vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Kundli Milan Ka Satya Vivah Se Pehle

Kundli Milan Ka Satya Vivah Se Pehle, अष्टकूट मिलान का सत्य विवाह से पहले, क्या कुंडली न मिलने पर भी विवाह संभव है, क्या अपने प्रेमी से विवाह संभव है कुंडली न मिलने पर भी.
free hindi jyotish for kundli milaan
kundli milan aur jyotish

विवाह जीवन का एक महत्वपूर्ण निर्णय होता है, विवाह का निर्णय हमे अपने साथी के साथ जीवन भर रहने के मौका देता है और इसी सन्दर्भ में कुंडली मिलान होता है, वैदिक ज्योतिष के हिसाब से अष्टकूट मिलान का अंक अगर संतोषजनक नहीं है तो विवाह उपयुक्त नहीं जाता है. 

परन्तु एक कड़वा सच ये है की अधूरे ज्ञान के कारण भी हम अपने प्रिये से अलगाव सहन करते रहते हैं, ऐसे कई रिश्ते हैं जो की कुंडली मिलान में संतोषजनक अंक न मिलने के कारण टूट गए. कई प्रेमी जोड़ो को रिश्तो को तोड़ना पड़ा क्यूंकि विवाह के समय कुंडली नहीं मिले.

ये एक दुर्भाग्य की बात है की आज के दौर में हम सिर्फ सॉफ्टवेयर में मिलान करके जीवन का एक महत्वपूर्ण निर्णय ले लेते हैं. 

धयान रखने योग्य बात ये है की –
ज्योतिष के ऐसे बहुत से रहस्य है जो साधारणतः मालूम नहीं होते , सिर्फ अनुभवी ज्योतिष ही इस सम्बन्ध में आपको मार्गदर्शन दे सकते हैं.
कुंडली मिलान में संतोषजनक अंक न मिलने पर भी विवाह हो सकता है परन्तु ग्रहों की स्थिति को बारीकी से देखा जाता है फिर ये निर्णय लिया जाता है.
हर समस्या का कुछ समाधान होता है , धैर्य और विश्वास के साथ बढने पर रस्ते खुल जाते हैं.
दोषों का परिहार भी संभव है परन्तु सही मार्गदर्शन में क्रियाये करना जरुरी है.
हम लोगो को अक्सर ये कहते हुए सुनते हैं की लड़की बड़ी अच्छी थी पर गुण न मिलने के कारण रिश्ता छोड़ना पड़ा. इसी प्रकार लड़की वाले बोलते है की लड़का बड़ा अच्छा था पर कुंडली नहीं मिली.
मेरा कहना है की ऐसे ही मत छोड़िये अच्छा रिश्ता, ऐसे ही मत दुखाइये किसी का दिल, सिर्फ अहंकार के वशीभूत होके कोई निर्णय मत लीजिये. 
कई बार जिन्दगी सिर्फ एक अच्छा मौका देती है

आइये जानते है कुंडली मिलान के सत्य को विवाह से पहले:


ऐसे बहुत से जोड़े हैं जिनके गुण मिलन के अंक पुरे नहीं थे परन्तु आज वो एक अच्छा जीवन साथ में जी रहे हैं, ऐसे बहुत से जोड़े है जिनके गुण मिलान तो अच्छे थे परन्तु उनका रिश्ता तलाक तक पहुच गया. तो सिर्फ गुण मिलान ही काफी नहीं होता , लड़के और लड़की का अलग से कुंडली का विस्तार पूर्वक अध्ययन भी जरुरी होता है जिसमे बहुत कुछ पता चलता है की जीवन में आगे कैसा क्या रहेगा.
अच्छे रिश्ते को सिर्फ गुण मिलान न होने पर मत छोड़ दीजिये.
अपने प्रेम को सिर्फ अंको के आधार पर मत तोलिये. 
किसी के दिल को मत दुखाइये. हमारे संतो और विद्वानों ने प्राचीन समय में खोज करके बहुत कुछ पता लगाया था जिसमे समस्याओं का समाधान भी आता है. अपने इष्ट पर भरोसा करे, भगवान् पर भरोसा करे और प्रार्थना करे, कोई न कोई हल आपको मिलेगा जिससे आप अपने मनपसंद साथी के साथ जीवन यापन सुख पूर्वक कर पायेंगे.

कुंडली मिलान के दौरान बहुत सी बातों का ध्यान रखना पड़ता है:
1. अष्टकूट मिलान करना अच्छा होता है विवाह से पहले परन्तु सिर्फ इसके आधार पे निर्णय न ले.
2. शुक्र जो की व्यक्तिगत जीवन का करक है उसकी स्थिति देखे.
3. मांगलिक होने पर मंगल की शक्ति भी देखे, कई बार मांगलिक होने पर भी मंगल का बुरा असर नहीं पड़ता क्यूंकि मंगल बलहीन होता है.
4. संतान भाव की स्थिति और सम्बंधित ग्रहों का अध्ययन भी अलग से करें .
5. विवाह स्थान और सम्बंधित ग्रहों का अध्ययन करे.
6. कुंडली में मौजूद अच्छे योगो का अध्ययन भी करे.
7. दोनों की कुंडली में मौजूद बुरे योगों का अध्ययन भी करें और उसका समाधान निकाले.
8. लग्न की स्थिति का भी पूरा अध्ययन जरुरी है.
9. इसी के साथ चन्द्र कुंडली, नवमांश कुंडली आदि का अध्ययन भी जरुरी है.
अतः किसी भी निष्कर्ष पर ऐसे ही मत पहुचे, अच्छे रिश्तो को ऐसे ही मत छोड़ दीजिये.
याद रखे –
“ जहाँ चाह वहां राह होती है “
अगर आपको संशय है तो किसी अच्छे ज्योतिष से परामर्श जरुर ले फिर किसी नतीजे पर पहुचे.

Kundli Milan Ka Satya Vivah Se Pehle, अष्टकूट मिलान का सत्य विवाह से पहले, क्या कुंडली न मिलने पर भी विवाह संभव है, क्या अपने प्रेमी से विवाह संभव है कुंडली न मिलने पर भी.

No comments:

Post a Comment

Indian Jyotish In Hindi