Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2018

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Janmashtmai Mai Kaun Si Poojaaye Shubh Hoti Hai

जनमष्टमी मे कौन सी पूजाएँ शुभ होती है, कौन सी पूजाएँ की जाती है गोकुलाष्ट्मी मे , कैसे करे इच्छाएं पूरी कृष्ण जन्माष्टमी मे . जन्माष्टमी का दिन अति महत्त्वपूर्ण है और इस दिन अनेक प्रकार की पूजाए होती है. संतान गोपाल कृष्ण पूजा संतान गोपाल मंत्र का जप कृष्णा का अभिषेक और अर्चनविष्णु शाश्त्रनाम का जप माखन अभिषेक द्वारा शुभता कैसी आएगी ?कृष्णा और बलराम की पूजा क्यों करना चाहिए ?राधा कृष्णा की पूजा साथ मे क्यों करे? हर जगह कृष्णा का जन्मदिन बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. शाश्त्रो से प्राप्त जानकारी के अनुसार कृष्णा का जन्म भाद्रपद के कृष्णा पक्ष मे अष्टमी तिथि को हुआ था , इस दिन रोहिणी नक्षत्र था. ये दिन गोकुल अष्टमी के नाम से भी जाना जाता है. भाद्रपद महीने में कृष्णा पक्ष की अष्टमी तिथि को बहुत महत्त्वपूर्ण माना जाता है साधना के दृष्टि से, पूजा पाठ की दृष्टि से. आइये जानते है कुछ पूजाओ का महत्त्वा जन्माष्टमी के दिन:इस दिन संतान गोपाल साधना उन लोगो के लिए उचित है जो स्वस्थ संतान की कामना रखते हैं. अगर किसी को संतान होने में समस्या आ रही है, गर्भ धारण नही हो रहा है, गर्भ गिर जाता है या…

Janmashtami Mai VASHIKARAN Sadhnaayen Kyu Hoti Hai

जन्माष्टमी मे वशीकरण साधना क्यों करते है लोग, क्या फायदे हो सकते हैं वशीकरण साधना के, जन्माष्टमी रहस्य.
इससे पहले की हम आगे बढे कुछ गलतफहमियो को दूर करना जरुरी है वशीकरण विद्या के सम्बन्ध मे. साधारणतः लोगो की धरना ये है की वशीकरण का मतलब होता है काले जादू के मंत्रो का स्तेमाल करके लड़के, लड़कियों, व्यक्ति या किसी नारी को वश में कर लेना परन्तु ये सत्य नहीं है. 
वशीकरण विद्या सिर्फ किसी व्यक्ति विशेष को ही वश में करने तक ही सिमित नहीं है. इस विद्या के अभ्यास से व्यक्ति स्वास्थ्य , संपत्ति, सम्पन्नता और दिव्य शक्तियों की कृपा भी प्राप्त कर सकता है. अतः दिमाग मे किसी प्रकार की गलत धारणाओं को निकाल के विद्या के सही प्रयोग को जानना चाहिए और लाभ उठान चाहिए. कुछ काले जादू के अभ्यास लोगो ने वशीकरण शब्द को गलत तरीके से फैलाया है जिससे की भ्रम उत्पन्न हो और लोगो के अन्दर भय उत्पन्न हो, ऐसे लोग इस विद्या के नाम का प्रयोग सिर्फ धन अर्जित करने के लिए ही करते हैं.
अगर कोई वशीकरण विद्या का प्रयोग सही तरीके से करे तो इसमे कोई शक नहीं की ये जीवन को बदल सकता है.
ये भी गलत है की वशीकरण के मंत्र सिर्फ काले …

Janmashtmi Mahattw In Hindi and Jyotish

Janmashtmi Mahattw in hindi, 2018 जन्माष्टमी का क्या महत्तव है, क्या करे सफलता के लिए कृष्णा जन्माष्टमी पर, ज्योतिष और जन्माष्टमी, घर में जन्माष्टमी मनाने का आसान तरीका. कृष्ण जन्माष्टमी एक ऐसा उत्सव है जो की सिर्फ भारत में ही नहीं अपितु संसार के कई देशो में बहुत धूम धाम से मनाया जाता है. इसका कारण ये है की कृष्ण भक्त पुरे संसार में फैले हुए हैं. जन्माष्टमी वह दिन हैं जब कृष्ण जी ने धरती पर जन्म लिया था. कृष्ण जी को भगवान् विष्णु का अवतार माना जाता है और उनके अवतार लेने की दिव्या घटना अष्टमी की रात्री को घटी थी हिन्दू पंचांग के हिसाब से. अतः तभी से जन्माष्टमी का उत्सव मनाया जाने लगा. इस दिन लोग पूरी रात लोग नाम संकीर्तन , कृष्ण मंत्र का जप आदि किया करते हैं. कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव: इस रात्रि का इन्तेजार भक्त लोग पुरे साल करते हैं, पूरी रात भक्तगण कृष्ण नाम के साथ झूमते हैं , गाते हैं, जगह जगह झांकियां सजाई जाती हैं, लोग घरो में भी झांकियां सजाते हैं और उत्सव मानते हैं. झूला लगाया जाता है, उसमे बालगोपाल की मूर्ती रखी जाती है, रात्रि को लोग ह्रदय से बड़े हर्ष और उल्लास के साथ पूजन करते ह…

Rakshabandhan Mahurat in Hindi

Rakshabandhan Mahurat 2018 in Hindi, क्या खास बात है 2018 के रक्षाबंधन में, ग्रहों की दशा जानिए ७  अगस्त 2018 को., ज्योतिषीय महत्तव रक्षाबंधन का.
एक पवित्र त्यौहार है रक्षा बंधन, एक महत्त्वपूर्ण उत्सव है रक्षाबंधन जो की समर्पित है भाई और बहनों को. भाई कहीं भी हो पर रक्षाबंधन के दिन वो जरुर से कोशिश करते हैं की घर पर आये और अपनी प्यारी बहन से राखी बंधवाये और उसे कुछ उपहार दे. 
जो धागा बहन अपने भाई को बांधती है वो कोई साधारण धागा नहीं होता अपितु एक रक्षा कवच की तरह काम करता है जो की व्यक्ति के भाग्वोदय में सहायक होता है. जहाँ बहन भाई की रक्षा के लिए पवित्र धागा बांधती है वही भाई भी बहन की रक्षा करने का वादा करते हैं और विश्वास दिलाते हैं की जीवन भर जब भी जरुरत पड़ेगी तो वो बहन की रक्षा करेंगे.  आइये जानते हैं की 2018 के रक्षाबंधन की क्या ख़ास बात है : 26 अगस्त 2018 को दिन है रविवार और पूर्णिमा तिथि है. इस दिन ग्रहों की स्थिति अच्छी और ख़राब दोनों बन रहा है, आइये देखते हैं –
सूर्य स्व राशि का होके शुभ रहेगा जो की नाम, यश, ख्याति के योग बनाएगा. मंगल उच्च का होक गोचर में रहेगा.केतु भी मित्र का …

Rakshabandhan aur Hindi Jyotish

रक्षा बंधन और हिंदी ज्योतिष, क्या महत्त्व है रक्षा बंधन का, क्या करे सुख और सम्पन्नता के लिए रक्षा बंधन को ज्योतिष समाधान. रक्षा बंधन और ज्योतिष: रक्षाबंधन जिसे राखी के नाम से भी जानते हैं भारत में मनाया जाता है. ये भाई और बहनों का त्यौहार है और हर बहन इस त्यौहार का इन्तेजार करती है हर साल. राखी के दिन बहन अपने भाई को सुन्दर सा धागा बांधती है जो की उसके प्रेम का प्रतिक है, इससे वो ये भी कहती है की जीवन भर रक्षा करना और प्रेम बनाए रखना. दशको से भारत में ये त्यौहार मानता आ रहा है. राखी का त्यौहार श्रावण मॉस के पूर्णिमा को मानाया जाता है हिन्दू पंचांग के अनुसार.  नोट: राखी कभी भी भद्रा काल में नहीं बांधना चाहिए, इस काल की जानकारी अखबारों और टीवी चैनल पर बताया जाता है समय आने पर.  ज्योतिष के हिसाब से श्रावण महीने की पूर्णिमा बहुत ही महत्त्वपूर्ण होती है. अगर इस दिन कोई दान करे, पूजा पाठ करे तो भाग्योदय होता है. इसीलिए भी ये दिन काफी उत्साह से मानाया जाता है.  इस दिन बहन अपने भाई के कलाई में राखी बांधती है और भाई अपनी प्यारी बहन को उपहार देता है और दोनों ही एक दुसरे के अच्छे जीवन की कामना क…

Jyotish Me Pakshiyo Ko Khilana

ज्योतिष के हिसाब से पक्षियों को खिलाने का क्या मतलब होता है, पक्षी ज्योतिष, क्यों खिलाएं पक्षियों को, कैसे करे ग्रह दोषों को कम, हिंदी ज्योतिष से जाने भाग्योदय के उपाय, Jyotish Me Pakshiyo Ko Khilana, पक्षियों को खिलाने से भाग्योदय, कैसे दूर करे दुर्भाग्य को जीवन से.

Do You Know That ?
दुनिया में ऐसे बहुत से लोग है जो रोज पक्षियों को दाना डालते हैं और ये वाकई में एक अच्छा तरीका है जिव जन्तुओ को अपना बनाने का. साधारण तरीके से पक्षियों को खिलाना और ज्योतिष के हिसाब से पक्षियों को खिलाने में अंतर है. साधारणतः तो हम पक्षियों को कुछ भी खिला सकते हैं परन्तु ज्योतिष के हिसाब से विशेष दिन विशेष भोजन पक्षियों को करना आता है. इससे भाग्योदय होने में सहायता मिलती है और कुंडली में मौजूद ख़राब ग्रहों के प्रभाव को कम किया जा सकता है.

 सप्ताह में ७ दिन होते हैं और सभी दिनों का सम्बन्ध अलग अलग ग्रहों से होता है, इस प्रकार अलग अलग ग्रहों का सम्बन्ध अलग अलग प्रकार के अनाज से होता है. जब कुंडली में कोई गृह परेशानी दे तो उससे सम्बंधित अनाज को पक्षियों को खिलाने से लाभ होता है.

हिन्दुओ …

Vodoo Jadu Ke Lakshan Aur Samadhan

वुडू जादू के लक्षण, जानिए कैसे बच सकते हैं वुडू जादू से, Black magic solutions, ज्योतिष समाधान, Vodoo magic solutions in hindi jyotish.
वुडू मैजिक को करने के लिए उन चीजो का स्तेमाल किया जाता है जो की हमारे आस पास ही मौजूद रहती है. इस लेख में हम जानेंगे की कैसे वुडू जादू द्वारा लोगो को नुक्सान होता है और कैसे इस काले जादू से बचा जा सकता है.  इस लेख का उद्देश्य सिर्फ लोगो को कला जादू के नुक्सान से अवगत कराना है और इसे ना करने के बारे में बताना है. इस लेख में जो बाते बताई जा रही है वो उन लोगो से बात करने पर पता चली है जो इसके शिकार हुए हैं.  अगर कोई अग्नि की शक्ति को नहीं माने तो ये कोरी मुर्खता होगी, जानबूझकर या अज्ञानता से अगर कोई अपना हाथ अग्नि में डाले तो निश्चित ही अग्नि उसे जला डालेगी. इसी प्रकार कुछ लोगो के भरोसा ना करने पर भी दुनिया में अलौकिक शक्तियों का वजूद मौजूद है.  जो लोग कला जादू या वुडू जादू के शिकार हुए हैं वो ही सही मायने में ये जानते हैं की ये कितना भयानक होता है.  सदियाँ बीत गई है पर सूर्य और चंद्रमा आज भी वही है और अपना काम वैसे ही कर रहे हैं.

क्या आप तंत्र में बंधन द…

Kala Jadu Kaise Jivan Ko Kharab Karta hai

Kala jadu kaise jivan ko barbaad karta hai, Kala jadu hone ke lakshan, kaise jaane ki black magic hua hai, kala jadoo ka samadhan in hindi jyotish. काले जादू की शक्ति:काले जादू में अलौकिक शक्तियों का प्रयोग जन, धन की हानि के साथ भौतिक सुख सुविधाओं की प्राप्ति के उद्देश्य से किया जाता है. काले जादू में इतनी शक्ति होती है की वो किसी को मानसिक और शारीरक तौर पर नुक्सान पंहुचा सकता है.काले जादू को कई नामो से जाना जाता है जैसे वुडू मैजिक, ब्लैक मैजिक, सोल मैजिक, प्रेत विद्या, काली विद्या  अदि. काले जादू के द्वारा किसी के जीवन में उसके अनुमति के बिना हस्त्क्षेत किया जा सकता है. ये विद्या करने वाले और जिस पर किया जाए, दोनों को नुक्सान पंहुचाती है. इस काली विद्या में मंत्रो और वस्तुओ के प्रयोग से अलौकिक शक्तियों को वश में करके उनसे काम लिया जाता है. काली विद्या का प्रयोग नकारात्मक भावनाओं से ग्रसित लोग या तांत्रिक करते हैं भौतिक उद्देश्यों के पूर्ति के लिए. काली विद्या या काला जादू का प्रयोग करने से बचना चाहिए क्यूंकि इससे किसी का भला नहीं होता है. इस विद्या में भूत, प्रेत, भटकती आतामाओ के द्व…

Simha Sankranti Ka Mahattw

सिंह संक्रांति का महत्त्व , क्या होता है सिंह संक्रांति, क्या बदलाव होता है ज्योतिष के हिसाब से ग्रहों में.  सिंह संक्रांति का महत्त्व: १७ अगुस्त 2018 शुक्रवार को है सिंह संक्रांति  जब सूर्य कर्क राशि से सिंह राशि में प्रवेश करता है तो वो समय सिंह संक्रांति कहलाता है. वैदिक ज्योतिष के हिसाब से सिंह संक्रांति सकरात्मक उर्जा को बढ़ाता है क्यूंकि सूर्य सिंह राशि में ताकतवर हो जाता है. जिनके कुंडली में सूर्य सिंह राशि को हो उनके लिए अच्छा समय शुरू हो जाता है.  अलग अलग जगहों में सिंह संक्रांति से विशेष महिना शुरू होता है जैसे – मलयालम केलिन्डर के हिसाब से चिंगा महिना शुरू हो जाता है. तमिल केलिन्डर के हिसाब से अवनि महिना शुरू हो जाता है. बंगाली केलिन्डर के हिसाब से भद्रा महिना शुरू हो जाता है.  सिंह संक्रांति का महत्त्व :दक्षिण भारत में मान्यता के अनुसार इस दिन भगवान् विष्णु के अवतार नरसिंह भगवान् की पूजा होती है विष्णु जी के साथ. नारियल पानी से विशेष अभिषेक होता है जिसे पवित्र माना जाता है. मंगलौर शहर के कुलई में लोग विष्णु मंदिर में दर्शन और पूजन करते हैं. विष्णु पूजा से पहले भगवान् गणेश की…

Kaise Paayen Mukti Bhay, Chinta aur Nirasha se Jyotish Ke Madhyam Se

कैसे बचाए अपने आपको तनाव से, नकारात्मकता से, डर से, ज्योतिष के द्वारा, क्या करे जब नकारात्मक विचार पीछा न छोड़े, जानिए कौन से ग्रह जिम्मेदार है नकारात्मक विचार और निराशा के लिए.
तनाव, डर और नकारात्मक विचार ऐसे ३ मुख्य कारक है जो की किसी भी व्यक्ति के पतन का कारण बन जाते हैं. इनके कारण जातक नकारात्मक निर्णय लेने लगता है और अपने जीवन को असफलता की और धकेल देता है. आइये जानते हैं की तनाव, नकारात्मक विचार और डर के ज्योतिषीय कारण क्या हो सकते हैं? इस संसार में ऐसे बहुत से कारण होते हैं जिससे जीवन में डर, चिंता, निराशा आ जाती है परन्तु ज्योतिष में हम ग्रहों को किसी भी घटना का कारण मानते हैं अतः यहाँ हम जानेंगे ज्योतिषीय कारण. कुंडली में पहला घर मन से सम्बन्ध रखता है और अगर ये किसी ख़राब ग्रह से प्रभावित हो जाए तो जातक चिंता, निराशा, नकारात्मक विचार से ग्रस्त हो जाता है. जैसे की अगर ख़राब राहू लग्न में हो तो राहू की महादशा में जातक नकारात्मक विचार से जरुर ग्रस्त हो जाता है. जीवन में निराशा और असफलता भी घेर लेती है.कुंडली में अगर ग्रहण योग हो तो भी जातक भय, चिंता, नकारात्मक विचार से ग्रस्त हो सकता…

Love Life Aur Jyotish

प्रेम क्या है, ज्योतिष द्वारा प्रेम समस्याओं का समाधान, किन बातो का ध्यान रखा जाता है प्रेमियों के कुंडली को देखने के समय.
क्या है प्रेम? प्रेम एक अहसास है जिसका वर्नान शब्दों में करना संभव नहीं हो पाता है, एक दिव्य अहसास है किसी ख़ास के लिए. जब हमे प्रेम होता है तो इसमे कोई शक नहीं की जीवन पूर्ण रूप से बदल जाता है. परन्तु ऐसे भी बहुत से लोग है जो की प्रेम की भावना को सामने वाले को कभी बता ही नहीं पाते हैं. इसका मुख्य कारण ग्रहों में कमजोरी भी हो सकता है.
ऐसे में ज्योतिष जातक की मदद कर सकता है.
प्रेम जाती, धर्म, धन नहीं देखता, प्रेम तो हो जाता है अपने आप. प्रेम दो आत्माओं के बीच एक ख़ास प्रकार का सम्बन्ध होता है, प्रेमीयो को कुछ ऐसे अहसास होते है जो की दुसरो के लिए संभव नहीं, इसका वर्णन करना असंभव है.प्रेम होने का कोई विशेष समय नहीं होता, इसका कोई विशेष उम्र नहीं होती, इसका कोई विशेष कारण भी नहीं होता है.परन्तु कभी कभी गलतफहमी के कारण भी ब्रेकअप हो जाते हैं, कुछ लोग लम्बे समय तक प्रेम सम्बन्ध नहीं निभा पाते हैं, इसका कारण ख़राब ग्रह हो सकते हैं कुंडली में. ऐसे में ज्योतिष ही जातक की मदद …

Prem Vivah Samasya Ka Jyotish Dwara Samadhan

प्रेम विवाह समस्या का कारण और समाधान, अंतर जातीय विवाह में समस्या और ज्योतिषीय सलाह.

किसी दूसरे  जाती के लड़के या लड़की से प्रेम होने के बाद जो पहली समस्या आती है वो है उससे विवाह करना. इस डिजिटल दुनिया में भी लोग अभी तक अपनी जातीय सम्बंधित लगाव से बाहर नहीं आ पाए हैं और इसका फल बच्चो को या प्रेमियों को भुगतना होता है. प्रेम किसी और के प्रति हमे जागरूक करता है, प्रेम से जिम्मेदारी की भावना का भी विकास होता है. परन्तु जब कोई अपने प्रेमी के साथ विवाह नहीं कर पाता है तो दोनों ही पुरे जीवन भर एक असनुष्ट जीवन व्यतीत करते हैं. कुछ माता पिता अपने जाती को लेके इतने जिद्दी हो जाते हैं की किसी भी हालत में दुसरे जाती से विवाह के लिए तैयार नहीं होते हैं. इसके कारण लड़का और लड़की दोनों की जिन्दगी बर्बाद हो जाती है.

वास्तव में कोई भी व्यक्ति जाती, धन, पारिवारिक हैसियत को देखके प्रेम नहीं करता है परन्तु जब भी बात शादी की आती है तो हम जाती, परिवार की स्थिति, परिवार के लोगो की हैसियत आदि देखने लग जाते हैं. ये एक श्राप है समाज को जिसके कारण बहुत से अच्छे जोड़े साथ रहने से वंचित रह जाते हैं. पढ़िए Love life k…

Love Hormones Kya Hai In Hindi

लव हारमोंस क्या है, क्या फायदे होते हैं लव हारमोंस के, स्वास्थ्य पर क्या असर होता है इसका, ख़ुशी के पीछे का विज्ञान क्या है? ये एक बहुत ही रोचक विषय है, हर घटना के पीछे एक विज्ञान छुपा होता है, कई घटनाओं का हमे पता नहीं होता है परन्तु विज्ञान अपना काम करता रहता है. आज हम इस लेख के जरिये एक विशेष हार्मोन के बारे में जानेंगे जिसे दुनिया साधारण भाषा में “लव हर्मोने” के रूप मे जानती है और विज्ञान की भाषा में उसे “ओक्सिटोसिन“ के नाम से पुकारा जाता है.
लव हार्मोन या ओक्सिटोसिन महिलाओं के अन्दर तब उत्पन्न होता है जब वो बच्चे को दूध पिलाती है और जब बच्चे को जन्म देती है, इस हार्मोन का सीधा सम्बन्ध आन्तरिक ख़ुशी से है, शांति से है. इस हार्मोन का सम्बन्ध जीवन में प्रेम से भी है, जब भी कोई अपने साथी के साथ शांति और ख़ुशी का अहसास करता है तब शारीर में ये विशेष हार्मोन उत्पन्न होना शुरू होता है. ओक्सिटोसिन का महत्तव : ये हार्मोन शारीर और दिमाग को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसका सम्बन्ध लगाव से है, भावना से है. एक शोध से पता चला है की ओक्सिटोसिन हर्मोने उस समय भी उत्पन्न होता है जब म…

Kaise Bhare Jivan Mai Prem Jyotish Ke Upaayo Dwara

कैसे भरें जीवन में प्रेम ज्योतिष उपायों द्वारा ,प्रेम में सफलता के उपाय, जानिए सच्चे प्रेम का रहस्य hindi में.
प्रेम एक ऐसा सत्य है जिसे नकारना सम्भव नहीं है, प्रेम सिर्फ मनुष्य को ही नहीं अपितु जानवरों को भी वश में करता है, प्रेम के द्वारा जीवन का आनंद लिया जाता है, प्रेम के बिना जीवन रसहीन हो जाता है, प्रेम के बिना जीवन जीना संभव नहीं हो पाता है.

वैलेंटाइन डे भी प्रेम का प्रतिक है जब प्रेमी लोग एक दुसरे के साथ ज्यादा समय बिताते है और जीवन में एक दुसरे को एक दुसरे के साथ होने के लिए धन्यवाद देते हैं.

प्रेम वास्तव में है क्या तो इस बारे में इस सत्य को जानना चाहिए की प्रेम एक भावना है जिसे शब्दों में व्यक्त करना संभव नहीं है. ये भावना जब किसी के लिए पैदा होती है तो उसे सिर्फ महसूस किया जाता है. जब प्रेम उत्पन्न होता है तो जीवन में रस उत्पन्न होने लगता है, जीवन का आनंद आने लगता है, जीवन का समझने के लिए एक नै दृष्टि मिलती है.

परन्तु ऐसे भी लोग है जो प्रेम से अब तक वंचित है, उन्होंने इसे अभी तक महसूस नहीं किया है, या फिर इसे प्राप्त करने के लिए अथक प्रयास कर रहे है परन्तु सफल नहीं हो पा र…

Naagpanchmi Ko Rashi Ke Hisab Se Pooja Kaise Kare

नाग पंचमी का महत्त्व ज्योतिष के हिसाब से, जानिए राशी के अनुसार कैसे करे नागपंचमी को पूजा.

नागपंचमी एक अत्यंत महत्त्वपूर्ण दिन है हिन्दुओ के हिसाब से, इस दिन नागदेवता की पूजा होती है और लोग सांपो के महत्त्व को भी जानते हैं. ज्योतिष के हिसाब से पंचमी तिथि नागो को समर्पित है. सावन महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी को नागपंचमी मनाया जाता है जब पुरे भारतवर्ष में लोग शिव मंदिर में जाके या फिर नाग मंदिरो में जाके नागो की पूजा करते हैं. कुंडली में मौजूद कई दोषों का समाधान सिर्फ नागपंचमी को पूजा करने से हो जाता है. ऐसी मान्यता है की नागपंचमी को सांपो की पूजा करने से उनकी कृपा से जीवन में स्वास्थ्य, सम्पन्नता, ख़ुशी, संतान सुख आदि की प्राप्ति होती है. इसी कारण हिन्दू लोग नागपंचमी को शिव मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना करते हैं.कुंडली में अगर सर्प दोष हो तो नागपंचमी को पूजा करने से दूर हो सकता है.कुंडली में कालसर्प दोष हो तो उसकी शांति इस दिन हो सकती है.कुंडली में विष दोष का समाधान भी इस दिन पूजा करने से होता है.नागपंचमी को प्रेत दोष निवारण, पितृ दोष निवारण पूजाएँ भी होती है.विवाह में देरी की समस्या को द…

Naagpanchmi Ko Safalta Ke Liye Kya Kare

नागपंचमी की शक्ति, क्या करे नाग पंचमी को, क्या न करे नाग पंचमी को, कौन सी पूजाएँ लाभदायक हो सकती है नागपंचमी को. एक महत्त्वपूर्ण दिन है नागपंचमी - अगर आपके कुंडली में कालसर्प दोष है, अगर आपके कुंडली में पितृ दोष है, अगर आपके कुंडली में प्रेत दोष है, अगर आपके कुंडली में सर्प दोष है, अगर आप राहू के नकारात्मक प्रभाव से परेशान हैं तो नागपंचमी के दिन आप कर सकते हैं इन दोषों का परिहार. आइये देखे किस प्रकार के अनुष्ठान हो सकते हैं नागपंचमी को - कालसर्प दोष निवारण प्रयोगपितृ दोष निवारण प्रयोगप्रेत दोष दोष निवारण प्रयोगविवाह दोष निवारण प्रयोगराहू दोष निवारण पूजाशिव एवं नाग देवता की कृपा प्राप्त करने हेतु पूजा क्या करना चाहिए नागपंचमी को उज्जवल भविष्य के लिए -नागपंचमी को पंचामृत से आप नाग देवता का अभिषेक कर सकते हैं अपनी मनोकामना के साथ.आप भोलेनाथ का अभिषेक कर सकते है पंचामृत से नागपंचमी को.चन्दन का इत्र आप नाग देवता और भोलेनाथ को अर्पित करे.दूध में मिश्री घोलके आप नाग देवता को अर्पित करे. क्या नहीं करना चाहिए नागपंचमी को ?

Nag Panchmi Ka Mahattw In Hindi

Nag panchmi ka mahatw in hindi, नाग पंचमी क्या है और क्यों महत्त्वपूर्ण हैं, क्या करे सफलता के लिए नाग पंचमी को ?
हिन्दू धर्म के अन्दर सांप प्रजाति को भी बहुत माना जाता है और लोगो का ऐसा विश्वास है की सांपो के देवता का आशीर्वाद अगर किसी को मिल जाए तो उसका जीवन धन-धान्य से भरपुर हो जाता है. वैदिक ग्रंथो के अनुसार पंचमी तिथि जो की हर महीने आती है नाग पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ मानी जाती है इसी कारण पंचमी को नागो को मारना मना है. आइये अब जानते हैं क्या है नाग-पंचमी? सच्चाई ये है की पंचमी हर महीने 2 बार आती है परन्तु जो पंचमी शरावन महीने में आती है अमवस्या के बाद उसका महत्तव बहुत है और यही दिन नाग-पंचमी के रूप में मनाई जाती है. इसी दिन नाग देवता की पूजा की जाती है जीवन को सुगम बनाने के लिए. अगर किसी के कुंडली में कालसर्प योग है या फिर राहू और केतु परेशान कर रहे हो तो भी नागपंचमी के दिन पूजा से लाभ लिया जा सकता है. 2018 में 15 अगस्त, बुधवार को नाग पंचमी आ रही है जो की बहुत महत्त्वपूर्ण है.  ज्योतिष के अनुसार २०१८ के नाग पंचमी का महत्तव : इस बार नाग पंचमी बुधवार को आ रही है और ज्योतिष के अनुसा…

Shani Amavas Ka Mahatw In Hindi

Shani amavas ka mahatwa in hindi, कैसे छुटकारा पायें शनि के बुरे प्रभाव से, शनि अमवस्या को क्या करे सफलता के लिए?, शनि के टोटके, शनि पीड़ा से मुक्ति के उपाय. हिन्दू परंपरा के अनुसार शनि अमवस्या का बहुत अधिक महत्तव है. इस दिन पवित्र नदियों के किनारे मैले जैसा वातावरण हो जाता है, लोग पवित्र नदियों में स्नान करते है और नदी तट पर ही पूजा पाठ आदि करते हैं कृपा प्राप्त करने के लिए. इस दिन पितृ शांति की पूजा होती है, काले जादू से मुक्ति हेतु भी ये दिन विशेष महत्तव रखता है, नजर दोष, उपरी हवा से बचाव के लिए भी इस दिन विशेष क्रियाये की जाती है. इस दिन शनि पूजा का भी बहुत लाभ मिलता है. इसी कारण शनिवार को पड़ने वाले अमावस्या का बहुत अधिक महत्तव होता है.  तंत्र के हिसाब से भी ये दिन ख़ास महत्तव रखता है. जानकार लोग इस दिन शक्ति प्राप्त करने हेतु विशेष साधना करते हैं. नकारात्मक विचारो से ग्रस्त लोग इस दिन लोगो को नुक्सान पहुचाने हेतु क्रियाएं करते हैं अतः ये जरुरी है की सावधानी बरती जाए. अगर किसी जातक के कुंडली में ग्रहण योग है या फिर शनि नीच का है तो ऐसे में उनको इस दिन बहार नहीं निकलना चाहिए और पूजा …

Naurkri Ya Vyapaar Kya kare Jyotish Ke Hisab Se

Naurkri Ya Vyapaar Kya kare Jyotish Ke Hisab Se, कुंडली के हिसाब से क्या बेहतर होगा व्यापार या नौकरी, काम काज चुनने में ज्योतिष की भूमिका. अगर आपको परेशानी आ रही है ये चुनने में की क्या करे व्यापार या जॉब तो ऐसे में ज्योतिष की मदद आप ले सकते हैं. वैदिक ज्योतिष की माध्यम से हम कुंडली में ग्रहों की स्थिति को देखके सही मार्ग चुन सकते हैं काम काज के लिए. इस लेख में हम जानेंगे की कैसे ज्योतिष मदद करता है कैरियर चुनने में. जीवन में ऐसा बहुत बार होता है की हम दुविधा में फंस जाते हैं की क्या चुनना चाहिये. कभी ऐसा होता है की नौकरी में व्यक्ति को समस्या आने लगती है तो जातक सोचता है की चलो अब कोई व्यापार किया जाए, फिर ऐसा विचार आता है की चलो दूसरी जॉब ढूँढ़ते हैं. इस प्रकार के असमंजस में काफी दिन निकल जाते हैं.  जो लोग हाल ही पढ़ाई पूरी करके निकलते हैं उन लोगो को भी बहुत समस्या आती है सही कैरियर चुनने में.  कुछ लोग तो नौकरी के साथ पार्ट टाइम में व्यापार भी करना चाहते हैं.  ज्योतिष के द्वारा हमे ये पता चल सकता है की हमे क्या करना चाहिए व्यापार या नौकरी. क्या आप नौकरी छोढ़कर व्यापार के बारे में सोच र…

Rog Mukti Ke Liye Totka In Hindi Jyotish

Rog Mukti Ke Liye Totka In Hindi Jyotish, क्या करे रोग मुक्ति के लिए, कैसे दूर करे रोगों को जीवन से ज्योतिष के माध्यम से.  इसमें कोई शक नहीं की हममे से कोई भी रोग नहीं चाहता है और इससे कोई बच भी नहीं पाता है. किसी ना किसी प्रकार के रोग हमेशा ही जीवन में परेशानी उत्पन्न करते रहते हैं. अगर कोई रोगों से ग्रस्त है तो ये लेख आपकी मदद कर सकता है.  ऐसे बहुत सी पूजाएँ है, टोटके है, कर्म काण्ड है जिनके द्वारा गंभीर रोगों से मुक्ति में सहायता मिलती है.  आइये जानते हैं कुछ आसान टोटके बिमारी से बचाव के लिए:अगर कोई लम्बे समय से बिमारी से ग्रस्त है संतोषजनक परिणाम नहीं मिल रहा हो तो गेहू के आटे का एक पेड़ा बनाएं और एक लोटा पानी ले. अब इन दोनों चीजो को बीमार व्यक्ति के ऊपर से २१ बार उतारे, पेड़ा तो गाय को खिला दे और पानी किसी पौधे में डाल दे. ऐसा रविवार से शुरू करके ७ दिन करे और परिणाम देखे. इलाज के लिए जब भी डॉक्टर के पास जाए तो सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को जाएँ. ये भी अच्छा रहेगा अगर आप अमृत के चोघडिये में डॉक्टर से सलाह लेने जाएँ. जब भी दावा ले तो सबसे पहले महामृत्युंजय मंत्र का जप करे थोड़ी देर फि…