vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Pushya Yoga Diwali Se Pehle

Guru pushya yoga dewali se pehle in hindi, kya kare guru pusya main diwali se pehle, 2016 main dewali se pehle guru pusya ka vishesh mahatwa, pushya nakshatra in Hindi, kya fayede hain deepawali se pehle pusya amrit yoga ka. 
free details of pushya yoga 2016 before deepawali, kya kare guru pushya main
पुष्य नक्षत्र का लाभ दिवाली से पहले 

क्या है पुष्य योग?
पुष्य योग तब बनता है जब पुष्य नक्षत्र किसी दिन आ जाए. भारतीय ज्योतिष के हिसाब से इस दिन को बहुत शुभ माना गया है , इस दिन में किया गया कार्य भाग्य को बढ़ाता है, जीवन में शुभता लाता है.
दिवाली हर साल आती है और पुष्य नक्षत्र भी हर साल दिवाली से पहले आता है परन्तु सभी पुष्य योग लाभ दायक नहीं होते हैं , गुरु पुष्य , रवि पुष्य सौभाग्य से आता है. अतः इस दिन का लाभ जरुर उठाना चाहिए.

दिवाली अपने आप में बहुत प्रभावशाली दिन है और इससे पहले गुरु पुष्य या रवि पुष्य का आना एक बहुत सौभाग्य की बात है. गुरु पुष्य और रवि पुष्य को विद्यार्थी नई किताब खरीद सकते हैं, व्यापारी व्यापार में प्रयोग के लिए बही खाते या अन्य सामान खरीद सकते हैं, महिलाए स्वर्ण आभूषण खरीद सकते हैं, सौभाग्य रत्न ख़रीदा जा सकता है. इसी के साथ किसी औषधि को सिद्ध करने के लिए भी रवि पुष्य शुभ होता है.

इस दिन अलग से महूरत देखने की जरुरत नहीं होती है अतः कोई भी इस दिन का शुभ लाभ उठा सकता है.
2016  में रवि पुष्य का शुभ योग बन रहा है जो की सभी के लिए शुभता लाएगा.

क्या ख़ास है २०१६ के रवि पुष्य में जो दिवाली के पहले आ रहा है?


ये प्रश्न जरुर उठ रहा होगा मन में की आखिर इस बार गुरु पुष्य ज्यादा ख़ास क्यों है तो आपको बताना चाहेंगे की इस बार सूर्य अपने नीच राशि तुला में विद्यमान रहेगा जिससे की समय पूरी तरह से लाभ दायक तो नहीं रहेगा परन्तु फिर भी महत्त्व रखेगा. इस दिन का महत्तव और बढ़ जाता है. ये योग दिवाली से 7 दिन पहले बन रहा है अर्थात 23 october २०१६ को बन रहा है.

  • हम ज्ञान प्राप्ति हेतु साधना कर सकते हैं इस बार गुरु पुष्य को .
  • हम धन धान्य हेतु विशेष पूजाए कर सकते हैं, साधनाए कर सकते हैं.
  • सिद्ध श्री यन्त्र को स्थापित करने का बहुत अच्छा महूरत है.
  • अगर कोई कुछ नई विद्या सीखना चाहता है तो इस बार गुरु पुष्य का दिन बहुत शुभ है , इस दिन से शुरुआत की जा सकती है.
  • स्वर्ण आभूषण खरीदने का भी भू अच्छा दिन है.
  • इस दिन गुरु पूजा का भी विशेष महत्त्वा रहेगा.
रवि पुष्य और ज्योतिष :
अगर किसी के कुंडली में सूर्य खराब है, हानिकारक फल प्रदान कर रहा है, नीच का है तो सूर्य शांति पूजा करने का भी दिन अच्छा है. 
सूर्य के वस्तुओं का दान भी देना शुभता लाएगा. इस प्रकार सूर्य के हनिकारक प्रभाव को हम कम कर सकते हैं. 
अतः इस बार रविपुष्य योग में श्रद्धा और विश्वास से पूजाए करे और बनाए अपने जीवन को धन्य. 
jyotishsansar की और से सभी को बहुत शुभ कामनाये.

और सम्बंधित लेख पढ़े:
दिवाली तंत्र हिंदी में 
दिवाली पूजा कैसे करे 

Guru pushya yoga dewali se pehle in hindi, kya kare guru pusya main diwali se pehle, 2016 main dewali se pehle guru pusya ka vishesh mahatwa, pushya nakshatra in Hindi, kya fayede hain deepawali se pehle pusya amrit yoga ka. 

No comments:

Post a Comment

Indian Jyotish In Hindi