला जैसा भी दीखता है, इसके रंग को गौमूत्र जैसा भी जान सकते हैं. 
कौन धारण कर सकते हैं गोमेद रत्न? मेरे अनुभव के हिसाब से उन लोगों के लिए गोमेद शुभ होता है जिनके कुंडली में राहू अच्छा है पर कमजोर है , गोमेद धारण करने से राहू का बल बढ़ने लगता है जिससे सफलता के रास्ते खुलते हैं.  अगर कमजोर राहू के कारण जीवन में, नाम, पैसा, सम्पन्नता आदि नहीं आ पा रही है तो गोमेद रत्न लाभदायक सिद्द हो सकता है. राजनीतज्ञों के लिए भी ये एक शुभ रत्न साबित हो सकता है. 
आइये जानते हैं गोमेद के लाभ :