Skip to main content

Posts

Showing posts from April, 2015

Jyoitish Sewaye Online || ज्योतिष सेवा ऑनलाइन

Jyotish in Hindi, कुंडली का अध्ययन हिंदी में, ज्योतिष से संपर्क के लिए यहाँ क्लिक करे>> , .
ज्योतिष सेवा ऑनलाइन: एक अच्छा ज्योतिष कुंडली को देखके जातक का मार्गदर्शन कर सकता है. कुंडली मे ग्रह विभिन्न भावों मे बैठे रहते हैं और जातक के जीवन मे प्रभाव उत्पन्न करते हैं. अगर कोई व्यक्ति जीवन मे  समस्या से ग्रस्त है तो इसका मतलब है की उसके जीवन इस समय बुरे ग्रहों का प्रभाव चल रहा है और यदि कोई व्यक्ति सफलता प्राप्त कर रहा है तो इसका मतलब है की इस समय उसके जीवन मे शुभ ग्रहों का प्रभाव है.  विभिन्न ग्रहों की दशा-अन्तर्दशा मे व्यक्ति अलग अलग प्रकार के प्रभावों से गुजरता है जिसके बारे एक अच्छा ज्योतिष जानकारी दे सकता है.  ग्रहों का असर व्यक्ति के कामकाजी जीवन पर पड़ता है.
ग्रहों का असर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन पर पड़ता है.
सितारों का असर व्यक्ति के सामाजिक जीवन पर पड़ता है.
व्यक्ति के पढ़ाई –लिखाई , वैवाहिक जीवन, प्रेम जीवन, स्वास्थ्य आदि पर ग्रह – सितारों का असर पूरा पड़ता है.  आप “www.jyotishsansar.com” माध्यम से पा सकते हैं कुछ ख़ास ज्योतिषीय सेवाए ऑनलाइन :जानिए क्या कहती है आपकी कुंडली आ…

Mohini Ekadashi Ka Mahatwa In Hindi

Mohini Ekadashi ka mahatwa in hindi, मोहिनी एकादशी का महत्तव hindi में , कैसे करें आसान उपवास इस दिन, कैसे करे विष्णुजी को प्रसन्न.
एक महत्वपूर्ण दिन जो की पड़ता है वैशाख शुक्ल पक्ष के ग्यारस के दिन वो है “मोहिनी एकादशी”. भगवान् विष्णु के भक्त इस दिन व्रत/उपवास करते हैं भगवान् को प्रसन्न करने के लिए और जीवन को निष्कंटक करने के लिए. 
मोहिनी एकादशी एक पवित्र दिन है जीवन की समस्याओं से बहार आने के लिए, ये रहस्य कृष्ण जी के द्वारा युधिस्ठीर जी को बताया गया था पर उससे भी पहले गुरु वशिष्ठ द्वारा श्री राम को बताया गया था जब वो सीता मैया से बिछड़ कर दुखी थे. 
एकादशी के दिन की गई पूजा द्वारा हम दुखों से मुक्ति पा सकते हैं, पापो से मुक्ति पा सकते है, जीवन में आने वाले परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं श्री हरी की कृपा से. 
ऐसी मान्यता है की अगर कोई इस दिन उपवास करता है श्रद्धा और विश्वास से तो उसे शांति और सम्पन्नता की प्राप्ति होती है.
अगर कोई पुरे दिन उपवास नहीं कर सकता है तो उसे आधे दिन उपवास करना चाहिए परन्तु इस दिन चावल का प्रयोग कतई नहीं करना चाहिए. 
मोहिनी रूप भगवन विष्णु ने लिया था देवताओं…

Motapa Niyantran Ke Liye Acupressure

Motapa Niyantran Ke Liye Acupressure, मोटापा कैसे कम करे प्राकृतिक तरीके से, मोटापा को नियंत्रित  करने का आसान तरीका.
ज्यादा वजन कई गंभीर परेशानियाँ उत्पन्न कर देता है जीवन में, अधिक वजन के कारण हम स्वतंत्र होकर जीवन का आनंद नहीं ले पाते हैं. मोटापे के कारण नौकरी, व्यापार और व्यक्तिगत जीवन में भी कई परेशानियां होती है. अतः ये जरुरी है की इसे नियंत्रिक किया जाए. 
आज के दौर में आहार विशेषज्ञों, स्लिमिंग केन्द्रों के द्वारा कई प्रकार के कोर्सेज करवाए जाते हैं जिसके द्वारा वजन कम किया जाता है और लोग इनका लाभ ले रहे हैं परन्तु इस लेख में आपको में ये बताने जा रहा हूँ की किस प्रकार से शारीर में मौजूद कुछ बिन्दुओं को दबाकर शारीर को स्वस्थ रखा जा सकता है. इस उपचार पद्धति का प्रयोग कोई भी बहुत आसानी से कर सकता है और वो भी स्वयं बिलकुल मुफ्त, free. आगे बढ़ने से पहले चलिए पहले जान लेते हैं कुछ महत्वपूर्ण बातें जिसके बाद आप को उपचार करना आसान हो जाएगा. spleen क्या होता है ? हिंदी में इसे हम तिल्ली या फिर प्लीहा के नाम से जानते हैं ये शारीर के अन्दर मौजूद एक महत्वपूर्ण अंग है जो की जिगर और गुर्दे के …

Lehsuniya Rana Rahasya In Hindi

Lehsuniya Rana Rahasya In Hindi, लहसुनिया धारण करने के लाभ, कैसे ख़रीदे और प्रयोग करे केतु के रत्न का सफलता प्राप्त करने के लिए, ज्योतिषीय मार्गदर्शन. 
क्या आप जानना चाहते हैं ऐसे रत्न के बारे में जो की आपको बचा सकता है बुरी नजरों से, बुरी शक्तियों से, दे सकता है अचानक लाभ तो पढ़े ये लेख. जानिए एक शक्तिशाली रत्न के बारे में जो की खोल सकता है सफलता के रास्ते आपके लिए. दे सकता है आंतरिक शक्ति जीवन जीने के लिए. 
ये रत्न है लहसुनिया , इसे अंग्रेजी में cats eye भी कहते है क्यूंकि दिखने में ये बिल्ली की आँख की तरह लगता है. इसे cymophane भी कहते हैं. 
केतु का रत्न होने से लहसुनिया में बहुत सी खूबियाँ है और इसके लाभ भी बहुत है. बहुत सी परेशानियों से ये हमे बचा सकता है.
केतु की कृपा प्राप्त करने हेतु इस रत्न का स्तेमाल किया जा सकता है. जीवन में अचानक मुसीबत का कारण केतु हो सकता है, नकारात्मक उर्जाओं से परेशानी का कारण केतु हो सकता है अतः कुंडली में केतु की स्थिति का ज्ञान होना चाहिए जिससे की सही कदम उठा के सफल जीवन जिया जा सके. 
कौन धारण कर सकता है केतु रत्न लहसुनिया? छाया ग्रह केतु की शक्ति को ब…

Heera Ratna Rahasya In Hindi

Heera Ratna Rahasya In Hindi, हीरा रत्न की शक्ति, क्या फायदे होते हैं हीरा धारण करने के, किन बातो का ध्यान रखे इसे खरीदने और पहनने से पहले.
जब हम बात करते हैं शुक्र से सम्बंधित रत्न का तो हीरे की छवि हमारे मानस पटल पर उभर कर आ जाती है, जब हम बात करते हैं जबसे मजबूत किसी रत्न का तब भी हीरा हमारे दिमाग में आता है, अंग्रेजी में इसे DIAMOND कहते हैं. 
ये मिनरल की श्रेणी में आता है और कार्बन का allotrop है. सबसे कीमती रत्नों में हीरा आता है और अपने सुन्दरता और जबरदस्त प्रभाव उत्पन्न करने वाले गुण के कारण लोगो को बहुत प्रिय है. ज्योतिष में शुक्र ग्रह की शक्ति को बढ़ाने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है. यही नहीं आभूषण की सुदरता बढ़ाने के लिए भी इसका प्रयोग बहुत ज्यादा होता है. 
कौन प्रयोग कर सकते हैं हीरा ? शुक्र से सम्बन्ध होने के कारण ये रत्न वृषभ और तुला राशि वालो के लिए राशी रत्न है और साथ ही शुक्र से सम्बंधित कम करने वालो के लिए भी लाभदायक हो सकता है.  कलाकार, पति पत्नी, अभिनेता, अभिनेत्रियों के लिए भी ये एक कारगर रत्न साबित हो सकता है. आन्तरिक अंगो की शक्ति को बढ़ने के लिए भी इस रत्न का उपय…

Pila Pukhraaj Ratna Rahasya In Hindi

Pila Pukhraaj Ratna Rahasya In Hindi, पिला पुखराज की शक्ति, क्या लाभ है पुखराज धारण करने के, कैसे ख़रीदे पुखराज, कैसे धारण करे पुखराज.
जब हम ज्ञान की बात करते हैं, जब हम विद्वता की बात करते हैं जब हम अच्छी सलाह की बात करते हैं तो गुरु की हमे याद आती है. ज्योतिष में भी गुरु ग्रह सभी के लिए पूजनीय है क्यूंकि ये सात्विकता का प्रतिक है, ज्ञान का प्रतिक, शक्ति का प्रतिक है, सम्पन्नता का प्रतिक है. 
रत्नों में जो रत्न जुड़ा है गुरु ग्रह से वो है पिला पुखराज. ये रत्न धारण करने वाले के अन्दर भी गुरु ग्रह की शक्ति का विकास होता है. 
पुखराज बनता है एल्युमीनियम oxide और लोहे के कणों से मिलके बनता है. हीरे के बाद अगर कोई रत्न कठोर है तो वह है पुखराज. इसकी सुन्दरता और उर्जा देने की शक्ति अद्वितीय है. बहुत ही सुन्दर आभूषण भी बनाए जाते हैं पुखराज का प्रयोग करके. ये एक भाग्यवर्धक रत्न है.  किनको धारण करना चाहिए पुखराज ? चूँकि इसका सम्बन्ध ज्ञान, सम्पन्नता अदि से है अतः ये अध्यापकों, सलाहकारों, व्यापारियों के लिए शुभ हो सकता है परन्तु कुंडली को दिख्वाके के धारण करना चाहिए.  धनु और मीन राशि वालो के लिए य…

Panna Ratna Rahasya in Hindi

Panna Ratna Rahasya in Hindi, पन्ना रत्न के लाभ, कैसे प्रयोग करे पन्ने का सुखी जीवन के लिए ज्योतिष के हिसाब से, कैसे धारण करे पन्ना रत्न.
एक ऐसा रत्न जो बनता है एल्युमीनियम के सिलिकेट से , बेरिल, क्रोमियम और वेनेडियम से. इसी के कारण इसका रंग हरा होता है. अंग्रेजी में इसे EMERALD कहते हैं, hindi में इसे पन्ना कहते हैं. 
वैदिक ज्योतिष के हिसाब से पन्ना बुध ग्रह से सम्बन्ध रखता है अतः बुध ग्रह की शक्ति को जीवन में बढ़ने के लिए इस रत्न का प्रयोग किया जाता है. ये एक कीमती रत्न है जो की मिथुन और कन्या राशि वालो के द्वारा बहुदा प्रयोग किया जाता है. 
इसकी सुन्दरता, पारदर्शिता, और उर्जा प्रदान करने की शक्ति के कारण इसका प्रयोग आभूषण बनाने में भी किया जाता है. 
पन्ना रत्न धारण करने के लाभ: चूँकि इसका सम्बन्ध बुध ग्रह से है जो की विद्वता, रचनात्मकता, दिमागी शक्ति और आंतरिक अंगो का भी प्रतिनिधित्व करता है अतः ये रत्न छात्र – छात्राओं के लिए भी अच्छा है, पेशेवरों के लिए भी अच्छा है, व्यापारियों के लिए भी अच्छा है. ये संबंधो को बढ़ाने में भी सक्षम है, सोच विचार की शक्ति बढ़ाता है, स्फूर्ति प्रदान करता …

Moonga Ratna Rahasya in Hindi

Moonga ratna rahasya in hindi,  मूंगा रत्न के फायदे, कैसे प्रयोग करे मूंगा का सफल जीवन के लिए, ज्योतिष परामर्श सही रत्न के लिए.
रत्न जो सम्बन्ध रखता है मंगल ग्रह से, वह है मूंगा. मूंगा को अंग्रेजी में CORAL  कहते हैं. मंगल ग्रह का सम्बन्ध शक्ति, सामर्थ्य, दया आदि से है. इसका सम्बन्ध वैवाहिक जीवन से भी बहुत गहरा है. 
मंगल के ख़राब होने की दशा में व्यक्ति को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना होता है जिसका सम्बन्ध स्वास्थ्य और संबंधो से होता है. अतः मंगल की स्थिति को कुंडली में देखना जरुरी होता है. सही उपायों को करने से कई बुरे प्रभावों को कम किया जा सकता है. 
मूंगा एक जैविक रत्न है और वैदिक ज्योतिष के हिसाब से इसका प्रयोग करके मंगल ग्रह की शक्ति प्राप्त की जा सकती है. जो व्यक्ति मूंगा पहनता है उसके अन्दर आत्मशक्ति का विकास होता है, साहस का विकास होता है, नेतृत्व क्षमता बढ़ता है. 
शुभ मंगल कुंडली में हो तो कई प्रकार की बिमारियों से रक्षा होती है, दुर्घटनाओं से रक्षा होती है, संबंधो में मधुरता बनी रहती है. 
अगर एक अच्छा मूंगा खरीद कर उसे मंत्रो से अभिमंत्रित कर लिया जाए तो वो कवच के रूप…

Moti Ratna Rahasya In Hindi

Moti ratna rahasya in hindi, मोती का महत्तव, मोती का प्रयोग कैसे करे सफलता के लिए, कैसे धारण करे मोती, रत्न रहस्य.
जब भी शांति प्राप्त करने के लिए रत्न की बात होती है, जब चन्द्रमा को बल देने के लिए बात होती है तो मोती नमक रत्न की बात दिमाग में आती है. मोती को अंग्रेजी में PEARL कहते हैं जो की चन्द्रमा का प्रतिनिधित्व करता है ज्योतिष के हिसाब से.  माता का सम्बन्ध भी चन्द्रमा से होता है अतः माता से संबंधो को सुधरने के लिए भी इस रत्न का प्रयोग होता है. मोती का प्रयोग दशको से स्वास्थ्य, सम्पन्नता के लिए होता आया है. 
किस प्रकार के मोती का प्रयोग नहीं करना चाहिए? 1.अगर मोती में कही दरार दिखाई दे तो उसे प्रयोग न करे. 2.अगर उस पर किसी प्रकार के काले धब्बे हो तो उसे स्तेमाल ना करे. 3.खुरदुरा सतह वाला मोती भी शुभ नहीं है.  4.मोती पर रेखाए न हो.
किन बातो का ध्यान रखना चाहिए मोती धारण करने से पहले? 1.ज्योतिष से सलाह लेके सही वजन का मोती धारण करे. 2.सही धातु का स्तेमाल करे अंगूठी बनवाने में. 3.सही समय में इसे धारण करे. 4.धारण करने से पहले चन्द्र मंत्रो का जप करना चाहिए या फिर इसकी  सही पूजा करवा ले…

Manikya Ratna Rahasya in Hindi

Manikya Ratna Rahasya in Hindi, माणिक्य रत्न का महत्तव, कैसे करे माणिक का प्रयोग सफलता के लिए, किनके लिए उपयोगी है, माणिक्य के उप रत्न , कैसे धारण करे माणिक रत्न.
जब हम बात करते हैं रत्नों के राजा के बारे में, जब हम बात करते हैं सूर्य के रत्न के बारे में, जब हम चाहते हैं, मान, सम्मान, समाज में एक विशेष जगह तो माणिक्य का ध्यान हमारे दिमाग में जरुर आएगा. अंग्रेजी में माणिक को RUBY कहते हैं. 
ज्योतिष के हिसाब से माणिक रत्न सूर्य ग्रह से सम्बन्ध रखता है , इसका रंग गुलाबी सा होता है. रंगों में थोडा अंतर पाया जाता है कीमत और गुणवत्ता के आधार पर. इस रत्न का प्रयोग शारीर और दिमाग को ऊर्जा देने के लिए किया जाता है, ये  हमारे कल्पना शक्ति, दिमागी शक्ति, रचनात्मकता, नेतृत्व क्षमता आदि को बढ़ाता है. प्रबंध करने की क्षमता का भी विकास इसके द्वारा हो सकता है क्यूंकि ये सूर्य से सम्बन्ध रखता है. व्यक्ति को निर्णय क्षमता मिलती है, दूरदृष्टि मिलती है माणिक्य धारण करने से. 
माणिक्य की सरचना: ये एक मिनिरल है और मिश्रण है एल्युमीनियम ऑक्साइड और क्रोमियम का . 
कौन धारण कर सकता है माणिक्य रत्न को ? अगर आप अपने…