vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Wind Chimes Ka Prayog Kaise Kare Safalta Ke Liye

फेंगशुई के अंतर्गत विंड चाइम्स का प्रयोग कैसे करे, कहाँ लगाएं विंड चाइम्स फायदे के लिए, कब टाँगे विंड चाइम्स को, कैसे सुरक्षा करे वास्तु का विंड चाइम्स के द्वारा.
फेंगशुई के अंतर्गत विंड चाइम्स का प्रयोग कैसे करे, कहाँ लगाएं विंड चाइम्स फायदे के लिए, कब टाँगे विंड चाइम्स को, कैसे सुरक्षा करे वास्तु का विंड चाइम्स के द्वारा.
wind chimes ke prayog

अगर आपको अपने घर, ऑफिस आदि में आनंद नहीं आ रहा है तो विंड चाइम्स आपको फायदा दे सकता है. अगर विद्यार्थी पढ़ाई में ध्यान नहीं लगा पा रहे है तो विंड चाइम्स का स्तेमाल कर सकते हैं, अगर पति पत्नी के बीच सम्बन्ध ख़राब हो रहे हो तो विंड चाइम्स का स्तेमाल कर सकते हैं, अगर सफलता जीवन में नहीं आ रही है तो विंड चाइम्स का प्रयोग कर सकते हैं.
विंड चाइम्स का स्तेमाल फेंगशुई के अंतर्गत वास्तु दोषों को सुधरने में किया जाता है. इसका स्तेमाल वातावरण में सकारात्मक उर्जा को लाता है. विंड चाइम्स कई प्रकार के होते हैं जिनका स्तेमाल अलग अलग कार्यो के लिए होता है. 

आइये देखते हैं विंड चाइम्स के प्रकार:

विंड चाइम्स अलग अलग चीजो से बनाए जाते हैं जिसके हिसाब से उन्हें हम निम्न भागो में बाँट सकते हैं –
  1. धातु से बने विंड चाइम्स
  2. बांस से बने विंड चाइम्स
  3. सेरामिक विंड चाइम्स
  4. कांच से बने विंड चाइम्स
  5. लकड़ी से बने विंड चाइम्स
अलग अलग प्रकार के विंड चाइम्स अलग अलग कार्यो में प्रयोग किये जाते हैं अतः ये जरुरी है की किसी फेंगशुई सलाहकार से सलाह लेके इनका स्तेमाल करे. 

आइये अब जानते हैं की खोखले और ठोस विंड चाइम्स  के बारे में :
बाजार में खोखले और ठोस २ प्रकार के विंड चाइम्स उपलब्ध है और हानिकारक दोनों ही नहीं है हाँ ज्यादा फायदेमंद खोखला वाला हो सकता है क्यूंकि इसमें से हवा सही तरीके से गुजर सकती है.

आइये अब जानते विंड चाइम्स से जुडी कुछ गलतफहमियां:

आज कल तो लोग सिर्फ घर सजाने के लिए विंड चाइम्स  का प्रयोग करने लगे है परन्तु इसका निर्माण बहुत अलग कार्यो के लिए किया गया है. इसका स्तेमाल भाग्योदय कर सकता है, सफलता के रास्ते खोल सकता है, जीवन को शानदार कर सकता है. अतः इसका स्तेमाल सही तरीके से करना चाहिए.
  1. क्या विंड चाइम्स को सिर्फ घर के बहार मुख्य द्वार पर या पोर्च पर लगाया जाता है ? – नहीं ये सही नहीं है, इसका स्तेमाल अलग अलग कामो के लिए होता है और जरुरत पड़ने पर इसका स्तेमाल स्टडी रूम, बैठक आदि में भी किया जा सकता है सकारात्मक उर्जा को बढाने के लिए.
  2. क्या विंड चाइम्स को लगाने के लिए कोई विशेष समय होता है ? – हाँ ! अगर अच्छा परिणाम चाहिए तो ज्योतिष से परमर्श लेके अच्छे महुरत में इसे लगाना चाहिए. राहू काल छोड़ना चाहिए और अन्य अशुभ दिन भी छोड़ने चाहिए. क्यूंकि हमे मुख रूप से उर्जा को बढ़ाना है वो भी सकारात्मक.
  3. क्या विंड चाइम्स  में संख्या भी महत्त्वपूर्ण है? – ये कोई समस्या वाली बात नहीं है परन्तु अगर आपके सलाहकार कुछ विशेष संख्या वाले विंड चाइम्स  को लगाने की सलाह देते हैं तो वैसा करिए.
  4. कैसे लगाएं विंड चाइम्स को? – ये बहुत ही आसान है, बस एक हुक लगा के टांग दीजिये परन्तु दिशाओं का ध्यान रखना जरुरी है.
आइये अब जानते हैं किस दिशा में कौन सा विंड चाइम्स  लगाएं ?:
  1. उत्तर, उत्तर- पश्चिम, और पश्चिम दिशा में धातु के विंड चाइम्स फायदेमंद होते हैं.
  2. पूर्व दिशा, दक्षिण-पूर्व और दक्षिण दिशा में लकड़ी या बांस के विंड चाइम्स फायदेमंद है.
  3. उत्तर-पूर्व दिशा और दक्षिण- पश्चिम दिशा में सिरामिक और गिलास के विंड चाइम्स सफलता के रास्ते खोलते हैं.

आइये अब जानते हैं विंड चाइम्स के कुछ प्रयोग:

  • अगर १ से अधिक दरवाजे एक के बाद एक हो तो बीच में विंड चाइम्स लगा दे. इससे वास्तु दोष दूर होगा.
  • अगर आपके मुख्य द्वार के सामने कोई बाधा हो तो दरवाजे और बाधा के बीच में विंड चाइम्स लगा दे, इससे वास्तु दोष दूर होगा.
  • ऑफिस में ६ रोड वाला विंड चाइम्स  लगाए, इससे तरक्की होगी.
  • ५ रोड वाला विंड चाइम्स  सभी के लिए फायदेमंद होता है.
और सम्बंधित लेख पढ़े:
विंड चाइम्स के फायदे
फेंगशुई क्या है?

फेंगशुई के अंतर्गत विंड चाइम्स का प्रयोग कैसे करे, कहाँ लगाएं विंड चाइम्स फायदे के लिए, कब टाँगे विंड चाइम्स को, कैसे सुरक्षा करे वास्तु का विंड चाइम्स के द्वारा.

No comments:

Post a Comment