vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Love Life Aur Jyotish

प्रेम क्या है, प्रेम ज्योतिष द्वारा प्रेम समस्याओं का समाधान, किन बातो का ध्यान रखा जाता है प्रेमियों के कुंडली को देखने के समय.
प्रेम क्या है, प्रेम ज्योतिष द्वारा प्रेम समस्याओं का समाधान, किन बातो का ध्यान रखा जाता है प्रेमियों के कुंडली को देखने के समय.
love life aur jyotish

क्या है प्रेम?

प्रेम एक अहसास है जिसका वर्नान शब्दों में करना संभव नहीं हो पाता है, एक दिव्य अहसास है किसी ख़ास के लिए. जब हमे प्रेम होता है तो इसमे कोई शक नहीं की जीवन पूर्ण रूप से बदल जाता है. परन्तु ऐसे भी बहुत से लोग है जो की प्रेम की भावना को सामने वाले को कभी बता ही नहीं पाते हैं. इसका मुख्य कारण ग्रहों में कमजोरी भी हो सकता है.
ऐसे में प्रेम ज्योतिष जातक की मदद कर सकता है.
प्रेम जाती, धर्म, धन नहीं देखता, प्रेम तो हो जाता है अपने आप. प्रेम दो आत्माओं के बीच एक ख़ास प्रकार का सम्बन्ध होता है, प्रेमीयो को कुछ ऐसे अहसास होते है जो की दुसरो के लिए संभव नहीं, इसका वर्णन करना असंभव है.
प्रेम होने का कोई विशेष समय नहीं होता, इसका कोई विशेष उम्र नहीं होती, इसका कोई विशेष कारण भी नहीं होता है.
परन्तु कभी कभी गलतफहमी के कारण भी ब्रेकअप हो जाते हैं, कुछ लोग लम्बे समय तक प्रेम सम्बन्ध नहीं निभा पाते हैं, इसका कारण ख़राब ग्रह हो सकते हैं कुंडली में.
ऐसे में ज्योतिष ही जातक की मदद कर सकता है कुंडली को पूरी तरह से देखने के बाद.
जब प्रेम होता है तो लड़का और लड़की एक दुसरे के साथ जीवन जीने के लिए सपना देखने लगते हैं परन्तु कुछ प्रेमी दुर्भाग्यवश पूरा जीवन साथ में  नहीं रह पाते हैं.
ऐसे में ज्योतिष मदद कर सकता है कुंडली में ग्रहों की स्थिति को जान के.
प्रेम समस्याओं का समाधान के लिए कुंडली को विशेष तरीके से देखना होता है. ज्योतिष कुंडली को अच्छी तरह से देखने के बाद सही राय दे सकते हैं.

प्रेमीयो को कब ज्योतिष से संपर्क करना चाहिए:

  • अगर प्रेम जीवन में अनचाहा घटनाएं उत्पन्न होने लग जाएँ अचानक से तो ज्योतिष से मार्गदर्शन लेना चाहिए.
  • अगर किसी नकारात्मक ऊर्जा के कारण प्रेम जीवन ख़राब हो रहा हो तो ज्योतिष से तुरंत संपर्क करना चाहिए.
  • अगर प्रेमियों के बीच न चाहते हुए भी लड़ाई झगड़े होने लग जाएँ तो बिना कारण के तो ज्योतिष से संपर्क करना चाहिए.
ज्योतिष प्रेमियों के कुंडली को देखते हैं फिर समाधान निकालते हैं.
अतः घबराने की जरुरत नहीं है अगर आपके प्रेम जीवन में समस्या उत्पन्न हो रही है.
अभी ज्योतिष से संपर्क करे.

प्रेमियों के कुंडली देखने के दौरान ज्योतिष निम्न विषयो को देखते हैं -

  • लव लाइफ में किन ग्रहों के कारण परेशानी उत्पन्न हो रही है.
  • लव लाइफ में किस प्रकार के परेशानी उत्पन्न हो सकती है.
  • प्रेम विवाह के बाद किस प्रकार की समस्या उत्पन्न हो सकती है.
  •  प्रेम विवाह में किस प्रकार की समस्या उत्पन्न हो सकती है.
बहुत से प्रेमी आज ज्योतिष की सलाह लेके सुखी और संपन्न जीवन साथ में बिता रहे हैं.
प्रेमी लोग साधारणतः २ प्रकार की समस्या का सामना करते हैं –
प्रेम विवाह से पहले समयायें
प्रेम विवाह के बाद समस्याएं.
अतः कुंडली पढने के समय ज्योतिष इन दोनों विषयों को ध्यान में रखते हैं.

आइये और जानते हैं की किन बातो का ध्यान ज्योतिष को रखना चाहिए प्रेमियों की कुंडली को देखने के समय:

  1. प्रमियो की कुंडली एक दुसरे से मेल खा रही है की नहीं.
  2. दोनों के ग्रहों में मिलन हो रहा है की नहीं.
  3. दोनों की कुंडली में शक्तिशाली ग्रह कौन से है.
  4. प्रेमियों की कुंडली में कमजोर ग्रह कौन से हैं.
  5. कौन से ग्रह कुंडली में ख़राब है और प्रेम जीवन को बर्बाद कर रहे हैं.
  6. भाग्य शाली तारीख दोनों के लिए, भाग्यशाली रंग, जिससे प्रेम बढे.
समस्या का पता लगाने के बाद ज्योतिष समाधान भी निकालते है.
अतः ज्योतिष से परामर्श ले और अपने प्रेम जीवन को सुखी और सफल बनाएं.

और सम्बंधित लेख पढ़े:
प्रेम जीवन के ९ समस्याएं और ज्योतिष समाधान
प्रेम में सफलता ज्योतिष द्वारा
एक तरफ़ा प्रेम कही रोग तो नहीं
कैसे भरे जीवन में प्रेम ज्योतिष द्वारा
लव हारमोंस को जानिए 
Love Astrology By Love Astrologer
प्रेम विवाह समस्या समाधान ज्योतिष द्वारा 
 विवाह के बाद अनैतिक सम्बन्ध और ज्योतिष कारण

क्या ज्योतिष द्वारा खोया प्रेम पाया जा सकता है ?

प्रेम क्या है, प्रेम ज्योतिष द्वारा प्रेम समस्याओं का समाधान, किन बातो का ध्यान रखा जाता है प्रेमियों के कुंडली को देखने के समय.

No comments:

Post a Comment