vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Ashubh Guru Ke Upaay Jyotish Me

अशुभ गुरु के उपाय, जानिए कुछ आसान उपाय गुरु के दुष्प्रभाव को कम करने के, कैसे पायें गुरु की कृपा.
अशुभ गुरु के उपाय, जानिए कुछ आसान उपाय गुरु के दुष्प्रभाव को कम करने के, कैसे पायें गुरु की कृपा.
ashubh Guru ke upay

गुरु के उपाय जानने से पहले आइये जानते हैं की ख़राब गुरु और कमजोर गुरु में क्या अंतर है. अशुभ गुरु मतलब है की गुरु शत्रु राशि में बैठा है परन्तु कमजोर गुरु शुभ और अशुभ दोनों हो सकता है.इस लेख में हम सिर्फ अशुभ गुरु के उपाय ही देखने वाले है. कमजोर और दूषित गुरु के उपाय अलग अलग होते हैं अतः भ्रमित नहीं होना चाहिए.गुरु हमारे जीवन में बहुत महत्त्व रखता है और वैदिक ज्योतिष के हिसाब से गुरु बुद्धिमत्ता, पढ़ाई की शक्ति, धर्म, बैंकिंग, ज्ञान अर्जित करने की शक्ति, दुसरो को प्रभावित करने की शक्ति आदि से सम्बन्ध रखता है.अगर कुंडली में गुरु शुभ है तो जातक को सफल और आनंदायक जीवन की प्राप्ति बहुत ही आसानी से हो जाती है. वही दूषित गुरु अनेको समस्याएं उत्पन्न करता है जीवन में.

आइये जानते हैं की किस प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो सकती है ख़राब गुरु के कारण:

  • अशुभ गुरु के कारण जातक को पढ़ाई में परेशानी आ सकती है.
  • अशुभ गुरु जातक को नास्तिक बना सकता है.
  • जातक के सम्बन्ध गुरु जानो से बिगड़ जाते हैं.
  • जातक को धन – संपत्ति इकठ्ठा करने में परेशानी आती है.
  • जातक दुसरो पर प्रभाव नहीं जमा पाता है.
  • जातक का लीवर भी कमजोर हो सकता है.
समस्या कितनी गंभीर और किस प्रकार की होगी, ये इस बात पर निर्भर करेगा की गुरु की स्थिति कुंडली में कैसी है.
अगर गुरु के कारण जीवन समस्या से ग्रस्त हो गया है तो अच्छे ज्योतिष से परामर्श ले के सही उपाय को अपनाना चाहिए.

आइये जानते हैं कुछ आसान उपाय अशुभ गुरु के प्रभाव को कम करने के लिए:

  1. गुरु शांति पूजा एक अच्छा तरीका है गुरु के दुष्प्रभाव को कम करने का.
  2. रोज गुरु के १०८ मंत्रो का कम से कम जप करे और अच्छे जीवन के लिए प्रार्थना करे.
  3. गुरुवार का व्रत करे और गुरु के चीजो का दान करे गुरुवार को.
  4. पुखराज धारण न करे अगर कुंडली में गुरु ख़राब है तो.
  5. किसी मंदिर में रोज जाएँ और ब्राह्मणों का आशीर्वाद ले.
  6. गुरुवार को मंदिर में केले का भोग लगाएं.
  7. गुरुवार को केले के पेड़ की पूजा करके दीपक लगाएं.
अतः अगर गुरु शुभ नहीं है कुंडली में तो घबराए न, ज्योतिष से संपर्क करे और सही उपाय प्राप्त करे.
ज्योतिष से सलाह के लिए नीचे क्लिक करे

और सम्बंधित लेख पढ़े:
 गुरुवार को सफल बनाने के टोटके
गुरु पुष्य का महत्त्व
पिला पुखराज का महत्त्व ज्योतिष में 

How to reduce ill effects of Jupiter?

अशुभ गुरु के उपाय, जानिए कुछ आसान उपाय गुरु के दुष्प्रभाव को कम करने के, कैसे पायें गुरु की कृपा.

No comments:

Post a Comment