Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2017

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Ghar Ki Daridrata Dur Karne Ke Jyotishiy Upaay

Daridrata nivaran upaay in hindi, kaise door kare ghar ki daridrata, Deepak se door kare daridrata, जानिए दरिद्रता दूर करने के प्रभावशाली टोटके और उपाय.
दरिद्रता से बड़ा कोई श्राप नहीं होता है , ऐसा व्यक्ति और परिवार जो भुगतता है वो सिर्फ वही जान सकता है. दरिद्रता से व्यक्तिगत जीवन बुरी तरह से प्रभावित होता है, सामाजिक जीवन भी नष्ट हो जाता है. जीवन नरक जैसा लगने लगता है. दरिद्रता से निकलना अति आवश्यक है, अगर कोई इससे निकल नहीं निकल पाता तो अवसाद से ग्रस्त हो जाता है और जीवन ज्यादा ख़राब हो जाता है जिसका परिणाम पुरे परिवार को भोगना होता है.  अगर दरिद्रता से परेशान है आप तो पढ़िए ये ज्योतिषीय लेख.जानिए दरिद्रता नाश के कुछ सरल उपाय. जानिए कैसे हम भाग्य को जगा सकते हैं. जानिए कैसे सफलता के रास्ते खोले जा सकते हैं.  जानिए कुछ ख़ास प्रयोग दरिद्रता नाश के लिए :घर से दरिद्र को दूर करने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी होता है घर को और घर के आस पास को साफ़ रखना. इससे लक्ष्मी आने की संभावनाए बढ़ने लगती है. घर के मंदिर में रोज धुप दीप और भोग लग्न चाहिए और फिर उस भोग को परिवार के सभी लोग मिल के खा ले, इससे परि…

Chaitra Navratri || चैत्र नवरात्री

जैसा की हम सब जानते है की नवरात्री के 9 दिन बहुत महत्त्वपूर्ण होते हैं, साधना के लिए, मनोकामना पूर्ण करने के लिए, पूजा पाठ करने के लिए. हालांकि साल के सभी नवरात्री महत्त्वपूर्ण और शक्तिशाली होते है परन्तु २०१८ की नवरात्री ख़ास है क्यूंकि इस बार चैत्र नवरात्री रविवार से शुरू होकर रविवार को ही ख़त्म हो रही है. और इस बार नवरात्री ८ दिनों की ही है. अगर कोई अपनी मनोकामना पूर्ण करना चाहते है तो उन्हें जरुर माताजी की साधना करना चाहिए इन ८ दिनों मे.
चैत्र महिना हिन्दू पंचांग के हिसाब से पहला महिना होता है इसिलिये भी बहुत महत्त्वपूर्ण है. चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को नवरात्री का पहला दिन होता है. ये दिन गुडी पडवा और चेटी चंड के रूप मे भी मनाया जाता है. चैत्र नवरात्री का नौवा दिन राम नवमी के रूप मे भी मनाया जाता है.  ये गर्मियों के दिन की शुरुआत का संकेत भी है अतः हमे साधना द्वारा शक्ति हासिल करना चाहिए जिससे की हम बदलते हुए वातावरण को पचा सके और स्वस्थ रह सके.  नवरात्री के 9 दिन भक्त देवी के अलग अलग रूपों की पूजा करते है.  आइये अब जानते है की इस चैत्र नवरात्री के दौरान कौन कौन से मु…

Online Jyotish Help In Hindi

ऑनलाइन ज्योतिष हेल्प/online jyotish help Are you searching for online jyotish help in hindi then here is one of the best online jyotish from India.
Do you want to know about your planets?Are you eager to know about how the new financial year will be?Do you want to know about your love life through online jyotish then do consult now.If you want to know about your marriage then do contact jyotish now.If you want to know about your job then don’t hesitate to ask.If you want to know about your health then also send your queries. Our life is changing regularly as per the changes in planetary positions; if we know something about stars then it is helpful to take some big decisions in life.
Predictions also make us mentally prepare for coming happenings in life.
Visit WWW.JYOTISHSANSAR.COM and send email as per guidelines given in “Contact Us Page”.

अगर आप ऑनलाइन ज्योतिष सेवा लेना चाहते हैं विश्वसनीय जगह से तो निश्चिंत हो जाईये क्यूंकि ज्योतिष संसार के द्वारा आप प्राप्त कर सकते हैं सटीक भविष…

Prem Mai Safalta Ke Liye Kaun Si Pooja Kare?

प्रेम मे सफलता के लिए कौन सी पूजा करे, ज्योतिष के अनुसार कैसे बनाए प्रेम जीवन को सफल.

वास्तविक प्रेम को पाने की कसक सभी के अन्दर रहती है और इसिलिये हर कोई प्रयास करता है की उसे जीवन मे प्रेम मिले. कुंडली को देखने से प्रेम जीवन के बारे मे पता किया जा सकता है. कुछ लोग बहुत भाग्यशाली होते है क्यूंकि उनको बहुत आसानी से प्रेम करने वाला साथी मिल जाता है परन्तु कुछ लोग के बहुत कोशिश करने पर भी उन्हें कुछ हाथ नहीं लगता है और धोखा खा जाते हैं.
वास्तविक प्रेम सिर्फ विपरीत लिंग से ही सम्बंधित नहीं होता है अपितु इसका सम्बन्ध होता है माता पिता से , दोस्तों से, बहन –भाइयों से, पदोसियोसे आदि. 
इसमे कोई शक नहीं की कामदेव और रति देवी का सम्बन्ध प्रेम और काम से है परन्तु ये भी सच है की सिर्फ इन्ही की पूजा से जीवन मे प्रेम आएगा ऐसा नहीं है. ऐसी बहुत सी पूजाए हो सकती है जिनसे की जीवन को सफल बनाया जा सकता है. ज्योतिष और प्रेम जीवन: ज्योतिष होने के कारण मुझे रोज कॉल्स और email प्राप्त होते है जिसमे लोग ये पूछते है की प्रेम जीवन को सफल बनाने के लिए कौन सी पूजा करे तो ये बताना चाहूँगा की ज्योतिष मे कोई भी स…

Guru Pushya Ka Mahattw Hindi Mai

नक्षत्रो मे एक ऐसा नक्षत्र है जो की भाग्य वर्धक है, सौभाग्य जगाता है, धन , वैभव, सम्पन्नता लाता है. इस नक्षत्र का नाम है पुष्य नक्षत्र. जब पुष्य नक्षत्र गुरुवार या वीरवार को आता है तो उस दिन को कहते हैं “गुरु पुष्य योग”.  स्वास्थ्य || सम्पन्नता ||धन|| सफलता

गुरु पुष्य का योग सभी के लिए बहुत महत्त्व रखता है क्यूंकि इस दिन साधक अध्यात्मिक अभ्यास कर सकते हैं, तांत्रिक अपनी तांत्रिक अनुष्ठान कर सकते हैं, गृहस्थ लोग भी सम्पन्नता के लिए पूजा पाठ, टोटके आदि कर सकते हैं. जब गुरु पुष्य योग शुक्ल पक्ष मे आये तो महत्त्व और अधिक बढ़ जाता है.
आइये जानते हैं पुष्य नक्षत्र के बारे मे कुछ ख़ास बाते :२७ नक्षत्रो मे पुष्य का स्थान आठवां है. इसका स्वामी शनि ग्रह है.इस दिन महत्त्वपूर्ण कार्यो को किया जाता है जैसे रत्न धारण करना, सिद्ध यन्त्र स्थापित करना, मंत्रो को जाग्रत करना, नये कार्यो को शुरू करना आदि. पुष्य नक्षत्र शक्ति, भाग्य, पवित्रता का सूचक है. इच्छाओ को पूरा करने हेतु प्रयोगों के लिए गुरु पुष्य सबसे अच्छा दिन होता है. ऐसी भी मान्यता है की महालक्ष्मी इसी नक्षत्र को जन्मी थी. इस दिन विवाह का महुरत…