Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2017

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Shree Sadhna Ka Rahasya

श्री साधना का रहस्य, जानिए माता लक्ष्मी को, जानिए कैसे प्रसन्न करे महालक्ष्मी को, कैसे आकर्षित करे धन को जीवन में, आर्थिक रूप से मजबूत होने के ज्योतिष उपाय, कुछ लक्ष्मी मंत्र. 
जीवन में धन का अपना अलग ही महत्त्व है, बिना धन के जीवन निराशा से भर जाता है इसी कारण सभी का मुख्या ध्येय यही होता है की अपार धन अर्जित किया जाए. धन के द्वारा ही ऐश्वर्य पूर्ण जीवन जिया जा सकता है, सुखी जीवन जिया जा सकता है. अमीर बनने में कोई बुराई नहीं है बस धन किसी गलत तरीके से नहीं कमाना चाहिए. इसी कारण भक्त गण माता लक्ष्मी की पूजा करते हैं ताकि सही मार्ग से धन उनके जीवन में आये. 
ऐसा कहा जाता है की महा लक्ष्मी की कृपा जिस पर हो जाए उनके जीवन में धन अनायास ही आ जाता है बिना किसी परेशानी के. इस लेख को लिखने का आशय है की लक्ष्मी साधना से जुड़े कुछ तथ्यों को बताया जा सके. इस लेख में आप जान पायेंगे की कैसे धन को जीवन में आकर्षित किया जाए. 
कोई भी साधना इतनी आसान नहीं होती जितनी की पढने में लगती है. सिर्फ मंत्रो को जपना ही पर्याप्त नहीं होता है, जप के साथ अन्य विधियाँ भी होती है जिनका प्रयोग सही तरीके से किया जाना जरु…

Laxmi Saadhna Rahasya

लक्ष्मी साधना का रहस्य, किन बातो का ध्यान रखना चाहिए लक्ष्मी साधना के लिए. धन, सम्पन्नता, प्रभावशाली जीवन जीना सभी का सपना होता है और इसके लिए सभी माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने की कोशिश करते रहते हैं. ऐसे बहुत से लोग है जो की लक्ष्मी साधना में सफलता नहीं मिलने की शिकायत करते हैं, कुछ लोग लम्बे समय से साधना कर रहे हैं पर परिणाम नहीं मिल रहा है. कुछ लोग लक्ष्मी साधना शुरू करना चाहते हैं परन्तु मूल बाते पता नहीं हैं.  इस लेख में मैं लक्ष्मी साधना से सम्बंधित रहस्यों को बताने जा रहा हूँ. जो लोग इस साधना को करना चाहते हैं, या कर रहे हैं उनके लिए इस साधना से सम्बंधित तिथियों, दिन, महूरत आदि का ज्ञान विशेष सफलता प्रदान कर सकता है.  ऐसा कहा गया है की “भगवान् न तो लकड़ी में है और न ही पत्थर में हैं , भगवान् तो भाव में रहते हैं , सकारात्मक सोच में रहते हैं” और इसी कारण सकारात्मक सोच, अच्छा भाव किसी भी साधना की सफलता के लिए जरुरी होता है.  अतः लक्ष्मी साधना का पहला रहस्य है “विश्वास”, माता लक्ष्मी पर भरोसा होना चाहिए जो की अपने भक्तो को धन, सम्पन्नता देने को हमेशा तैयार रहती है. भक्ति भाव के अभाव …

Bharat Me Kuch Prasiddh SHIVLING

भारत के कुछ प्रसिद्द शिवलिंग, जानिए पञ्च केदार के नाम, कुछ नामी  मंदिर.
भगवान् शिव सवाव्यापी है, सर्वशक्तिमान है, सर्वज्ञ हैं और पूरी दुनिया में हम शिव मंदिर को देख सकते हैं. सभी शिव पर भरोसा करते हैं और उन्हें विभिन्न रूपों में पूजते हैं. शिव मंदिरों को बहुत पवित्र माना जाता है और पूजा, साधना के लिए शक्तिशाली स्थान माना जाता है. इसी कारण लोग यहाँ पूजा करते हैं, विभिन्न प्रकार की साधनायें करते हैं. दशकों से लोग शिवलिंग की पूजा करते आ रहे हैं जीवन को सुखी करने के लिए.
आइये जानते हैं भारत में मौजूद कुछ प्रसिद्द शिवलिंगों को : महाकालेश्वर शिवलिंग जो की उज्जैन में है क्षिप्रा नदी के पास.ओंकारेश्वर और ममलेश्वर शिवलिंग जो की ओंकारेश्वर में मजूद है, नर्मदा नदी के किनारे पर.सोमनाथ शिवलिंग अरेबियन समुद्र के पास भी बहुत प्रसिद्द है. मल्लिकार्जुन शिवलिंग जो की काठियावाड, गुजरात में है भी बहुत प्रसिद्द है. केदारनाथ शिवलिंग जो की हिमालय में स्थित है. भीमाशंकर शिवलिंग जो की भीमा नदी के किनारे है, पुणे के पास.विश्वेश्वर शिवलिंग जो की काशी में है. त्रयम्बकेश्वर शिवलिंग जो की नासिक में है, गोदावरी के तट…

23 Prasiddh Ganesh Mandir

२३ प्रसिद्द गणेश मंदिर, जानिए विश्व प्रसिद्द कुछ दिव्य गणेश मंदिरों के बारे में.
श्री गणेश हिन्दू मान्यता के अनुसार प्रथम पूज्य है और ऐसा माना जाता है की वे सर्व विघ्नों का नाश करने की क्षमता रखते हैं, इसीलिए उनका एक नाम “विघ्नहर्ता” भी हैं.
हालांकि गणेश मंदिर भारत में हर शहर में मौजूद है परन्तु यहाँ पर हम २३ विश्व प्रसिद्द गणेश मंदिरो में बारे में जानेंगे जिनका उल्लेख पुरानो में मिलता है. ये मंदिर देश के अलग अलग जगहों पर मौजूद हैं.
आइये जानते हैं इन गणेश मंदिरों के नाम और जगह जहाँ ये स्थित हैं - ओमकार गणपति की पूजा प्रयाग इलाहाबाद में होती है. धुंडीराज गणपति की पूजा काशी वाराणसी में होती है. चिंतामणि गणेश की पूजा होती है कलमब बरार जो की येवतमाल के पास है.चिंतामन गणेश की पूजा उज्जैन में भी होती है.खजराना गणेश का मंदिर जो की इंदौर में है भी बहुत प्रसिद्द हो गया है इन दिनों. मयूरेश्वर गणेश जी की पूजा मोरेश्वर में होती है जो की पुणे के पास है. शिव गणेश की पूजा राजन गाँव में होती है जो की पुणे में है. पार्वती गणेश की पूजा सह्याद्री , पुणे में होती है. लक्ष विनायक की पूजा होती है जो की बेलौ…

52 Shaktipeeth Ke Bare Me Janiye

५२ शक्ति पीठ भारत में, कहाँ मौजूद है ५२ शक्तिपीठ, कौन सी देवी की पूजा होती है ५२ शक्तिपीठो में. 
भारत में शक्तिपीठो का बहुत महत्त्व है, रोज हजारो लोग शक्तिपीठो में साधना और दर्शन के लिए पहुँचते हैं. ऐसी मान्यता है भक्तो की कि शक्तिपीठो में दर्शन पूजन करने से माता की कृपा तुरंत प्राप्त होती है. महाशक्ति स्वयं शक्तिरूप में शक्तिपीठो में मौजूद है.  पुराणों के अनुसार शक्तिपीठो में माता के अंग गिरे थे इस कारण ये सब स्थान प्रसिद्द हो गए और शक्तिशाली भी.  आइये जानते हैं ५२ शक्तिपीठो के बारे में साथ ही वहां की अधिष्ठात्री देवी और स्थान के बारे में हिंगुला शक्तिपीठ – बिलोचिस्थान में है और यहाँ भैरवी की पूजा होती है. यहाँ पर माता के सर का उपरी हिस्सा ब्र्हम्रंध्र गिरा था.किरीट शक्तिपीठ – बटनगर – हावड़ा में और यहाँ भुवनेश्वरी देवी की पूजा होती है. नंदिपुर शक्तिपीठ सेंथिया –हावड़ा में जहाँ नंदिनी देवी की पूजा होती है. अट्टहास शक्तिपीठ लाभपुर अहमदपुर, बंगाल में जहाँ फुल्लारा देवी की पूजा होती है. वक्त्रेश्वर शक्तिपीठ – अंडाल, हावड़ा में जहाँ पर महिषमर्दिनी की पूजा होती है.नलहाटी शक्तिपीठ – नलहाटी हावड़ा…

Vastu Me Paintings Ka Prayog Kaise Kare

वास्तु के लिए कौन से चित्र शुभ होते हैं, आइये जानते हैं चित्रों का महत्त्व वास्तु में, कौन से पेंटिंग्स भाग्य को जगाता है, कैसे प्रयोग करे चित्रों का घर, ऑफिस आदि में ज्योतिष और वास्तु के नियमो के हिसाब से.
पेंटिंग्स, फोटो, मूर्तियाँ आदि हमारे जीवन में बहुत महत्त्व रखती हैं और हमारे घर, ऑफिस आदि का एक भाग है. अतः हमारे विद्वानों ने कुछ सिद्धांत बनाए हैं जिनके हिसाब से अगर पेंटिंग्स का प्रयोग वास्तु में किया जाए तो निश्चित ही बहुत अच्छे लाभ दीखते हैं. सही जगह पर लगाया गया पेंटिंग वास्तु में ऊर्जा को बढ़ाता है और सफलता के रास्ते खोलता है. 
पेंटिंगो को लगाने के लिए लोग अलग अलग मत देते हैं जैसे कुछ कहते हैं की उत्तर दिशा की और लगाना चाहिए, कुछ कहते हैं दक्षिण और कुछ कहते हैं पश्चिम आदि. परन्तु सही बात तो ये है की जरुरत और किस प्रकार का पेंटिंग है ये जानने के बाद ही दिशा निर्धारण होता है. विभिन्न प्रकार के चित्रों के लिए विभिन्न दिशा निर्धारित है. 
अतः अगर आप चित्रों को लगाने वाले है वास्तु में तो निम्न बातो का ध्यान रखे :
किस कारण से आप पेंटिंग लगाना चाहते हैं.
किस प्रकार का पेंटिंग आप लगा…

Janiye Dhan Prapti Ke Kuch Sanket, Shubh Shakun

 जानिए धन प्राप्ति के कुछ संकेत, जानिए कुछ शकुन जो बताते है की धन लाभ होने वाला है. 
हमारे समाज में शकुन और अपशकुन का बहुत महत्त्व है, हमे हमारे आस पास बहुत से लोग मिल जायेंगे जो की संकेतो को देख के ये बता देते है की समय शुभ है की नहीं. कुछ लोग ये बता देते हैं की भविष्य कैसा रहेगा.
हम समाज में रहते हैं और यहाँ कुछ न कुछ घटता रहता है, शकुन शास्त्र के हिसाब से हरेक घटनाएं कुछ न कुछ रहस्य अपने अंदर छुपाये रहता है. अतः लोगो की इन घटनाओं में आस्था है और विश्वास भी. इसी कारण कुछ शकुनो को देख के हम बहुत खुश हो जाते हैं कुछ को देखके भयभीत हो जाते हैं.
इस लेख में हम सिर्फ धन लाभ से जुड़े संकेतो को देखेंगे. ऐसे बहुत से संकेत है जिनको देखके हम ये जान सकते हैं की धन लाभ होने वाला है.
आइये जानते है कुछ शुभ शकुनो या संकेतो के बारे में जो हमे धन लाभ के बारे में बताते हैं : अगर आप कही जा रहे हैं और आपके सामने से नेवला रास्ता काट जाए तो ये एक शुभ शकुन हो जाता है, ये इस बात का संकेत है की कहीं से धन लाभ होने वाला है.अगर आप किसी धन सम्बन्धी कार्य के लिए जा रहे हो और ऐसे में गलती से आपकी जेब से कोई मुद्रा ग…

Angarak Yog Ke Prabhav Vibhinn Kundli Ke Vibhinn Bhavo Me

अंगारक योग का प्रभाव कुंडली के विभिन्न भावो में, कैसे निजात पाए अंगारक योग के दुष्प्रभाव से. 
अंगारक योग ज्योतिष के अंतर्गत एक समस्या उत्पन्न करने वाला योग है जो की जिसके कुंडली में होता है उसके जीवन में विपरीत प्रभाव उत्पन्न करता. जितनी जल्दी हो सके इसके परिहार के लिए कदम उठाना चाहिए अन्यथा कामकाजी और व्यक्तिगत जीवन दोनों ही प्रभावित होता है.
ज्योतिष संसार के इस लेख में हम जानेंगे की अलग कुंडली के अलग अलग भावो में अंगारक योग क्या प्रभाव उत्पन्न करता है.
वैदिक ज्योतिष के अनुसार कुंडली में मौजूद १२ भाव अलग अलग विषयो से जुड़े है इसी कारण किसी भी योग का प्रभाव में अलग अलग होता है. कुछ लोग दुर्घटना का शिकार होते हैं, कुछ लोगो को स्वास्थ्य हानी होती है, कुछ लोगो को आर्थिक तंगी का सामना करना होता है, कुछ लोगो को प्रेम में परेशानी आती है कुछ लोगो को संबंधो में समस्याओं का सामना करना होता है आदि. आइये जानते हैं की अंगारक योग का प्रभाव कुछ विशेष भावो के हिसाब से क्या हो सकता है जीवन में :अगर कुंडली के पहले भाव में अंगारक योग बने तो क्या होगा – कुंडली में पहला भाव दिमाग से सम्बन्ध रखता है, संब…

Surya Ka Makar Rashi Me Pravesh Ke Prabhav

Surya Ka Makar Rashi Me Pravesh Ke Prabhav, सूर्य के मकर राशी में प्रवेश के प्रभाव, क्या होगा बाजार पर असर सूर्य के मकर राशि में प्रवेश का.
जनवरी १५ को सूर्य मकर राशी में प्रवेश करेगा और इसका असर देश, दुनिया में होगा, कुछ अच्छे और कुछ बुरे प्रभाव दिखने को मिलेंगे.
ज्योतिष प्रेमी ये जरुर जानना चाहेंगे की सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने से जीवन में क्या बदलाव आ सकता है, देश पर क्या प्रभाव पड़ सकता है आदि.
वैदिक ज्योतिष के हिसाब से सूर्य मकर राशी में शत्रु का होता है अतः ऐसे में विद्वान् लोग सावधानी बरतते हैं जिससे ख़राब सूर्य का प्रभाव कम हो सके. इसी लिए मकर संक्रांति का बहुत महत्त्व है इस बारे में और अधिक जानने के लिए पढ़िए “क्या करे मकर संक्रांति में सफलता के लिए”.
सूर्य प्रतिक है प्रशासन, प्रबंधन, ज्ञान, नाम, शोहरत, पिता आदि अतः इन सब पर प्रभाव पड़ेगा जिसका असर देश और दुनिया में दिखाई देगा. 
निम्न बदलाव दिखलाई दे सकते हैं मकर राशि के सूर्य के कारण देश और दुनिया में : ये संभव है की लोग गलत निर्णय ले और इसके कारण लड़ाई झगड़े बढ़ जाएँ.जिन लोगो के कुंडली में ख़राब सूर्य है उनको बदनामी के योग ब…

Kaise Dur Kare Hospital Ke Vastu Dosho Ko

कैसे दूर करे हॉस्पिटल के वास्तु दोषों को, जानिए कुछ खास तरीके हॉस्पिटल को नकारात्मक ऊर्जाओं से बचाने के.
हम कितना भी ध्यान रखे पर १००% वास्तु के सिद्धांतो के हिसाब से निर्माण करना संभव नहीं होता है. कुछ न कुछ दोष तो बन ही जाता है जिसके कारण कुछ न कुछ परेशानियां उत्पन्न होती है.
परन्तु ऐसे में ज्यादा डरने की जरुरत नहीं है और साथ ही अगर क्लिनिक, हॉस्पिटल, नर्सिंग होम आदि में कोई वास्तु दोष रह गया हो.
अगर हॉस्पिटल में कार्यो में बहुत बाधा उत्पन्न हो रही हो, कर्मचारी संतुष्ट नहीं हो रहे हो सब व्यवस्थाओं के बावजूद, तो इसमें कोई शक नहीं की वहां पर कोई दोष है. ऐसे में ज्योतिष से परामर्श लेके उपाय करने से लाभ होता है.
अगर आपको लगता है की आपके हॉस्पिटल को काले जादू से खतरा है तो भी घबराने की जरुरत नहीं है, कुछ उपाय करके आप अपने को बचा सकते हैं.
हम सिद्ध यंत्रो का प्रयोग करके वास्तु दोष को दूर कर सकते हैं.
हम फेंगशुई के वस्तुओ का प्रयोग करके वास्तु दोष दूर कर सकते हैं.
हम घंटियों का प्रयोग करके नकारात्मक उर्जा को हटा सकते हैं.
हम कुछ पौधों का प्रयोग करके सकारात्मक उर्जा को बढ़ा सकते हैं.

Hospitals Ke Liye Vastu Tips

हॉस्पिटल्स, क्लिनिक, नर्सिंगहोम्स के लिए वास्तु टिप्स, फ्री में जानिए कैसे करे वास्तु दोषों को दूर हॉस्पिटल्स से ज्योतिष द्वारा. 
हॉस्पिटल्स ऐसी जगह है जहाँ लोग उपचार के लिए आते हैं, बीमारी से छुटकारे के लिए आते हैं, इसका अर्थ ये भी है की हॉस्पिटल्स, क्लीनिक आदि उपचार की जगहों को बहुत ज्यादा सकारात्मक उर्जा की जरुरत होती है. इसी कारण इन जगहों में साधारण से हटके कुछ ज्यादा इन्तेजाम किये जाते हैं जिससे हॉस्पिटल के मालिक, वहां काम करने वाले कर्मचारियों को और साथ ही मरीजो को भी ज्यादा से ज्यादा फायदा हो.
वास्तु और ज्योतिष के सिद्धांतो का स्तेमाल करके हॉस्पिटल, क्लिनिक, नर्सिंग होम्स आदि में सकारात्मक ऊर्जा के स्तर को बढ़ाया जा सकता है.
हॉस्पिटल्स में कई मुख्य जगह होती हैं जैसे रिसेप्शन , जनरल वार्ड, इमरजेंसी वार्ड, आई.सी.यू., ऑपरेशन थिएटर, वेटिंग रूम, ड्रेसिंग रूम आदि. अगर वास्तु और ज्योतिष का सहारा लिया जाए तो बिना परेशानी के हॉस्पिटल को चलाने में मदद मिलती है , इसमें कोई शक नहीं है.

आईये जानते हैं की वास्तु और ज्योतिष से आप क्या फायदा उठा पायेंगे : वास्तु और ज्योतिष के सिद्धांतो का प्रयोग …