vedic jyotish from India

हिंदी ज्योतिष ब्लॉग ज्योतिष संसार में आपका स्वागत है

पढ़िए ज्योतिष और सम्बंधित विषयों पर लेख और लीजिये परामर्श ऑनलाइन

Bhagyoday Hetu Navratri

Navdurgao ki puja se faayde, Navratri main siddhi kaise paaye, Navratri mai safaltaa ke upaay, kaise chamkaaye bhaagya ko, Jyotish aur navratri.
best tips in hindi for navratri by jyotish
navratri main bhagyoday

हर साल नवरात्री आती है पितृ पक्ष के बाद और दशहरा दिवाली से पहले. नवरात्रि से मतलब होता है 9 दिव्य रातें जिनमें कोई भी व्यक्ति मातारानी के नौ रूपों की पूजा करके अपनी मनोकामनाए पूरी कर सकता है. 
हर आध्यात्मिक विद्याओं के अभ्यास करने वाले साधक को इन रात्रियों का इन्तेजार होता है. क्यूंकि इन्ही दिनों मंत्रों को आसानी से जागृत किया जा सकता है, इन्ही दिनों माता को प्रसन्न किया जा सकता है, इन्ही दिनों कुछ परसहक्तियों को प्राप्त करने की साधना की जा सकती है. 

ये नवरात्रियाँ होती हैं शारीर और मस्तिष्क को शुद्ध करने के लिए. ये 9 दिन बहुत शक्तिशाली होते हैं, बहुत पवित्र होते हैं. नवरात्रियों में अभ्यास करके कुंडली के दोषों को भी कम किया जा सकता है, मातारानी की दिव्य कृपा भी पाई जा सकती है और अपने आपको शक्तिशाली बनाया जा सकता है. 

आज के इस युग में लोग अलग अलग प्रकार के समस्याओं से ग्रस्त हैं जिनका सम्बन्ध, स्वास्थ्य, समाज, व्यक्तिगत जीवन, प्रेम प्रसंग, नौकरी आदि से है. किसी का व्यापार नहीं चल रहा तो किसी का व्यापर उचित लाभ नहीं दे रहा है. किसी के पास धन नहीं और किसी के पास धन को उचित जगह लगाने के लिए रास्ता नहीं आदि. 

माँ दुर्गा के नौ रूप बहुत शक्तिशाली है और अपने भक्तो का कल्याण करने के लिए सदा तत्पर रहती है. ये शक्तियां युगों से भाग्क्तो का कल्याण कर रही है और लोग भी इनकी कृपा से सफल जीवन जी रहे हैं. 

कैसे प्राप्त करे 9 दुर्गाओं की कृपा नवरात्री में?

Navdurgao ki puja se faayde, Navratri main siddhi kaise paaye, Navratri mai safaltaa ke upaay, kaise chamkaaye bhaagya ko, Jyotish aur navratri.

ऐसे कई आसान तरीके हैं जिनके द्वारा कोई भी व्यक्ति माता की कृपा प्राप्त कर सकता है जैसे-
1. लगातार किसी भी मंत्र का जप करके कृपा को खींचा जा सकता है. 
2. दुर्गाशप्तशती का नियमित परायण निर्देशों के हिसाब से किया जाए तो तो माताजी की कृपा प्राप्त किया जा सकता है. 
3. लगातार हवन नवरात्रिओं में भी बहुत लाभदायक है.
4. सिद्ध यंत्रो की साधना भी बहुत लाभदायक है.
नवरात्रियों में कालाजादु का समाधान भी संभव है, ग्रह बाधा का निवारण भी होता है, सुख और सम्पन्नता भी प्राप्त करने के लिए साधनाए होती है, विवाह समस्या का समाधान भी होता है .

अतः अगर आप वास्तव में कुछ करना चाहते हैं तो इस नवरात्रि में अपने आपको खाली मत छोड़े, अच्छी साधना द्वारा आप अपना भाग्य बदल सकते हैं. 
इस बार ज्योतिष के हिसाब से अच्छे योग बने है जिसका फायदा हम सब उठा सकते हैं. 
आप लक्ष्मी साधना कर सकते हैं. 
सर्सस्वती साधना कर सकते हैं. 
माँ काली की पूजा आराधना कर सकते है.
प्राप्त करे शक्ति और बनाए अपने जीवन को सुगम, सरल और सफल.

और सम्बंधित लेख पढ़े :
Navdurgao ki puja se faayde, Navratri main siddhi kaise paaye, Navratri mai safaltaa ke upaay, kaise chamkaaye bhaagya ko, Jyotish aur navratri.

No comments:

Post a Comment

Indian Jyotish In Hindi