vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Surya Ka Tula Rashi Mai Aane Se Kya Prabhav Hoga, सूर्य का तुला राशि में आने से प्रभाव

Surya Ka Tula Rashi Mai Aane Se Kya Prabhav Hoga, सूर्य का तुला राशि में आने से प्रभाव,  क्या करे सूर्य के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के लिए .
Surya Ka Tula Rashi Mai Aane Se Kya Prabhav Hoga, सूर्य का तुला राशि में आने से प्रभाव,  क्या करे सूर्य के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के लिए .
surya ke tula rashi mai aane ke prabhaav

16 अक्टूबर २०१६ को तुला संक्रांति है , इस दिन सूर्य तुला राशि में प्रवेश करेगा और नीच का हो जाएगा. नीच का सूर्य गंभीर परिणाम दे सकता है विशेष प्रकार से उन लोगो के लिए जिनके कुंडली में सूर्य शत्रु राशि का है या फिर नीच का है या फिर कमजोर है. 

सूर्य का सम्बन्ध, नाम, यश, पिताजी, उच्च वर्गीय अधिकारी, निर्णय लेने की क्षमता, सम्बन्ध आदि से होता है जिसके कारण इन सब पर प्रभाव पड़ेगा.

अगर किसी की कुंडली में पितृ दोष है, सूर्य नुक्सानदायक है  तो उन लोगो को ख़ास ख्याल रखना चाहिए. अपने दिमाग को नियंत्रण मे रखे साथ ही कोई भी बड़ा निर्णय न ले. किसी भी प्रकार की लड़ाई झगडे की स्थिति को टाले.


  • अगर आप व्यापारी है तो आपको चोकन्ने रहना चाहिए.
  • अगर आप share ट्रेडिंग करते हैं तो भी आपको सावधान रहना चाहिए अन्यथा बड़े हानि की आशंका है.
  • अगर आप नौकरी पेशा है तो आपको अपने सीनियर्स से ज्यादा संपर्क नहीं करना चाहिए, किसी भी प्रकार की वाद-विवाद की स्थिति को टाल दे.
  • अपने पिताजी का भी सेहत का ध्यान रखे.
  • शत्रु राशि का सूर्य पितृ दोष भी उत्पन्न करता है अतः ऐसी स्थिति में सूर्य शांति की पूजा लाभ दायक रहेगी.
सूर्य सभी ग्रहों का राजा है और किसी न किसी तरह से जीवन के हर पहलु पर इसका असर रहता ही है अतः सूर्य के नीच होने से जीवन में असर तो पडेगा ही. 

सूर्य के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के लिए क्या करना चाहिए ?
Surya Ka Tula Rashi Mai Aane Se Kya Prabhav Hoga, सूर्य का तुला राशि में आने से प्रभाव,  क्या करे सूर्य के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के लिए .

1.    ये अच्छा होगा की आप रोज अपने से बड़ो का आशीर्वाद लेके ही घर से निकले.
2.    रोज सूर्य को लाल पुष्पों के साथ जल का अर्ध्य दे.
3.    सूर्य शांति पूजा भी ऐसे में बहुत लाभदायक होगा.
4.    किसी भी प्रकार की ऐसी क्रियाओं में लिप्त न हो जिससे कोई गुमराह हो.
5.    ऐसे समय में कोई नया कार्य शुरू न करे , अगर जरुरी हो तो किसी अच्छा ज्योतिष से सलाह लेके ही कार्य करे.
6.    अपने पिताजी के स्वस्थ्य का ध्यान रखे.
7.    गाय को गुड और रोटी खिलाये.
8.    गेहू का दान करे , इससे भी शुभता रहेगी. 

और सूर्य से सम्बंधित लेख पढ़े :
Impact of sun in libra in English
सूर्य साधना का फल जानिए
सूर्य का वृश्चिक राशि में प्रभाव हिंदी में 

Surya Ka Tula Rashi Mai Aane Se Kya Prabhav Hoga, सूर्य का तुला राशि में आने से प्रभाव,  क्या करे सूर्य के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के लिए .

No comments:

Post a Comment

Indian Jyotish In Hindi