Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2017

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Talaak Ke Karan Aur Jyotish Samadhan

तलाक के मुख्य कारण जो की उत्प्रेरक का कार्य करते हैं. जानिए उन कारणों को जो संबंधो को तलाक तक पहुंचा देते हैं, ज्योतिषीय कारण जानिए तलाक के, जानिए ज्योतिष समाधान तलाक के.
आज के दौर में तलाक के बढ़ते मामले सही मायने में एक गंभीर विषय है पुरे संसार के लिए. अब ये समय आ गया है की इस विषय पर गंभीरता से विचार किया जाए और कारणों को जाना जाए. तलाक से अपने आपको बचाने के लिए भी समाधान खोजना चाहिए.  तलाक को लेके कुछ महत्त्वपूर्ण सवाल आते हैं जैसे :आज के कुछ युवा लोग क्यों विवाह के संबंधो को निभा नहीं पा रहे हैं?क्यों आज कोई एक साथी संघर्ष के समय दुसरे का साथ नहीं दे पाता है?क्यों अहंकार इतना महत्त्वपूर्ण हो गया है की बात तलाक तक पहुँच जाती है. क्यों लम्बे समय तक रहने के बाद दंपत्ति तलाक लेने लगे हैं.क्या ज्योतिष तलाक को रोकने में सहायक हो सकता है?क्यों आज कुछ समय के बाद प्रेम संबंधो में दरार आ जाता है?क्यों हम अपने वैवाहिक जीवन को रोज नवीनता से नहीं देख पाते हैं?क्यों ले तलाक?क्यों लोग तलाक के बाद के परिणामो पर विचार नहीं कर पाते हैं? अगर हम ऊपर लिखे प्रश्नों पर गहराई से विचार करे तो निश्चित ही ह…

Dhan Ki Bachat Ke Liye Jyotishiy Upaay

धन की बचत के लिए ज्योतिषीय उपाय, जानिए अनचाहे खर्चे के क्या कारण हो सकते हैं, जानिए कुछ ख़ास ज्योतिषीय उपाय बचत के लिए, सम्पन्नता के लिए उपाय ज्योतिष द्वारा. 
धन बुनियादी जरुरत होती है सभी के लिए जिसके द्वारा मनुष्य अपनी इच्छाओ को पूरी कर सकता है. इस संसार में सभी धन को पाने के लिए कोशिशे कर रहे है. हर कोई ज्यादा से ज्यादा धन कमाना चाहता है. कुछ लोग कमाते तो अच्छा है पर बचत नहीं कर पाते हैं. उनको इसका कारण पता नहीं चलता है परन्तु वे इसके कारण को जानने के लिए अपने दोस्तों, रिश्तेदारों आदि से बात करते रहते हैं. हमने अक्सर लोगो के मूंह से सुना है की “मै नहीं जानता की मेरा पैसा जाता कहा है ?, इतना कमाने के बावजूद कोई बचत नहीं कर पा रहा हूँ.”
मानव की प्रकृति है की बिना चाहे अगर खर्चा हो जाए तो ये दुःख देता है.  कई प्रकार के अनचाहे खर्चे जीवन में हो सकते हैं जैसे :बिमारी में खर्चा अचानक से होता है. किसी दुर्घटना में खर्चा अचानक से हो जाता है. किसी विशेष हानि को लाभ में बदलने के लिए अचानक से कोई खर्चा करना पड़ता है. किसी प्रकार की मरम्मत में भी अचानक से खर्चा करना पड़ सकता है. कई बार परिवार के …

Nada Yoga Dhyan Ke Fayde Aur Vidhi

नाद योग ध्यान क्या है, कैसे करे नाद योग ध्यान, क्या फायदे होते हैं इस ध्यान के, कैसे उर्जित करे अपने मन मस्तिष्क और शारीर को, जानिए ध्यान की अदभुत विधि.
इस लेख को शुरू करने से पहले ये बता दे की ये ध्यान विधि बहुत ही प्रभावकारी है और लोगो ने इस विधि का प्रयोग करके बहुत ही अश्चार्जनक बदलाव जीवन में महसूस किया है. इस ध्यान विधि के बारे में जानने के लिए ये जरुरी है की हम खुद करे और महसूस करे इसकी शक्ति को. नाद योग ध्यान को रोज करने वाले बहुत सी परेशानियों से अनायास ही छुटकारा पा लेते हैं. अगर इस ध्यान को रोज किया जाए तो हम एक स्वस्थ जीवन, संपन्न जीवन, सकारात्मक जीवन को जी सकते हैं. क्या है नाद योग ध्यान ? नाद योग भारत की अति प्राचीन ध्यान विधियों में से एक है जिसका प्रयोग यहाँ के ऋषि, मुनि, योग और जानकार लोग करते आये हैं. साधारणतः लोग इसका प्रयोग अध्यात्मिक उन्नति के लिए ही करते आये हैं परन्तु सच तो ये है की इस ध्यान के प्रभाव से संकल्प शक्ति विकसित हो जाती है और व्यक्ति सफलता पूर्वक जीवन भी जी सकता है. आइये कुछ और जाने नाद योग के बारे में : शारीर और मन के शुद्धिकरण में सहायक है नाद योग ध…

Kaise Kare Tarpan In Hindi

कैसे करे तर्पण,  किस मन्त्र से करे प्रयोग, जानिए कैसे करे घर में तर्पण आसानी से पितरो की कृपा प्राप्त करने के लिए.  तर्पण मंत्र और विधि: इससे पहले के लेख में हमने जाना की तर्पण क्या होता है? , तर्पण का महत्त्व, तर्पण के प्रकार आदि. इस लेख में हम जानेंगे की तर्पण के लिए कौन से मंत्रो का प्रयोग करना चाहिए. इन मंत्रो का प्रयोग करके कोई भी अपने घर पर भी तर्पण प्रयोग कर सकते हैं और पितरो की कृपा प्राप्त कर सकते हैं.  पहला कदम: सबसे पहले यम देवता का ध्यान करते हुए दक्षिण दिशा में चावल के ढेर पर दीपक प्रज्वलित करना चाहिए क्यूंकि वो मृत्यु के देवता है.  नोट: किसी भी आवाहन मंत्र का प्रयोग करने से पहले हाथ में थोडा चावल के दाने रखना चाहिए और आवाहन के बाद दीपक पर छोड़ देना चाहिए.  यम देवता के नाम से दीप दान के समय निम्न आवाहन मंत्र का जप करना चाहिए – “ॐ यमाय नमः | आवाहयामी, स्थापयामी, ध्यायामी | ततो नमस्कार करोमि.” इसके बाद कुछ समय तक यम मंत्र का जप करे “ॐ यमाय नमः ” दूसरा कदम: अब एक काले तिल के ढेरी पर पितरो के नाम से दीपक जलाए और निम्न आवाहन मंत्र का जप करे. “ॐ पितृभ्यो नमः | अवाह्यामी , स्थाप्य…

Kaise Bachaaye Rishto Ko Kaale Jadu Se

Kaise Bachaaye Rishto Ko Kaale Jadu Ke Prabhav Se, क्या करे काले जादू से अपने प्रेमी को बचाने के लिए, कैसे सुरक्षित रखे लव लाइफ को.
प्रेम के रिश्ते जीवन में बहुत ही अनोखे और महत्त्वपूर्ण होते हैं परन्तु ऐसे बहुत बार होता है की जिससे हम प्रेम करते हैं वो अचानक से दूर होने लगता है, अचानक से उसका मन दुसरे की तरफ खीचने लगता है, अचानक से वो रिश्तो को तोड़ने की कोशिश करने लगता है.
इस प्रकार के अनेक केस आते रहते हैं जिसमे एक प्रेमी इस बात से दुखी रहता है की दूसरा अचानक से दूर हो रहा है बिना किसी कारण के. काला जादू होने पर बचने के उपाय ज्योतिष में
आइये जानते है की रिश्तो में अचानक से दरार के क्या कारण हो सकते हैं? रिश्तो में समस्या के बहुत से कारण हो सकते हैं जिनमे कुछ तो दीखते हैं पर कुछ दीखते नहीं हैं जैसे –
कई बार तो कुंडली में ग्रहों का साथ नहीं मिलने के कारण रिश्ते ख़राब हो जाते हैं. कई बार न समझी के कारण भी रिश्तो में दरार उत्पन्न हो जाती है. कई बार बुरी नजर के कारण भी लोगो के रिश्ते ख़राब हो जाते हैं. कई बार काले जादू के असर के कारण भी रिश्ते ख़राब हो जाते हैं. काला जादू कैसे ख़त्म करे ? आइ…

Shatru Se Suraksha Ke Liye Vastu Samadhan

Shatru Se Suraksha Ke Liye Vastu Samadhan, शत्रुओ के प्रकार और वास्तु समाधान, कैसे करे वास्तु की सुरक्षा शत्रुओ से. 
शत्रुओ की समस्या एक गंभीर मसला है आज के इस इलेक्ट्रॉनिक युग में भी. अगर शत्रु शक्तिशाली है तो ये चिंता का विषय होता है. इससे जीवन में बहुत परेशानियां आ सकती है. शत्रु के कारण जीवन नरक जैसा महसूस होने लगता है. एक डर हमेशा दिमाग में छाया रहता है. इसके कारण स्वास्थ्य पर भी ख़राब असर होता है.
अगर बिना किसी कारण के शत्रु बढ़ रहे हो जीवन में, अगर बिना किसी कारण के जीवन में संघर्ष बढ़ रहे है, वाद विवाद बढ़ रहे है तो जल्द ही सही कदम उठा लेने चाहिए.
कभी कभी वास्तु में समस्या के कारण भी जीवन में शत्रु बढ़ने लगते हैं, अतः इस लेख में हम जानेंगे वास्तु के समस्याओं के बारे में और ये की कैसे बचाएं शत्रुओ से.
आइये जानते हैं शत्रुओ के प्रकार के बारे मे: शत्रु का पहला प्रकार में हम किसी व्यक्ति विशेष को ले सकते हैं जो की हमे नुक्सान पहुचाना चाहता हो.दुसरे प्रकार में हम नकारात्मक उर्जाव को लेंगे जो की वास्तु के गलत तरीके से बनाने के कारण उत्पन्न होते हैं. तीसरे प्रकार में शारीर के अन्दर मौजू…

Kaise Jagrut Kare Apne Andar Ki Supt Shaktiyo Ko

कैसे जागृत करे अपने अन्दर की सुप्त शक्तियों को, कैसे जाने अपने शक्तियों को, अपनी शक्तियों को बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए, बेहतर जीवन जीने के लिए सलाह. किसी भी प्रकार की सफलता के पीछे किसी न किसी प्रकार की शक्ति होती है. शक्ति की सहायता से ही कोई व्यक्ति मेहनत करके सफलता की सीढ़ियाँ चढ़ता है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है की कोई किस जाती या धर्म का है, कोई कहा रहता है और क्या करता है, अगर शक्ति है तो सफलता कदम चूमती है.  शक्ति कई प्रकार की होती है उदाहरण के लिए शारीरिक शक्ति, मानसिक शक्ति, सकारात्मक शक्ति, नकारात्मक शक्ति आदि. इस लेख में हम जानेंगे उन शक्तियों के बारे में जो की हमारे अन्दर मौजूद हैं, हम जानेंगे की उनको जागृत करने के क्या फायदे हैं. क्या है सुप्त शक्तियों का रहस्य: विज्ञान ने इस बात को साबित किया है की हम सब अपने दिमाग का सिर्फ कुछ ही हिस्सा प्रयोग करते हैं अतः हमारे पास विस्तार करने के लिए जबरदस्त गुंजाइश है. हम सब सुनते आए हैं की प्राचीन काल में संत- महात्मा लोग अपनी दिव्या दृष्टि से कुछ भी देख लेते थे, दूर का सुन सकते थे, उड़ सकते थे, सालो तक बिना कुछ खाए पिए तपस्या में ब…

Kali Haldi Ke Totkay Aur Prayog

काली हल्दी के फायदे, जानिए काली हल्दी के टोटके और प्रयोग, काली हरिद्रा के अचूक प्रयोग.
भारत में हरिद्रा तंत्र भी काफी प्रसिद्द है, हल्दी एक अत्यंत महत्त्वपूर्ण वास्तु है जिसका स्तेमाल माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है. हल्दी का प्रयोग विभिन्न प्रकार के टोटको को करने के लिए किया जाता रहा है धनाकर्षण के लिए, सम्पन्नता के लिए आदि.
जैसे पिली हल्दी आती है वैसे ही काली हल्दी भी होती है परन्तु ये दुर्लभ है. काली हल्दी को खाया नहीं जाता है परन्तु इसका महत्त्व बहुत ज्यादा है, तंत्र में इस हल्दी का प्रयोग बहुत होता है. ऐसी मान्यता है की जहा पर काली हल्दी होती है वहां पर सुख सम्पन्नता स्वयं ही आ जाती है. इसी कारण इसे सिद्ध महुरत में तिजोरी में रखा जाता है, घर के मंदिर में रखा जाता है, व्यापारिक स्थल में रखा जाता है.  आइये जानते हैं कुछ ख़ास और आसान टोटके काली हल्दी के:कुछ विद्वानों का मानना है की काली हल्दी के तिलक से दुसरो को प्रभावित करने की शक्ति प्राप्त होती है. माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए १ काली हल्दी और थोड़ी नाग केसर ले, इन्हें एक चांदी के डब्बी में डाल के उसपर सिन्दू…

Putrada Ekadashi Vrat Ka Jyotish Mahattw

Putrada Ekadashi Vrat Ka Jyotish Mahattw, क्या करे पुत्रदा एकादशी को संतान सुख के लिए. 
जो एकादशी श्रावण महीने के शुक्ल पक्ष को आती है उसे भारत में पवित्र एकादशी या फिर पुत्रदा एकादशी के रूप में भी मनाया जाता है. ये पवित्र दिन भगवान् विष्णु को समर्पित है. इस दिन पति और पत्नी दोनों ही व्रत रखते हैं जिससे की स्वस्थ पुत्र की प्राप्ति हो. ये व्रत वैष्णव सम्प्रदाय में बहुत माना जाता है.
आइये जानते हैं की श्रावण पवित्रा एकादशी का महत्त्व: हिन्दुओं की मान्यता है की श्राद्ध कर्म सिर्फ पुत्र द्वारा ही किया जाता है और ऐसी भी मान्यता है की बुढापे में पुत्र की अपने माता पिता की देखभाल करता है. हालांकि आज के समय में ऐसा कुछ दीखता नहीं है. आज लोग बीटा और बेटी के प्रति सामान भाव रखने लगे है. आज लड़कियां लडको से अच्छा अपनी जिम्मेदारियों को निभा रही है.

पवित्र एकादशी या फिर पुत्रदा एकादशी उन लोगो के लिए बहुत महत्त्व रखता है जो लोग सिर्फ पुत्र की कामना रखते हैं. अगर कोई दंपत्ति इस दिन उपवास रखता है और पूजा करता है तो भगवान् विष्णु की कृपा से उन्हें पुत्र रत्न की प्राप्ति होती है.
जानिए कुछ ख़ास बाते पुत…